चंडीगढ़ समाचार

--Advertisement--

गर्लफ्रेंड से शादी करना चाहता था 3 बच्चों का पिता, भाई से करा दी तीनों की हत्या

बच्चों के शव मोरनी के जंगलों में 20 से 40 फुट गहरी खाई में मिले। तीनों के सिर पर पीछे से गोली मारी गई थी।

Dainik Bhaskar

Nov 22, 2017, 02:28 AM IST
fathers killed his 3 childrens for second marriage

पंचकूला. कुरुक्षेत्र के गांव सारसा से गायब हुए तीन भाई-बहनों के शव मंगलवार को पंचकूला में मोरनी के जंगलों में मिले। समर (4), सिमरन (8) और समीर (11) की गोली मारकर हत्या की गई है। पुलिस ने बताया कि तिहरे हत्याकांड को बच्चों के पिता के कहने पर उनके चाचा ने पैसों की खातिर इस वारदात को अंजाम दिया। प्लानिंग थी कि बच्चों के शव खाई में पड़े-पड़े सड़ जाएंगे। इसके बाद पत्नी को लापरवाह बताकर तलाक देगा और फिर अपनी गर्लफ्रेंड से शादी कर लेगा।

हत्या का पता कैसे चला?

- जांच के दौरान शक होने पर पुलिस ने सोहन और जगदीप की कॉल डिटेल और मोबाइल लोकेशन खंगाली। इसके बाद बच्चों की तलाश के बहाने जगदीप को गांव से बाहर ले जाकर सख्ती से पूछताछ की तो पूरे हत्याकांड का खुलासा हो गया। पुलिस ने तीनों बच्चों के शव सड़क किनारे खाइयों से निकाले। पुलिस ने जगदीप को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि सोहन को हिरासत में लेकर रखा है।

- सोहन ने ही अपने भाई जगदीप को यूपी से इंडियन मेड पिस्टल लाकर दी थी।

40 फीट की खाई में मिली समर की बॉडी

- सड़क से करीब 20 फीट की गहराई पर सिमरन, 30 फीट की गहराई पर समीर और 40 फीट की गहराई पर समर का शव झाड़ियों में फंसा था।

- इस दौरान, पुलिस के साथ सारसा गांव के 150 लोग और बच्चों के दादा जीता सिंह भी मौजूद थे। दादा ने जगदीप से कहा- "इन मासूमों की जिंदगी क्यों तबाह की। मैं तो बड़े ही प्यार से इन्हें रखता था।"

- बता दें कि जगदीप भी शादीशुदा है और उसका एक बच्चा है।

ऐसे हुआ पुलिस को शक


- बच्चों को तलाशते वक्त पिता और चाचा दोनों बार-बार साइड में जाकर बातें करते थे।
- पुलिस ने लोगों से पूछा कि किसी से दुश्मनी तो नहीं है। कहीं ये बच्चे किसी गलत आदमी के हाथ लग गए, तो क्या उनका मर्डर भी कर सकता है? इस पर सोहन बोला कि अगर कोई सबूत है तो दिखाओ, किसने मारा और क्यों मारा? मौजूद लोगों में से किसी ने बताया कि सोहन का संपर्क एक महिला से भी है। इस वजह से इसकी अपनी पत्नी से भी नहीं बनती है। इसके बाद पुलिस को इन पर शक होने लगा।

हत्यारे चाचा का कबूलनामा

- पुलिस जगदीप को वारदात स्थल पर ले गई। वहां पूछा कि उसने क्यों और किस तरह घटना को अंजाम दिया। पुलिस ने जब सख्ती की तो उसने सब कुछ बता दिया।

- "मेरे चचेरे भाई सोहन को फोटोग्राफी का शौक था। फोटोग्राफी के स्टूडियो में उसकी मुलाकात हिमाचल की एक महिला से हुई थी। दोनों एक-दूसरे से प्यार करने लगे। वे कई-कई दिन तक बाहर साथ भी रहे। दोनों शादी करना चाहते थे, लेकिन पत्नी और बच्चे बीच में रोड़ा थे।"
- "सोहन की पत्नी बीमार थी। कुछ दिन पहले उसका कान का ऑपरेशन करवाया था। सोहन ने प्लानिंग बनाई कि बच्चों का मर्डर करवाकर लाशों को ठिकाने लगवा देगा। बच्चों की देखरेख में लापरवाही बता पत्नी को घर से निकाल देगा। इसके बाद तलाक लेकर हिमाचल की महिला से शादी कर लेगा। गांव में जमीन अच्छी है। इसमें से कुछ बेच देगा। कुछ रुपए मुझे देकर बाकी रुपयों से गांव को छोड़कर बाहर रहने का इंतजाम कर लेगा।"
- "सोहन ने मुझे प्लान बताया और रुपयों का लालच देकर मुझे इसमें शामिल कर लिया। उसने उत्तर प्रदेश से इंडियन मेड पिस्टल लाकर दी। मैं लालच में गया। मैंने प्लानिंग के तहत रविवार को बच्चों को स्विफ्ट गाड़ी में बिठाया और कहा कि कुरुक्षेत्र में गीता जयंती का मेला देखते हैं। वहां पहुंचकर बोला कि पहाड़ देखने चलते हैं। इसके बाद मैं बच्चों को पंचकूला के मोरनी में ले गया।"
- "मैंने गाड़ी का म्यूजिक तेज कर दिया। शीशे और दरवाजे बंद कर दिए। इसके बाद एक-एक बच्चे को बाहर बुलाया और पहाड़ी की ओर देखने को कहा। इसके बाद पीठ में गोली मारकर खाई में धक्का देता रहा।"

बाएं से समर (4), समीर 11 और सिमरन (8)। बाएं से समर (4), समीर 11 और सिमरन (8)।
आरोपी चाचा जगदीप समर, सिमरन और समीर को मेला ले जाने के बहाने घर बाहर ले गया था। आरोपी चाचा जगदीप समर, सिमरन और समीर को मेला ले जाने के बहाने घर बाहर ले गया था।
खाई से लाशों को निकालने के लिए पुलिस को काफी मश्क्कत करनी पड़ी। रस्सी के सहारे नीचे उतरना पड़ा। खाई से लाशों को निकालने के लिए पुलिस को काफी मश्क्कत करनी पड़ी। रस्सी के सहारे नीचे उतरना पड़ा।
जगदीप बच्चों को गांव से स्विफ्ट से मोरनी मेला घुमाने के बहाने ले गया। जगदीप बच्चों को गांव से स्विफ्ट से मोरनी मेला घुमाने के बहाने ले गया।
8 साल की सिमरन। 8 साल की सिमरन।
4 साल का समर। 4 साल का समर।
11 साल का समीर। 11 साल का समीर।
आरोपी चाचा जगदीप। आरोपी चाचा जगदीप।
इस पहाड़ पर स्थित खाई में मिली डेड बॉडी। इस पहाड़ पर स्थित खाई में मिली डेड बॉडी।
तीनों बच्चों के सिर में पीछे से गोली मारी गई थी। तीनों बच्चों के सिर में पीछे से गोली मारी गई थी।
X
fathers killed his 3 childrens for second marriage
बाएं से समर (4), समीर 11 और सिमरन (8)।बाएं से समर (4), समीर 11 और सिमरन (8)।
आरोपी चाचा जगदीप समर, सिमरन और समीर को मेला ले जाने के बहाने घर बाहर ले गया था।आरोपी चाचा जगदीप समर, सिमरन और समीर को मेला ले जाने के बहाने घर बाहर ले गया था।
खाई से लाशों को निकालने के लिए पुलिस को काफी मश्क्कत करनी पड़ी। रस्सी के सहारे नीचे उतरना पड़ा।खाई से लाशों को निकालने के लिए पुलिस को काफी मश्क्कत करनी पड़ी। रस्सी के सहारे नीचे उतरना पड़ा।
जगदीप बच्चों को गांव से स्विफ्ट से मोरनी मेला घुमाने के बहाने ले गया।जगदीप बच्चों को गांव से स्विफ्ट से मोरनी मेला घुमाने के बहाने ले गया।
8 साल की सिमरन।8 साल की सिमरन।
4 साल का समर।4 साल का समर।
11 साल का समीर।11 साल का समीर।
आरोपी चाचा जगदीप।आरोपी चाचा जगदीप।
इस पहाड़ पर स्थित खाई में मिली डेड बॉडी।इस पहाड़ पर स्थित खाई में मिली डेड बॉडी।
तीनों बच्चों के सिर में पीछे से गोली मारी गई थी।तीनों बच्चों के सिर में पीछे से गोली मारी गई थी।
Click to listen..