चंडीगढ़ समाचार

--Advertisement--

पीजी में रहने वाले लड़कों ने मारी थी गोली, अब जवानी कटेगी जेल में

कोर्ट की ओर से मामले में नामजद सभी 9 आरोपियों को उम्रकैद तथा 50-50 हजार रुपए की सजा सुनाई गई है।

Danik Bhaskar

Nov 23, 2017, 05:10 AM IST

मोहाली. एडवाेकेट अमरप्रीत मर्डर केस में करीब पौने पांच साल के बाद बुधवार को मोहाली कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया। कोर्ट की ओर से मामले में नामजद सभी 9 आरोपियों को उम्रकैद तथा 50-50 हजार रुपए की सजा सुनाई गई है। हत्या के आरोप में सुनील भनोट उर्फ छोटी, रजत शर्मा, विशाल, दीपक कौशल, धर्मेंद्र सिंह, कैविन सुशांत, ओंकार सिंह, सनवीर सिंह व जसविंदर को गिरफ्तार किया गया था। 2017 में तीन आरोपियों जसविंदर सिंह, सनवीर तथा ओंकार को हाईकोर्ट से जमानत मिल चुकी थी। लेकिन बुधवार को मामले की सुनवाई के चलते तीनों आरोपियों को कोर्ट में आने के बाद पुलिस ने सुबह ही अपनी कस्टडी में ले लिया था। उसके बाद कोर्ट ने तीनों को भी दोषी करार दे दिया। लंच के बाद कोर्ट ने सभी नौ आरोपियों को उम्रकैद की सजा सुनाई।


आरोपी सनबीर व ओंकार ने हाईकोर्ट में एक पेन ड्राइव पेश की थी। उन्होंने दिखाने की कोशिश की थी कि वारदात वाले दिन वह शहर में नहीं थे। लेकिन उस पेन ड्राइव को हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया था क्योंकि पेन ड्राइव में ऑरिजनल फुटेज नहीं थी।

27 फरवरी 2013 को फेज-3बी1 की एक कोठी में बतौर पेइंग गेस्ट (पीजी) रहने वाले युवकों ने कोठी न. 285 के एडवोकेट अमरप्रीत पर पार्किंग के मामूली विवाद को लेकर गोलियां दाग दी थी। पीजी में अपने दोस्त के पास आने वाले युवक एडवोकेट सेठी के घर के बाहर अपनी गाड़ियां पार्क करते थे। उन्हें वहां गाड़ी पार्क करने से रोकने पर दोनों पक्षों में झगड़ा हो गया था। इस पर आरोपी धर्मेंद्र सिंह व उसके साथी ने एडवोकेट पर गोलियां चलाईं और भाग गए थे। पुलिस ने छापेमारी कर दिल्ली, हैदराबाद तथा अन्य जगहों से आरोपियों को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया था।

इन धाराओं में सुनाई यह सजा...

- धारा 302 (हत्या करना) के तहत आरोपी धर्मेंद्र को उम्रकैद की सजा
- धारा 302, 149 (4 से ज्यादा व्यक्तियों द्वारा हमला करना) के तहत बाकी के आठ आरोपियों को उम्रकैद
- धारा 120बी (साजिश के तहत कत्ल) के तहत सभी 9 आरोपियों को उम्रकैद
- धारा 307 (कातिलाना हमला करना) के तहत आरोपी सुनील, रजत, विशाल व केविन को 7 साल सजा 20 हजार जुर्माना
- धारा 506 (धमकी में) सभी 9 आरोपियों को पांच साल की सजा
- आर्म्स एक्ट में धर्मेंद्र, केविन, रजत, सुनील, जसविंदर सिंह को तीन साल की सजा
Click to listen..