Hindi News »Union Territory »New Delhi »News» President Of France Emmanuel Macron And Wife Brigit Reach India, राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों, नरेंद्र मोदी, Will Also Visit Varanasi

द्विपक्षीय रिश्तों के लिए भारत-फ्रांस के लोगों को आपस में कनेक्ट होना होगा: मोदी, दोनों देशों में हुए 14 करार

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के साथ उनकी पत्नी ब्रिगिट भी भारत दौरे पर आई हैं।

Bhaskar News | Last Modified - Mar 10, 2018, 03:12 PM IST

  • द्विपक्षीय रिश्तों के लिए भारत-फ्रांस के लोगों को आपस में कनेक्ट होना होगा: मोदी, दोनों देशों में हुए 14 करार
    +7और स्लाइड देखें
    नरेंद्र मोदी और फ्रांस के प्रेसिडेंट मैक्रों ने साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

    नई दिल्ली.फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों और नरेंद्र मोदी के बीच शनिवार को राजधानी के हैदराबाद हाउस में द्विपक्षीय बातचीत हुई। इसके बाद दोनों नेताओं ने ज्वाइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस की। नरेंद्र मोदी ने कहा- "हमारी (इंडिया-फ्रांस) स्ट्रैटजिक पार्टनरशिप भले ही 20 साल पुरानी हो, लेकिन हमारे देशों और हमारी सभ्यताओं की आध्यात्मिक साझेदारी सदियों पुरानी है। भविष्य के द्विपक्षीय रिश्तों के लिए दोनों देशों के लोगों का आपस में कनेक्ट होना जरूरी है। इससे पहले सुबह मैक्रों को राष्ट्रपति भवन में नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की मौजूदगी में गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। फ्रांस के राष्ट्रपति पत्नी ब्रिगिट के साथ तीन दिन के दौरे पर भारत आए हैं।

    मोदी के स्पीच की अहम बातें

    1) हमारे रिश्ते का इतिहास बहुत पुराना है

    - नरेंद्र मोदी ने कहा- "यह संयोग मात्र नहीं है कि लिबर्टी, इक्वालिटी, फ्रैटर्निटी की गूंज फ्रांस में ही नहीं, भारत के संविधान में भी दर्ज हैं। दोनों देशों के समाज इन मूल्यों की नींव पर खड़े हैं। रक्षा, सुरक्षा, अंतरिक्ष और हाई टेक्नोलॉजी में भारत और फ्रांस के द्विपक्षीय सहयोग का इतिहास बहुत लम्बा है। दोनों देशों में द्विपक्षीय संबंधों के बारे में आपसी सहमति है। सरकार किसी की भी हो, हमारे संबंधों का ग्राफ सिर्फ और सिर्फ ऊंचा ही जाता है।"

    - "18वीं सदी से लेकर आज तक पंचतंत्र की कहानियों, महाभारत और रामायण के जरिए फ्रांसीसी विचारकों ने भारत को गहराई से समझा और जाना है। रोम्यां रोला, विक्टर ह्यूगो जैसे लोगों ने भारत का गहरा अध्ययन किया है।" इस दौरान दोनों देशों के बीच 14 सेक्टर में करार भी हुए।"

    2) हमारे युवा एक दूसरे को जानें

    - नरेंद्र मोदी ने कहा- "आज हमारी सेनाओं के बीच आपसी लॉजिस्टिक्स सपोर्ट के समझौते को मैं हमारे रक्षा सहयोग के इतिहास में एक स्वर्णिम कदम मानता हूं। हम मानते हैं कि हमारे द्विपक्षीय संबंधों के बेहतर भविष्य के लिए सबसे अहम आयाम है। हमारे रिलेशन लोगों से जुड़े हैं। हम चाहते हैं कि हमारे युवा एक दूसरे के देश को जानें, एक दूसरे के देश को देखें, समझें, काम करें, ताकि हमारे संबंधों के लिए हजारों राजदूत तैयार हों।"

    3) दो महत्वपूर्ण समझौते किए हैं हमने

    - नरेंद्र मोदी ने कहा- "आज हमने दो महत्वपूर्ण समझौते किये हैं, एक समझौता एक दूसरे की शिक्षा योग्यताओं को मान्यता देने का है, और दूसरा हमारी माइग्रेशन एंड मोबिलिटी पार्टनरशिप का है। ये दोनों समझौते हमारे देशवासियों के, हमारे युवाओं के बीच करीबी संबंधों का फ्रेमवर्क तैयार करेंगे।"

    दोनों देशों के बीच इन 14 सेक्टर में हुए करार


    1. ड्रग्स की तस्करी और उसकी रोकथाम
    2.माइग्रेशन और मोबिलिटी पार्टनरशिप
    3. एजुकेशन
    4. रेलवे में तकनीकी सहयोग बढ़ाना
    5. इंडो-फ्रांस रेलवे फोरम का गठन
    6.ऑर्म्ड फोर्स में लॉजिस्टिक सपोर्ट
    7. पर्यावरण
    8.अर्बन डेवलपमेंट
    9. गोपनीय जानकारी को तीसरे पक्ष को साझा नहीं करना
    10.मैरीटाइम अवयेरनेस मिशन
    11. न्यूक्लियर पावर में सहयोग
    12.हाइडोग्राफी और मैरीटाइम कार्टोग्राफी में सहयोग
    13. स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में सहयोग
    14.सोलर एनर्जी

    मोदी ने प्रोटोकॉल तोड़कर किया स्वागत

    - फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों शुक्रवार रात को नई दिल्ली पहुंचे थे। मोदी प्रोटोकॉल तोड़कर उन्हें रिसीव करने एयरपोर्ट गए। पीएम अपने संसदीय क्षेत्र बनारस में मैक्रों की भव्य खातिरदारी भी करेंगे। उन्हें नाव से गंगा की सैर कराएंगे और घाट दिखाएंगे। बता दें कि जापान के पीएम शिंजो आबे के बाद मैक्रों यहां जाने वाले दूसरे राष्ट्राध्यक्ष होंगे।

    तीन दिन के दौरे में क्या करेंगे मैक्रों?

    रविवार: अंतरराष्ट्रीय सौर गठबंधन समिट में जाएंगे

    - मैक्रों और मोदी अंतरराष्ट्रीय सोलर गठबंधन की पहली समिट का इनॉगरेशन करेंगे। इसकी थीम जलवायु परिवर्तन और पर्यावरण है। ये समिट राष्ट्रपति भवन में होगी। इसमें 21 देशों के राष्ट्राध्यक्ष और चार देशों के प्रधानमंत्रियों के अलावा 125 देशों के रिप्रेजेंटेटिव भी हिस्सा लेंगे।

    सोमवार: मिर्जापुर में सोलर प्लांट का इनॉगरेशन करेंगे

    - मैक्रों उत्तर प्रदेश में मिर्जापुर के दादर काला गांव में 75 मेगावाट के सोलर प्लांट का इनॉगरेशन करेंगे। वे बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी में बने पंडित दीनदयाल उपाध्याय हस्तकला संकुल का दौरा करेंगे। यहां हैंडीक्रॉफ्ट के सामानों का केंद्र है। मोदी ने पिछले साल इसे शुरू किया था।

    आगे की स्लाइड्स में पढ़ें... दोनों देशों के सीईओ के साथ होगी अहम बैठक

  • द्विपक्षीय रिश्तों के लिए भारत-फ्रांस के लोगों को आपस में कनेक्ट होना होगा: मोदी, दोनों देशों में हुए 14 करार
    +7और स्लाइड देखें
    नरेंद्र मोदी और प्रेसिडेंट मैक्रों की हैदराबाद हाउस में मुलाकात हुई।

    दोनों देशों के सीईओ के साथ होगी अहम बैठक

    फ्रांस स्कॉर्पीन सबमरीन की डील चाहता है

    - फ्रांस की मीडिया के मुताबिक, मैक्रों भारत को 100 से 150 रफाल एयरक्राफ्ट बेचना चाहते हैं। स्कॉर्पीन-क्लास की सबमरीन देने की भी मंशा है। इसलिए उनके साथ फ्रांस के टॉप डिफेंस फर्म के सीईओ आ रहे हैं। इसमें डसाल्ट एविएशन, नावेल, थेल्स जैसी कंपनियां शामिल हैं। 5वीं पीढ़ी के प्लेन बनाने पर भी करार हो सकता है।

    रियूनियन और जिबूती द्वीप पर हमें एंट्री मिल सकती है

    - भारत-फ्रांस के बीच लॉजिस्टिक क्षेत्र में करार हो सकता है। फ्रांस मेडागास्कर के पास स्थित रियूनियन आइलैंड और अफ्रीकी बंदरगाह जिबूती में भारतीय जहाज को एंट्री दे सकता है। इससे भारत का समुद्र के रास्ते होने वाला कारोबार मजबूत होगा। जिबूती में चीनी सैन्य बेस भी है। यानी यह स्ट्रैटेजिक रूप से अहम है।

    गणतंत्र दिवस में सबसे ज्यादा 5 फ्रांसीसी राष्ट्रपति रहे चीफ गेस्ट
    - भारत और फ्रांस के बीच द्विपक्षीय साझेदारी की शुरुआत 20 साल पहले शुरू हुई। गणतंत्र दिवस परेड पर अब तक पांच फ्रांसीसी राष्ट्रपति चीफ गेस्ट बने हैं।
    कारोबार:दोनों देशों के बीच 72 हजार करोड़़ रुपए का कारोबार है। फ्रांस, भारत में नौवां सबसे बड़ा फाॅरेन इन्वेस्टर है। 17 साल में 40 हजार करोड़ रुपए इन्वेस्ट किए हैं।

    भारत में 1000 से ज्यादा फ्रेंच कंपनियां, फ्रांस में 120 भारतीय कंपनियां
    - करीब 1000 फ्रेंच कंपनी भारत में है। करीब 120 भारतीय कंपनियों ने फ्रांस में निवेश कर रखा है। इन कंपनियों ने फ्रांस में 8500 करोड़ रुपए इन्वेस्ट किए हैं। फ्रांस में 7000 लोगों को नौकरी दी है। फ्रांस में भारतीय मूल के 1.1 लाख लोग रहते हैं। ये फ्रांसीसी कॉलोनी रही पुड्‌डुचेरी, कराईकल, माहे के हैं।

    2015 में पेरिस की सीन नदी में मोदी-ओलांद ने बोट पर चर्चा की थी

    - 2015 में जब मोदी फ्रांस गए थे, तब वहां के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने उन्हें सीन नदी की सैर कराई थी। इसी दौरान डिप्लोमैटिक चर्चा भी हुई थी। अब मोदी ठीक वैसे ही मैक्रों को गंगा की सैर कराएंगे। चर्चा करेंगे। इस तरह दोनों देशों में बोट डिप्लोमेसी का एक नया ट्रैंड देखने को मिल रहा है।

  • द्विपक्षीय रिश्तों के लिए भारत-फ्रांस के लोगों को आपस में कनेक्ट होना होगा: मोदी, दोनों देशों में हुए 14 करार
    +7और स्लाइड देखें
    प्रेसिडेंट मैक्रों का राष्ट्रपति भवन में स्वागत किया गया।
  • द्विपक्षीय रिश्तों के लिए भारत-फ्रांस के लोगों को आपस में कनेक्ट होना होगा: मोदी, दोनों देशों में हुए 14 करार
    +7और स्लाइड देखें
    फ्रांस के प्रेसिडेंट को राष्ट्रपति भवन में गाड ऑफ ऑर्नर दिया गया।
  • द्विपक्षीय रिश्तों के लिए भारत-फ्रांस के लोगों को आपस में कनेक्ट होना होगा: मोदी, दोनों देशों में हुए 14 करार
    +7और स्लाइड देखें
    एयरपोर्ट पर पीएम मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति ने मुलाकात के दौरान काफी गर्मजोशी दिखाई।
  • द्विपक्षीय रिश्तों के लिए भारत-फ्रांस के लोगों को आपस में कनेक्ट होना होगा: मोदी, दोनों देशों में हुए 14 करार
    +7और स्लाइड देखें
    फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों से गले मिले मोदी।
  • द्विपक्षीय रिश्तों के लिए भारत-फ्रांस के लोगों को आपस में कनेक्ट होना होगा: मोदी, दोनों देशों में हुए 14 करार
    +7और स्लाइड देखें
    राष्ट्रपति मैक्रों को रिसीव करने एयरपोर्ट पहुंचे मोदी।
  • द्विपक्षीय रिश्तों के लिए भारत-फ्रांस के लोगों को आपस में कनेक्ट होना होगा: मोदी, दोनों देशों में हुए 14 करार
    +7और स्लाइड देखें
    राष्ट्रपति मैक्रों और उनकी पत्नी ब्रिगिट का स्वागत करने दिल्ली एयरपोर्ट पर पहुंचे पीएम मोदी।
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Delhi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: President Of France Emmanuel Macron And Wife Brigit Reach India, राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों, नरेंद्र मोदी, Will Also Visit Varanasi
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×