Hindi News »Union Territory »New Delhi »News» Action Against Property Misuse

कोई चीख रहा था तो कोई गिड़गड़ा रहा था, ये देखिए-पुलिस की बर्बरता

विरोध कर रहे लोगों पर लाठीचार्ज, सुप्रीम कोर्ट ने यह करने को तो नहीं कहा था...

Bhaskar news | Last Modified - Mar 09, 2018, 07:26 AM IST

  • कोई चीख रहा था तो कोई गिड़गड़ा रहा था, ये देखिए-पुलिस की बर्बरता
    +7और स्लाइड देखें
    विरोध कर रहे लोगों पर लाठीचार्ज

    नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट के मास्टर प्लान के संशोधन प्रस्तावों पर स्टे देने के बाद गुरुवार को दिल्ली में मॉनिटरिंग कमेटी के आदेश पर सीलिंग की सबसे बड़ी कार्रवाई की गई। साउथ दिल्ली के लाजपत नगर इलाके में एक ही दिन में 350 दुकानें सील कर दी गईं। लोगों ने विरोध किया तो पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। इसमें कई लोगों को चोटें आईं। पुलिस ने महिलाओं को भी नहीं बख्शा। घटना का कवरेज कर रहे पत्रकारों से भी पुलिस ने हाथापाई और बदसलूकी की। उनके कैमरे छीन कर फोटो डिलीट कर दिए गए।

    सिर पर लगी पुलिस की लाठी, कारोबारी बेहोश

    - पुलिस के लाठी चार्ज में अमर कॉलोनी ए/7 डबल स्टोरी दुकानदार गौतम बवेजा गंभीर रूप से घायल हुए हैं।

    - बीच बचाव करने आए छोटे भाई अनिल बवेजा के हाथ में भी चोट आई। गौतम के भाई नवीन ने बताया कि पुलिस ने उनके सिर पर लाठी से हमला किया।

    - पुलिस के लाठी से गौतम को पास के ही मेट्रो अस्पताल ले जाया गया, लेकिन खून ज्यादा बहने से एम्स रेफर कर दिया गया। अनिल के हाथ पैरों में गंभीर चोटें आई हैं।

    महिला, पुरुष, पत्रकार किसी को नहीं छोड़ा

    -लाठी चार्ज के दौरान पुलिस ने महिलाओं को भी नहीं छोड़ा। सीलिंग का विरोध कर रही महिलाओं पर जमकर डंडे बसाए।

    -गौतम की बहू रिचा का कहना है कि लाठी चार्ज कमर से नीचे किया जाता है। कवरेज करने पहुंचे पत्रकारों से भी पुलिस ने हाथापाई और बदसलूकी की।

    - कई फोटोग्राफरों के कैमरे छीन लिए। फोटो तक डिलीट कर दिए। उन्हें घंटों थाने में बैठाए रखा। वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के हस्तक्षेप के बाद ही उन्हें थाने से छोड़ा गया।

    कोई तो रोको इन्हें

    -सीलिंग की कार्रवाई के दौरान एक महिला दुकान का सामान लेकर बाहर आ गई।

    - उनका कहना था कि न कोई सुन रहा है और न दुकान से सामान निकालने का समय दिया जा रहा है। पुलिस ने तो हद ही कर दी। आखिर कौन रोकेगा इन्हें...

    फोटो: विजय कुमार

  • कोई चीख रहा था तो कोई गिड़गड़ा रहा था, ये देखिए-पुलिस की बर्बरता
    +7और स्लाइड देखें
    सीलिंग की कार्रवाई के दौरान एक महिला दुकान का सामान लेकर बाहर आ गई।
  • कोई चीख रहा था तो कोई गिड़गड़ा रहा था, ये देखिए-पुलिस की बर्बरता
    +7और स्लाइड देखें
    पुलिस के लाठी चार्ज में अमर कॉलोनी ए/7 डबल स्टोरी दुकानदार गौतम बवेजा गंभीर रूप से घायल हुए हैं।
  • कोई चीख रहा था तो कोई गिड़गड़ा रहा था, ये देखिए-पुलिस की बर्बरता
    +7और स्लाइड देखें
    दौड़ा-दौड़ाकर पीटा...
  • कोई चीख रहा था तो कोई गिड़गड़ा रहा था, ये देखिए-पुलिस की बर्बरता
    +7और स्लाइड देखें
    जो सामने आया, उसे ही पीट दिया...
  • कोई चीख रहा था तो कोई गिड़गड़ा रहा था, ये देखिए-पुलिस की बर्बरता
    +7और स्लाइड देखें
    महिलाओं से भी की बदसलूकी...
  • कोई चीख रहा था तो कोई गिड़गड़ा रहा था, ये देखिए-पुलिस की बर्बरता
    +7और स्लाइड देखें
    सिर पर लगी पुलिस की लाठी, कारोबारी बेहोश
  • कोई चीख रहा था तो कोई गिड़गड़ा रहा था, ये देखिए-पुलिस की बर्बरता
    +7और स्लाइड देखें
    गर्दन पकड़कर सड़क पर घसीटते रहे...
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Delhi News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Action Against Property Misuse
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×