Hindi News »Union Territory »New Delhi »News» Death Case Of The Belgian Citizen In India

गुजरात में हुई थी बेल्जियम के इस नागरिक की मौत, बॉडी घर पहुंची तो एक जांच ने हर किसी को किया SHOCKED

बेल्जियम के 48 साल के नागरिक डैनी बैिल्शयस की 2 साल पहले गुजरात के जामनगर में रहस्यमय मौत हो गई।

मुकेश कौशिक | Last Modified - Mar 12, 2018, 08:14 AM IST

  • गुजरात में हुई थी बेल्जियम के इस नागरिक की मौत, बॉडी घर पहुंची तो एक जांच ने हर किसी को किया SHOCKED

    नई दिल्ली.बेल्जियम के 48 साल के नागरिक डैनी बैिल्शयस की 2 साल पहले गुजरात के जामनगर में रहस्यमय मौत हो गई। भारत में इसकी वजह हार्टअटैक बताई गई। लेकिन जब उनकी डेड बॉडी वापस बेल्जियम पहुंची और वहां औटॉप्सी हुई तो कुछ और ही मामला सामने आया। पता चला कि शरीर से कथित तौर पर हार्ट और किडनी गायब थे। यहां तक कि उन्हें जोड़ने वाली एड्रिनल ग्लैंड्स भी नहीं थीं। कई चोटों के निशान भी शरीर पर पाए गए थे। दो साल से पत्नी कर रही संघर्ष...


    - अब मामले की तह तक जाने के लिए उनकी पत्नी नैंसी वोन सान संघर्ष कर रही हैं। बेल्जियम में इसकी जांच चल रही है। बेल्जियम के डिटेक्टिव्स को भारत आने की अनुमति नहीं मिल पा रही है। बेल्जियम के अधिकारियों को गृह मंत्रालय ने गुजरात में ही संपर्क करने को कहा है। मामले की जांच कर रहे बेल्जियम के अधिकारी जानना चाहते हैं कि डैनी का मर्डर किया गया या उनकी मौत के बाद शरीर के अंगों को निकाल लिया गया।

    - दैनिक भास्कर के पास केस से जुड़े दस्तावेज मौजूद हैं। नैंसी से भी संपर्क साधा गया। हालांकि उन्होंने मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए जानकारी नहीं दी। उनके अटॉर्नी और मामले में रुचि ले रहे बेल्जियम के वरिष्ठ पत्रकार डिर्क लीस्टमैंस से भी लंबा कम्युनिकेशन चला। इसके आधार पर घटना के तार जुड़ते गए।

    ट्रेनिंग देते हुए अचानक तबीयत बिगड़ी, कुछ देर बाद ही मौत

    ट्रेिनंग देने गुजरात पहुंचे

    - एस्केलेटर टेक्नोलॉजी में माहिर डैनी 8 फरवरी, 2016 को एक भारतीय कंपनी में विंड टेक्नोलॉजी की ट्रेनिंग देने गुजरात आए थे और जामनगर के पास खंभालिया के एक होटल में ठहरे।
    सीने में दर्द, होटल लौटे
    - कंपनी में 11 फरवरी को ट्रेनिंग सत्र के दौरान उनकी त​बीयत बिगड़ी। सीने में दर्द की शिकायत बताकर वह होटल वापस गए। कंपनी के एक सहयोगी ने उनकी हालत बिगड़ती देखी और डॉक्टर को बुलाया।
    इलाज से पहले ही मौत
    - डॉक्टर ने जांच की और तुरंत अस्पताल ले जाने को कहा। कंपनी के दो कर्मचारी उन्हें एक कार से प्राइवेट अस्पताल ले गए। यहां डॉक्टरों ने चेक किया तो डैनी की पहले ही मौत हो चुकी थी।
    शव सरकारी अस्पताल में
    - निजी अस्पताल से डैनी के शव को सरकारी अस्पताल में शिफ्ट किया गया। औटॉप्सी की प्रक्रिया में पाया गया कि डैनी की मौत हार्टअटैक से हुई सामान्य मौत है। औपचारिकताएं पूरी कर शव बेल्जियम भेजा।
    बेल्जियम में दूसरी अटॉप्सी
    - बेल्जियम में उनकी दूसरी औटॉप्सी हुई। रिपोर्ट चौंकाने वाली थी। इसमें पता चला मौत की वजह हिंसक थी। सिर पर चोट के गहरे निशान थे। पेट पर चोट थी। लीवर फटा था। किडनी और हार्ट गायब थे।
    मौत को माना मर्डर
    - औटॉप्सी रिपोर्ट का संज्ञान लेते हुए बेल्जियम में जांच बैठाई गई। डैनी की मौत को मर्डर मानते हुए केस शुरू किया गया। बेल्जियम पुलिस ने इस मामले से जुड़े लोगों से संपर्क साधना शुरू किया।
    भारत को अनुरोध पत्र
    - करीब 18 महीने बाद अगस्त 2017 में बेल्जियम की ओर से डिप्लोमेटिक चैनल के जरिए भारत को पहला अंतरराष्ट्रीय अनुरोध पत्र भेजा गया। इसमें जांच टीम को भारत भेजने की अुनमति मांगी गई।
    भारत की ओर से रुचि नहीं
    - भारत ने इस पत्र पर ज्यादा रुचि नहीं दिखाई। गृह मंत्रालय की ओर से बस इतना कहा गया कि गुजरात में ही संपर्क करें। अभी तक बेल्जियम की जांच टीम को अनुमति मिलने का इंतजार है।

    बेल्जियम में अनुमति पत्र में ये...

    जिनसे होनी है पूछताछ...
    - बेल्जियम पुलिस चश्मदीद गवाहों से पूछताछ करना चाहती है। इनमें कंपनी के प्रबंधक, होटल स्टाफ, अस्पताल के डॉक्टर और कंपनी के वे कर्मचारी शामिल हैं जो डैनी को अस्पताल ले गए थे।

    - पुलिस उन डॉक्टरों से भी पूछताछ करना चाहती है जिन्होंने डैनी की औटॉप्सी की थी और उनकी मौत को नैचुरल करार दिया था।

    जिन्हें करनी है पूछताछ
    - बेल्जियम ने यह भी मांग की है कि जांच को आगे बढ़ाने के अनुरोध पर अमल के दौरान के उनके चीफ पुलिस कमिश्नर समेत आला अधिकारियों, सरकारी अभियोजक इन्वेस्टिगेटिव मजिस्ट्रेट को मौजूद रहने की इजाजत दी जाए।

    ... और जो पूछने हैं सवाल

    - बेल्जियम में दूसरी अटाॅप्सी रिपोर्ट में पता चला कि डैनी के सिर पर चोट के कारण उनके जीवित रहते भारी रक्तस्राव हुआ। यह चोट कैसे लगी?
    - रिपोर्ट के अनुसार डैनी के लीवर के पास करीब 5 इंच का बड़ा घाव था। उनके जीवित रहते हुए उससे भी खूब खून बहा था। यह चोट कैसे लगी?
    - औटॉप्सी में शरीर से हार्ट, किडनी और ​उन्हें जोड़ने वाली एड्रिनल ग्लैंड्स गायब पाई गईं। पहली अटॉप्सी में इन अंगों की क्या स्थिति थी?
    - क्या भारत में हुई औटॉप्सी के फोटो या वीडियो रिकॉर्डिंग उपलब्ध है। यदि है तो क्या उन तक पहुंच मिल सकती है?

Topics:
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×