--Advertisement--

चोट में भी खेलकर साई फुलेला क्वार्टर फाइनल में, गायत्री भी जीती

चोट में भी खेलकर साई फुलेला क्वार्टर फाइनल में, गायत्री भी जीती

Dainik Bhaskar

Nov 17, 2017, 08:25 PM IST
Gayatri also won in the Sai Flooring Quarter Final by playing in injury

चंडीगढ़। पिता नेशन फर्स्ट ड्यूटी निभा रहे हैं और बेटा नेशनल में चोट के बावजूद कोर्ट पर स्मैश लगा रहा हैं। ऑल इंडिया कृष्णा खेतान जूनियर रैंकिंग बैडमिंटन टूर्नामेंट में नेशनल कोच पुलेला गोपीचंद के बेटे ने चोट के बावजूद मैदान पर उतरने का फैसला किया और अपने जोड़ीदार प्रणव राव के साथ बॉयज अंडर-17 डबल्स के प्री-क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली। उन्होंने दिल्ली के हर्ष राणा और मनन की जोड़ी को 23 मिनटों में सीधे गेम्स में 21-14, 21-14 से हराकर बाहर कर दिया। वहीं गोपीचंद की बेटी गायत्री ने भी अपने विजयी क्रम को जारी रखा। गायत्री ने राउंड-32 के मैच में दिल्ली की ही अनन्या गोयल को बाहर किया। उन्होंने ये मैच 21-11, 19-21, 21-16 से अपने नाम किया। गायत्री ने पहले राउंड में सीधे गेम्स में जीत हासिल की थी।

क्वालिफाइंग राउंड में हुए थे चोटिल:

पुलेला गोपीचंद के बेटे साई विष्णु पुलेला ने क्वालिफाइंग राउंड में अच्छी शुरुआत की थी लेकिन मेन ड्रॉ के करीब आते हुए वे चोटिल हो गए। उनके दाएं पैर की एड़ी में चोट आई और वे सिंगल्स से हट गए। पैर में चोट होने के बाद भी उन्होंने डबल्स में खेलने का फैसला किया। उन्होंने प्रणव राव के साथ मिलकर दिल्ली के हर्ष राणा और मनन को 21-14, 21-14 से हराकर बाहर कर दिया। मैच के दौरान साई पर दिल्ली की जोड़ी ने काफी अटैक किया लेकिन उन्होंने भी अपनी स्मैश से कड़ा जवाब दिया। वहीं उनके जोड़ीदार से भी उन्हें पूरी मदद मिली और दोनों ने 23 मिनट में ही मैच को खत्म कर दिया। इसी कैटेगरी में सेकंड सीड एन बोका और वीपी की जोड़ी ने वे तीसरी सीड जयंत राणा व सूरज सरोहा की जोड़ी ने अपने अपने मैच जीते।

गायत्री गोपीचंद तीन सेट में जीतकर प्री-क्वार्टर में:

वीरवार रात को मैच खेलने के बाद गोपीचंद की बेटी गायत्री को दूसरा मैच शुक्रवार सुबह जल्दी खेलना था। इसका गायत्री पर कोई फर्क नहीं पड़ा और करीब आठ बजे अाकर उन्होंने स्ट्रेचिंग की और फिर 9.30 बजे वे कोर्ट पर उतरीं। तेलंगाना की इस स्टार प्लेयर ने पहले सेट में तेज शुरुआत करते हुए 21-11 के साथ लीड बना ली। इसके बाद दूसरे गेम में दिल्ली की अनन्या ने कम बैक किया और दूसरा गेम 19-21 से जीत गईं। तीसरे गेम में 21-16 की जीत के साथ गायत्री ने मैच को खत्म कर दिया। कर्नाटक की मेढ़ा ने भी बड़ा मैच जीेता। उन्होंने 11वीं सीड मानसी सिंह को 6-11, 22-20, 21-12 से जीतकर उलटफेर किया। टॉप सीड पूर्वा भावे ने भी आसान जीत हासिल की। इसके अलावा बाकी सीडेड प्लेयर्स भी जीतने में सफल रहीं।

सिटी प्लेयर्स की जीत जारी:
सिटी स्टार गरिमा सिंह ने उलटफेर के साथ प्री-क्वार्टर में जगह बना ली। गरिमा ने यहां गर्ल्स अंडर-17 में दिल्ली की नौवीं सीड नमिता को तीन गेम में हराकर बाहर कर दिया। गरिमा ने ये मैच तीन गेम में 17-21, 22-20, 21-13 से जीता। बॉयज अंडर-19 में केविन वोंग यूपी के सिद्धार्थ मिश्रा के हाथों सीधे गेम्स में 21-17, 21-11 से हराकर बाहर हो गए। गर्ल्स अंडर-17 डबल्स में चंडीगढ़ की अर्पिता मलिक और वृंदा राणा की जोड़ी ने जीत हासिल की। उन्होंने हरियाणा की असमी और इशा सिंह को 22-20, 21-18 से हराकर बाहर कर दिया। चंडीगढ़ की जैसमिन रावत और तान्या ने दूसरी टीम को वॉकओवर दे दिया। डबल्स में केविन वोंग को को महाराष्ट्र के गौरव के साथ मिलकर अगले दौर में पहुंच गई। वहीं आर्यन सिंह और शौर्य मदान को हार का सामना करना पड़ा।

गरिमा और रोमिल की जोड़ी प्री-क्वार्टर में:
गर्ल्स अंडर-19 डबल्स में चंडीगढ़ की गरिमा और रोमिल की जोड़ी को बिना खेले ही अगले दौर में जगह मिल गई। उनका मैच हरियाणा की आरियाना और आयुषी के साथ था। वे मैच के लिए नहीं पहुंची और सिटी पेयर को वॉकओवर मिल गई। सेकंड सीड श्रुति और समृद्धि की जोड़ी ने तीन गेम में 24-22, 12-21, 21-9 से हराकर बाहर किया जबकि सातवीं सीड जानवी और आर्य शेट्टी की जोड़ी को भी आसान जीत मिली। उन्होंने मलिका और अर्शिता को 21-11, 21-10 से हरकार बाहर किया जबकि तेलंगाना की तीसरी सीड जोड़ी ने भी सीधे गेम्स में जीत हासिल की। साहिथी और वर्शी की जोड़ी ने महिका और पलक की जोड़ी को 21-9, 21-16 से हराकर बाहर किया।

X
Gayatri also won in the Sai Flooring Quarter Final by playing in injury
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..