ठगी / व्हाट्सऐप पर देते हैं केबीसी में इनाम जीतने का लालच और करते हैं ठगी, केबीसी नहीं करता है ऐसी कॉल



kaun banega carorpati kbc fraud over whatsapp
X
kaun banega carorpati kbc fraud over whatsapp

Dainik Bhaskar

Oct 22, 2018, 11:52 AM IST

यूटिलिटी डेस्क. कौन बनेगा करोड़पति (केबीसी) टीवी शो का दसवां सीजन शुरू होने के साथ ही ठग भी सक्रिय हो गए हैं। उनके गिरोह विदेश से भारतीयों को कॉल कर 25 लाख रुपए का इनाम निकलने का झांसा दे रहे हैं। इसके लिए व्हाट्सऐप पर बाकायदा लॉटरी नंबर की रसीद बनाकर भेजी जा रही है। इसके साथ ही उन्हें पड़ोसी देश का नंबर देकर व्हाट्सऐप कॉल करने के लिए कहा जाता है। कॉल करने पर ठग इनाम की राशि के लिए पैसों की मांग करते हैं। केबीसी के हालिया एपिसोड में अमिताभ बच्चन भी दर्शकों को आगाह करते हैं कि सोनी टीवी द्वारा केबीसी के लिए पैसे नहीं मांगे जाते हैं और अगर कोई पैसे की डिमांड करता है तो उससे सावधान रहें।

स्पूफिंग और वॉइस ओवर इंटरनेट टेलीफोनी का करते हैं इस्तेमाल

  1. तकनीक का उठाते हैं फायदा

    जिस मोबाइल नंबर का ठगी के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है, वह 00923077514531 और 923057111448 है। यह  पाकिस्तान का नंबर है। असल में यह ठग स्पूफिंग और वॉइस ओवर इंटरनेट टेलीफोनी का इस्तेमाल करते हैं, ताकि इनकी असली पहचान छुपी रहे और इन्हें आसानी से ट्रेस न किया जा सके। खास बात यह है कि कॉल करने वाले की बातचीत करने का लहजा पूरी तरह से पड़ोसी देश के निवासी जैसा लगता है।

  2. कॉल कर लालच देते हैं 

    लोगों के मोबाइल पर कॉल आती है और सामने वाला खुद को कौन बनेगा करोड़पति का अफसर बताता है। वह कहता है कि मैं केबीसी से बोल रहा हूं। अमिताभ बच्चन और कंपनी ने 5 हजार में से 25 मोबाइल नंबर सिलेक्ट किए थे, जिनमें आपका मोबाइल नंबर भी है। इसमें आप 25 लाख रुपए का इनाम जीत गए हैं। इनाम की राशि आप बैंक ले सकते है, लेकिन पैसे पाने के लिए टैक्स अदा करना होगा। लोग इनाम के लालच में इनके झांसे में आ जाते हैं और अपना पैसा गंवा बैठते हैं।

  3. केबीसी की वीडियो क्लिपिंग

    उन्हें जीती रकम पाने के लिए पहले 8000 रुपए टैक्स और प्रोसेसिंग फीस के रूप में जमा करनी होगी। जब भोली-भाली जनता लालच में फंसकर यह पैसा जमा कर देती है, तब सिक्योरिटी क्लियरेंस के नाम पर 25 हजार रुपए की डिमांड की जाती है। लोगों को भरोसा दिलाने के लिए केबीसी की क्लिप को ठग एडिट कर भेजते हैं। इसमें अमिताभ बच्चन पीछे नजर आ रहे हैं। स्क्रीन पर उस व्यक्ति का मोबाइल नंबर नजर आता है, जिसे क्लिपिंग भेजी गई है।

  4. केबीसी में जाने का सही तरीका

    केबीसी में जाने के लिए शो की शुरुआत में अमिताभ बच्चन द्वारा रोज रात साढ़े आठ बजे पूछे गए एक सवाल का जवाब देना होता था। इसका जवाब एसएमएस, केबीसी मोबाइल एप, आईवीआरएस या सोनी लिव के माध्यम से दिया जा सकता था। सही जबाव देने वालों में से कुछ को लकी ड्रॉ द्वारा शो में भाग लेने के लिए चुना जाता है। इसके अलावा जिओ चैट ऐप की मदद से केबीसी प्ले अलॉग भी खेल सकते हैं। अगर आपने इतना नहीं किया है और इसके बाद भी कोई ऐसी कॉल आती है तो ये फेक होती है। इससे सावधान रहें।

COMMENT