एक्सपर्ट एडवाइस / खराब क्रेडिट स्कोर के साथ लोन मिलना मुश्किल है, असंभव नहीं

loan ; banking ; you can get loan also with poor credit score
X
loan ; banking ; you can get loan also with poor credit score

दैनिक भास्कर

Feb 10, 2020, 11:45 AM IST
यूटिलिटी डेस्क. लोन लेना किसी भी व्यक्ति के लिए काफी मुश्किल काम हो सकता है। साथ ही अगर क्रेडिट स्कोर खराब हो तो मुश्किलें और भी बढ़ जाती हैं। खराब क्रेडिट स्कोर के कारण बैंक या किसी वित्तीय संस्था से लोन मिलने की संभावना काफी कम हो जाती है, क्योंकि ऐसी स्थिति में लोन लेने वाले को ज्यादा जोखिम वाला ग्राहक माना जाता है और लोन डिफॉल्ट होने की संभावना ज्यादा होती है। बैंक ग्राहक का आंकलन उसकी क्रेडिट हिस्ट्री और भुगतान के पुराने व्यवहार पर करते हैं। खराब क्रेडिट हिस्ट्री या क्रेडिट स्कोर क्रेडिट के खराब मैनेजमेंट का नतीजा होता है। कल्पना पांडेय, एमडी एंड सीईओ, सीआरआईएफ हाईमार्क आपको बता रही हैं इसके पीछे के कारण और इससे जुड़ी खास बातें...

खराब क्रेडिट स्कोर से लोन लेना हो सकता है महंगा

  • अपने लोन या क्रेडिट कार्ड की किश्तों का भुगतान न करना।
  • लोन या क्रेडिट कार्ड के पेमेंट में चूक करना।
  • लगातार क्रेडिट कार्ड की ऊंची लिमिट का इस्तेमाल करना।
  • अगर आपका अकाउंट राइट ऑफ या सेटल कर दिया गया हो।
  • बहुत कम समय में कई लोन के लिए आवेदन करना।

ऐसे में सवाल उठता है कि खराब क्रेडिट स्कोर के साथ लोन कैसे हासिल करें। उम्मीद मत छोड़िए। खराब क्रेडिट स्कोर का मतलब यह नहीं है कि आप लोन पा ही नहीं सके। खराब क्रेडिट स्कोर आपके लोन हासिल करने में मुश्किलें खड़ी कर सकता है या इसे महंगा कर सकता है। आपके पास कुछ विकल्प हैं जिनका इस्तेमाल कर सकते हैं।

अगर आप अपनी संपत्ति गिरवी रखते हैं तो कमजोर क्रेडिट स्कोर के बावजूद आपको लोन मिल सकता है। आप अपने फिक्स्ड डिपॉजिट या शेयर भी लोनदाता के पास गिरवी रख सकते हैं। हां, ब्याज दर कुछ ज्यादा हो सकती है और लोन का राशि भी कुछ कम हो सकती है। यह खराब क्रेडिट स्कोर के बावजूद लोन हासिल करने का सबसे आसान तरीका है।

सिक्योर्ड क्रेडिट कार्ड क्रेडिट हिस्ट्री को सुधारने में मददगार होता है। इसे खराब क्रेडिट स्कोर के बावजूद हासिल किया जा सकता है। अगर आपके पास फिक्स्ड डिपोजिट है तो इसमें मौजूद राशि के 70 से 80 फीसदी राशि के बराबर का क्रेडिट लिमिट आपको मिल सकता है।

वित्तीय सेवाएं देने वाली कुछ कंपनियां सैलरी एडवांस के रूप में लोन देती हैं। इसके जरिए आपकी मासिक सैलरी का आधा हिस्सा लोन के रूप में मिलता है। इसकी मदद से आप अपने शॉर्ट टर्म जरूरत को पूरी कर सकते हैं। इसकी प्रक्रिया आसान होती है और लोन की राशि सीधे आपके बैंक अकाउंट में पहुंच जाती है।

पीयर-टू पीयर लेंडिंग का चलन भारत में तेजी से बढ़ रहा है। पी2पी प्लेटफॉर्म खराब क्रेडिट स्कोर के बावजूद लोन दे सकते हैं। हां, जोखिम के हिसाब से ब्याज दरें ज्यादा हो सकती हैं। ऊपर दिए गए विकल्पों के अलावा आप को-एप्लीकेंट के साथ लोन के लिए आवेदन कर खराब क्रेडिट स्कोर के बावजूद लोन ले सकते हैं। साथ ही अपने बैंक से बात भी कर सकते हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना