रेलवे का निजीकरण / अपनी मर्जी से ट्रेन का किराया नहीं बढ़ा सकेंगे ऑपरेटर



indian railwayn ; private train operators can not increase fair in festive season
X
indian railwayn ; private train operators can not increase fair in festive season

Dainik Bhaskar

Sep 10, 2019, 01:29 PM IST

यूटिलिटी डेक्स. लखनऊ से दिल्ली के बीच जल्द ही नई तेजस ट्रेन दौड़ती नजर आएगी। ये ट्रेन इंडियन रेलवे केटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (IRCTC) ऑपरेट करेगा। तेजस को अक्टूबर से चलाने की प्लानिंग है। इसे मंगलवार छोड़कर हफ्ते में 6 दिन चलाया जाएगा। नई दिल्ली के बाद गाजियाबाद और कानपुर के रास्त ट्रेन लखनऊ पहुंचेगी। वहीं, IRCTC की दूसरी तेजस को अहमदाबाद-मुंबई रूट पर चलाने की योजना हैं। इसे दिसंबर में शुरू किया जा सकता है। यह पहली बार है जब IRCTC पूरी तरह से ट्रेन सर्विस को ऑपरेट करेगा। रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष विनोद कुमार यादव ने सोमवार को दिल्ली में एक संवाददाता सम्मेलन में रेलवे के निनीकरण को लकर कई महत्वपूर्ण बातें सांझा कीं।

किसी को नहीं मिलेगी किराए में रियायत

  1. फ्लाइट की तुलना में 50 फीसदी कम होगा किराया

    कुछ दिन पहले आई खबर के अनुसार तेजस का किराया फ्लाइट की तुलना में 50 फीसदी कम होगा। हालांकि, किराए को लेकर अभी तक IRCTC की तरफ से कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी गई है। लेकिन, इतना तय है कि नई दिल्ली-कानपुर रूट पर इसका किराया अगर कम रहता है तो मुसाफिरों को काफी फायदा होगा।

  2. अपनी मर्जी से किराया नहीं बढ़ा सकेंगे प्राइवेट ऑपरेटर

    रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष विनोद कुमार यादव के अनुसार इन ट्रेनों का किराया तय करने की जिम्मेदारी प्राइवेट ऑपरेटर्स के पास ही होगी। हालांकि, प्राइवेट ऑपरेटर्स की ओर से तय किए गए किराए पर नजर रखने के लिए रेलवे एक समिति का गठन करेगा। खासतौर पर फेस्टिव सीजन के दौरान यह प्राइवेट ऑपरेटर अपनी मर्जी से किराए में बढ़ोतरी नहीं कर सकेंगे।

  3. ट्रेन में किसी भी वर्ग को किराए में रियायत नहीं मिलेगी

    तेजस ट्रेन में वीआईपी कोटा के तहत सांसद, विधायक, राज्यों के मंत्री, जनप्रतिनिधि, रेल अफसर और मीडियाकर्मियों को कंफर्म बर्थ नहीं दी जाएगी। ट्रेन में किसी भी वर्ग को किराए में रियायत नहीं मिलेगी।

    • इस ट्रेन में 5-12 साल के बच्चे का पूरा किराया लगेगा। उम्मीद है कि दिल्ली-लखनऊ के बीच अक्टूबर माह में देश की पहली निजी तेजस ट्रेन दौड़ने लगेगी।
    • रेलवे बोर्ड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इमरजेंसी कोटा के तहत यात्री ट्रेन राजधानी, शताब्दी, दुरंतो, मेल-एक्सप्रेस आदि में वेटिंग टिकट के एवज में बर्थ उपलब्ध कराई जाती है।
    • इसमें सांसद, विधायक आदि शामिल हैं लेकिन आईआरसीटीसी की मदद से चलाई जाने वाली देश की पहली निजी ट्रेन में वीआईपी कोटा का प्रावधान नहीं होगा। तेजस पहली ट्रेन होगी जिसमें आरएसी टिकट जारी नहीं किया जाएगा।
    • वरिष्ठ नागरिकों, दिव्यांग, गंभीर रोगी, पुरस्कार विजेता आदि किसी को भी रियायती टिकट नहीं दिए जाएंगे। ऐसे सभी यात्रियों को पूरा किराया देना होगा। उन्होंने बताया कि तेजस में आम यात्री ट्रेन के कई नियमों को लागू नहीं किया जाएगा।
       

  4. ये होगी तेजस में खासियत

    नई तेजस ट्रेन में मुसाफिरों को अत्याधुनिक सुविधाएं मिलेंगी। ट्रेन में फ्लाइट्स की तरह LCD एंटरटेनमेंट स्क्रीन्स, ट्रेन में वाईफाई की सुविधा, आरामदायक सीट्स, मोबाइल चार्जिंग प्वाइंट, पढ़ने के लिए लाइट, बायो टॉयलेट्स, सेंसर टैप फिटिंग्स मौजूद होंगी। ट्रेन की सीट को ऑरेंज और येलो कलर स्कीम टच दिया गया है। यह बिल्कुल वैसा ही होगा, जैसी बाहर से ट्रेन दिखती है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना