राहत / लक्ष्मी विलास बैंक और इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस का नहीं होगा विलय



प्रतीकात्मक फोटो प्रतीकात्मक फोटो
X
प्रतीकात्मक फोटोप्रतीकात्मक फोटो

Dainik Bhaskar

Oct 10, 2019, 12:16 PM IST

यूटिलिटी डेस्क. भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने बुधवार को लक्ष्मी विलास बैंक के साथ इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस के प्रस्तावित विलय की योजना को रद कर दिया। बैंक ने शेयर बाजारों को दी गई एक सूचना में कहा कि आरबीआई ने नौ अक्टूबर 2019 के पत्र के जरिये सूचित किया है कि लक्ष्मी विलास बैंक के साथ इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड और इंडियाबुल्स कॉमर्शियल क्रेडिट लिमिटेड के स्वैच्छिक विलय के आवेदन को मंजूरी नहीं दी जा सकती है।


पिछले महीने आरबीआई ने बैंक को पीसीए के अंतर्गत डाल दिया है
बैंक ने इस विलय की मंजूरी के लिए सात मई 2019 को आरबीआई को आवेदन किया था। पिछले महीने आरबीआई ने बैंक को त्वरित सुधारात्मक कार्रवाई (पीसीए) के अंतर्गत डाल दिया था। यह कार्रवाई ऊंचे एनपीए, जोखिम से निपटने के लिए पूंजी की अपर्याप्तता और लगातार दो साल संपत्ति पर नकारात्मक रिटर्न को देखते हुए की गई है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना