बैंकिंग / 1 सितंबर से सस्ता होगा होम लोन, लेकिन फिक्स्ड डिपॉजिट पर मिलेगा कम ब्याज

banking : many bank rules are change from 1 September
X
banking : many bank rules are change from 1 September

  • 1 सितंबर से 5 नियमों में बदवाल होगा।
  • केवाईसी न होने पर मोबाइल वॉलेट बंद हो जाएगा।

दैनिक भास्कर

Aug 28, 2019, 01:24 PM IST

यूटिलिटी डेस्क. 1 सितंबर 2019 से बैंक से जुड़े कई नियम बदल जाएंगे। इनका सीघा असर आप पर भी पड़ेगा। इनमें से कुछ आपको राहत देंगे तो कुछ आपसी सेविंग्स से होने वाले फायदे को कम करेंगे। 1 सितंबर जहां एक ओर बैंक घर खरीदना सस्ता कर रहे हैं। वहीं दूसरी ओर फिक्स्ड डिपॉजिट और बल्क डिपॉजिट पर कम ब्याज मिलेगा। इसके अलावा  बैंक खुलने के समय में भी बदलाव हो सकता है। आइए जानते हैं ऐसे ही कुछ बदलावों के बारे में जो आप पर सीधा आर डालेंगे।

ये हैं वे नियम

अगर आप भी पेटीएम, फोनपे, गूगलपे जैसे मोबाइल वॉलेट का इस्तेमाल करते हैं, तो 31 अगस्त तक इनकी केवाईसी पूरी करा लें। केवाईसी पूरी न कराने के चलते 1 सितंबर से आपका मोबाइल वॉलेट काम करना बंद कर देगा। आपको बता दें कि भारतीय रिजर्व बैंक ने इन मोबाइल वॉलेट कंपनियों को अपने कस्टमर्स की केवाईसी पूरी कराने के लिए 31 अगस्त तक का समय दिया था।

1 सितंबर से स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ग्राहकों के लिए होम लोन लेकर घर खरीदना सस्ता हो जाएगा। SBI ने होम लोन की ब्याज दर में 0.20 फीसदी की कटौती की है। 1 सितंबर से होम लोन पर ब्याज दर 8.05 फीसदी होगी।
 

1 सितंबर से किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) बनवाना और भी आसान हो जाएगा। अधिकतम 15 दिनों में बैंक को किसान क्रेडिट कार्ड जारी करना होगा। केंद्र सरकार ने किसानों को राहत देते हुए बैंकों से किसान क्रेडिट कार्ड 15 दिन में जारी करने का निर्देश दिया है।

SBI ने रिटेल फिक्स्ड डिपॉजिट और बल्क डिपॉजिट पर ब्याज की दर घटा दी है। 1 लाख रुपए तक के डिपॉजिट वाले ग्राहकों को सेविंग अकाउंट में 3.5 फीसदी ब्याज मिलता रहेगा। 1 लाख से ज्यादा डिपॉजिट वाले ग्राहकों के लिए ये दर 3 फीसदी पर ही स्थिर है। हालांकि बैंक ने रिटेल टर्म डिपॉजिट की दर में 0.1 फीसदी से 0.5 फीसदी की कटौती की है। वहीं बल्क डिपॉजिट रेट में 0.3 फीसदी से 0.7 फीसदी तक की कटौती की गई है।
 

ज्यादातर सभी पब्लिक सेक्टर बैंक (PSU) सुबह 10 बजे खुलते हैं और लोग 10 बजे का इंतजार करते हैं। लेकिन अब ग्राहकों की परेशानी कम होगी। वह ऑफिस जानें से पहले अपना बैंक से जुड़ा काम निपटा पाएंगे। ये नए नियम सितंबर से लागू होंगे। अगर ये नियम लागू होते हैं तो बैंक सुबह 9 बजे खुलेंगे। केंद्रीय वित्त मंत्रालय के बैंकिंग डिवीजन ने सभी सरकारी और क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों को सुबह 9 बजे खोलने का प्रस्तायव दिया है।
 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना