नई सुविधा / दिल्ली-एनसीआर में स्मार्ट चार्जिंग सर्विस Nymbus शुरू, जल्द ही 25 शहरों में मिलेगी सुविधा

Dainik Bhaskar

May 16, 2019, 06:41 PM IST


nymbus first of its kind in india panasonic ev charging service electric mobility plan
X
nymbus first of its kind in india panasonic ev charging service electric mobility plan

यूटिलिटी डेस्क. इलेक्ट्रोनिक वाहनों के संचालन को प्रोत्साहल देने के उद्देश्य से पैनासोनिक ने देश में स्मार्ट चार्जिंग सर्विस Nymbus(निंबस) लॉन्च किया है। इसके पहले फेज में स्मार्ट चार्जिंग सर्विस की शुरुआत दिल्ली-एनसीआर से की जाएगी। पैनासोनिक दिल्ली-एनसीआर में 150 स्मार्ट ई इलेक्ट्रिक थ्री व्हीलर्स और 25 क्यूक्विक 2 व्हीलर पर EV चार्जिग सर्विस शुरू करेगी। पैनासोनिक ने इसके लिए इलेक्ट्रिक मोबिलिटी सर्विस प्रदाता के स्मार्टई एवं क्यूक्विक के साथ साझेदारी की है। कंपनी का लक्ष्य अगले 5 साल में 25 शहरों में इसकी शुरुआत करना है।

जानें इससे जुड़ी खास बातें

  1. मौजूदा वित्त वर्ष में 4500 चार्जिंग स्टेशन बनाने का है लक्ष्य

    केंद्र सरकार का लक्ष्य है कि 2030 तक देश भर में 25 से 30 फीसदी वाहन इलेक्ट्रिक हों ताकि प्रदूषण कम किया जा सके। वहीं चालू वित्त वर्ष में सरकार का उद्देश्य करीब 4500 चार्जिंग स्टेशन बनाने का है । ये सभी राष्ट्रीय और राज्यों के राजमार्गों पर बनाए जाएंगे।

  2. कैसा है Nymbus?

    इसके तहत फिजिकल कंपोनेंट जैसे चार्जिग स्टेशन, स्वैप स्टेशन, ऑनबोर्ड चार्ज, टेलीमेटिक्स सिस्टम एवं वर्चुअल कंपोनेंट जैसे क्लाउड सर्विस, एनालिटिक्स, इंट्यूटिव डैशबोर्ड और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सेवा दी जाएंगी। 

    • इस सर्विस का मकसद व्यक्तिगत ईवी यूजर्स, ईवी फ्लीट ओनर्स, ईकॉमर्स एंड लॉजिस्टिक कंपनियों की मदद करना है। निंबस वाहन पर टेलीमेटिक्स सेंसर्स के साथ आएगी। इससे फ्लीट मालिक अलग—अलग गाड़ियों में बैटरी के इस्तेमाल को ट्रैक कर सकेंगे। 
    • पैनासोनिक इंडिया के प्रेसिडेंट एवं सीईओ मनीश शर्मा ने कहा कि इस सर्विस के लॉन्च होने से भारत में इलेक्ट्रिक व्हीकल्स अपनाने वाले लोगों को मदद मिलेगी। पैनासोनिक ऐसी पहली कंपनी है जो इस तरह का कॉमन प्लेटफॉर्म तैयार कर रही है।

  3. 10 लाख वाहनों को सर्विस देना लक्ष्य

    पैनासोनिक इंडिया के एनर्जी सिस्टम्स डिविजन के हेड अतुल आर्या ने कहा कि अभी यह सर्विस टू-व्हीलर और थ्री-व्हीलर के लिए होगी। हालांकि आटो कंपनियां अन्य व्हीकल भी लेकर आ रही है। फिलहाल इस सर्विस को केवल दिल्ली-एनसीआर में ही शुरू कराया जाएगा।

    • अगले 3 साल में कंपनी इसका विस्तार बेंगलुरु, पुणे, हैदराबाद, चेन्नई और अमरावती में करेगी। अगले पांच साल में हमारा लक्ष्य 25 शहरों में निंबस सर्विस शुरू करने का है। इसके तहत हम 10 लाख वाहनों के लिए यह सर्विस उपलब्ध कराने का लक्ष्य लेकर चल रहे हैं।
       

  4. चार्जिंग स्टेशनों के लिए बनी नोडल एजेंसी

    देश भर में इलेक्ट्रिक गाड़ियों की चार्जिंग के लिए चार्जिंग स्टेशन बनाने को ले कर 15 राज्यों ने नोडल एजेंसी बनाने को मंजूरी दी गई है। ये एजेंसी बुनियादी ढांचे, हाइवे और शहरी क्षेत्रों में चार्जिंग स्टेशन के लिए जमीन आवंटित करने सहित इससे जुड़े अन्य काम भी करेगी।

COMMENT