पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रेलवे विश्राम गृह बनेंगे हाईटेक, मिलेंगी लग्जरी सुविधाएं

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

भोपाल/यूटिलिटी डेस्क. रेल मंत्रालय भोपाल सहित देश के बड़े रेलवे स्टेशनों के विश्राम गृह (रिटायरिंग रूम) को अब हाईटेक बनाने जा रहा है। इनमें कई स्टेशनों पर जल्द ही बड़े होटल्स जैसी सुविधाएं मिलेंगी। रेलवे की वर्ष 2015 की इस योजना को इंडियन रेलवे कैटरिंग टूरिज्म सर्विस (आईआरसीटीसी) इस साल अंजाम देगी। अधिकारियों के अनुसार इन विश्राम गृहों में आकर्षक साज-सज्जा के साथ ही फैसिलिटी व सर्विस भी हाई लेवल की मिलेंगी। यहां खानपान की खास व्यवस्था, टूरिस्ट के लिए होटल की तरह साइट सीन देखने और टूर-ट्रेवल्स का भी इंतजाम पलक झपकते ही हो जाएगा।

 

रेलवे बोर्ड के डायरेक्टर समीर कुमार के अनुसार इस योजना पर अमल करने का आदेश आईआरसीटीसी को दिया है। इसके पहले चरण में देश भर के करीब 500 स्टेशनों को शामिल किया जा रहा है। इस काम के लिए एक वर्ष की समय सीमा निर्धारित की गई है। पूरे अभियान का मकसद यात्रियों को कम खर्च में अच्छी सुविधाएं मुहैया कराना है। 

1) इससे जुड़ी खास बातें...

आईआरसीटीसी रेलवे स्टेशनों पर मौजूद विश्राम गृहों को हाई-फाई बनाने के साथ ही उनमें वर्तमान समय के हिसाब से फर्नीचर लगवाएगा। इस बात का विशेष ध्यान रखा जाएगा कि कमरों के मूलरूप से कोई छेड़छाड़ न की जाए। कमरों के रखरखाव और यात्रियों के लिए सुविधाएं जुटाने के साथ ही उसके प्रचार की पूरी जिम्मेदारी आईआरसीटीसी की होगी। पैसेंजर्स को टूर प्लेस बताने और भ्रमण के लिए वाहन की व्यवस्था भी कराएगा। इस फैसले से जनता को बड़ा लाभ होगा, क्योंकि रिटायरिंग रूम बेहद सस्ते और अच्छे होते हैं। 

सूत्रों के अनुसार विश्राम गृहों को स्टार होटल्स के अंदाज में बनाने की योजना पर पिछले चार साल से काम चल रहा है। लेकिन रेल मंत्रालय और अधिकारियों के बीच तालमेल न बैठ पाने के कारण इस योजना को जमीन पर नहीं उतारा जा सका। फिलहाल इसे मई 2019 में फाइनल कर जुलाई से काम शुरू कर दिया गया है। अधिकारियों का कहना है कि अभी काम अपने शुरुआती दौर में है। लेकिन आगामी तीन से चार माह में इसका असर देखने को मिलेगा। हालांकि रिनोवेशन कब से करेंगे, इसकी कोई तारीख तय हुई है या नहीं, इस बारे में अधिकारी कुछ नहीं बता पाए। 

विश्राम गृह के प्रत्येक कमरे में टीवी, इंटरनेट, फोन, एयर कंडीशन के साथ ही कई मूलभूत सुविधाएं मौजूद रहेंगी। यहां यात्रियों को ट्रेनों के आने और प्रस्थान करने की जानकारी रूम में एक कॉल या होटल में लगी स्क्रीन पर मिल सकेगी। पीने के पानी के लिए आरओ सिस्टम और कमरों में वाटरप्रूफ फर्नीचर होगा। कहीं भी जाने के लिए स्थानीय स्तर पर टैक्सी की सुविधा भी मुहैया कराई जाएगी। खानपान की सुविधाएं भी बेहतर रहेंगी। 

रेलवे स्टेशनों पर स्थित विश्राम गृहों में यात्रियों को होटलों की तर्ज पर हाईटेक सुविधाएं देने की योजना है। आईआरसीटीसी को इसके निर्देश दे दिए गए हैं। पहले दौर में भोपाल सहित करीब 500 स्टेशनों की सूची तैयार की गई है। समीर कुमार, डायरेक्टर, रेलवे बोर्ड

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों में आपकी व्यस्तता बनी रहेगी। किसी प्रिय व्यक्ति की मदद से आपका कोई रुका हुआ काम भी बन सकता है। बच्चों की शिक्षा व कैरियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी संपन...

और पढ़ें