मास्टर शेफ बताएंगे गणपति के भोग की रेसिपी:तोंडली भात हो या स्ट्रॉबेरी वाले बूंदी के लड्‌डू, कम समय में झटपट हो जाएंगे तैयार

3 महीने पहले

आज से गणेश उत्सव की शुरूआत हो चुकी है। पूजा के बाद बप्पा को पहला भोग चढ़ेगा। इसके लिए हम तीन ऐसी डिश बनाने का तरीका बताएंगे, जिसमें आपको ज्यादा मेहनत नहीं लगेगी और कम समय में ये आसानी से तैयार हो जाएंगे।

गणपति के फेवरेट भोग लड्डू के साथ-साथ हम आपको बताएंगे महाराष्ट्र की फेमस डिश तोंडली भात बनाने का तरीका, जिसमें लहसुन-प्याज का इस्तेमाल नहीं किया जाता है।

चलिए संजीव कपूर से सीखते हैं तोंडली/ टोंडली भात बनाने की रेसिपी

इन चीजों की जरूरत होगी…

  • 100 ग्राम टिंडली यानी कुंदरू
  • 1 ½ कप बासमती चावल भिगोया हुआ
  • 1 छोटा चम्मच, साबुत सूखा धनिया
  • 1 जीरा छोटा चम्मच
  • 5 छोटी इलायची
  • 3 बड़े चम्मच घी
  • छोटा चम्मच हींग
  • ½ छोटा चम्मच हल्दी पाउडर
  • 2½ छोटा चम्मच गोदा मसाला
  • 1 इंच अदरक, मोटा कटा हुआ
  • 2-3 हरी मिर्च
  • ½ छोटा गुच्छा हरा धनिया
  • कप काजू, 20 मिनट के लिए भिगोकर छान लें
  • नमक स्वादानुसार
  • 2 चम्मच कटा हुआ गुड़
  • 2 चम्मच नींबू का रस
  • 2 बड़े चम्मच कटा हुआ ताजा नारियल
  • 2 बड़े चम्मच कटा ताजा हरा धनिया

ऊपर दिए ग्राफिक्स में तो आपने पहले दिन के लिए भोग बनाने का तरीका सीखा। अब दूसरे दिन गणपति को चढ़ाएं उनके फेवरेट लड्‌डू। हालांकि ये लड्डू बाकी लड्डू से अलग हैं। क्योंकि ये बूंदी के लड्डू नहीं बल्कि स्ट्रॉबेरी बूंदी लड्‌डू हैं। इसे बनाने का तरीका बता रहे हैं फेमस सेलिब्रिटी शेफ रणबीर बरार-

बैटर बनाने के लिए सामान

  • 1 ½ कप बेसन
  • 1 कप पानी
  • एक चुटकी नमक
  • 2 छोटा चम्मच गुलाबी रंग
  • घी

चाशनी बनाने का सामान

  • 1 ½ कप चीनी⅔ कप पानी
  • 1 कप, स्ट्रॉबेरी क्रश
  • अगर स्ट्रॉबेरी क्रश नहीं है तो आधा छोटा चम्मच स्ट्रॉबेरी एसेंस, दस ड्रॉप स्ट्रॉबेरी कलर यूज करेंगे।

सजावट का सामान

  • पिस्ता बारीक कटा
  • चांदी का वर्ख

बहुत से लोग ऐसे हैं, जो गणपति उत्सव के दौरान ऑफिस भी जाते हैं। जिस दिन कोई मीटिंग हो या दूसरा जरूरी काम हो, तब आप बप्पा को आलू-पूरी का भोग लगा सकते हैं। इसलिए आज भंडारे वाली सब्जी बनाना सीखा रही हैं– अमृता रायचंद। इस आलू की सब्जी में कोई लहसुन या प्याज नहीं है और इसलिए इसे उपवास के दिनों में भी खाया जा सकता है।

भंडारे वाली आलू की सब्जी के लिए इन सामान की होगी जरूरत-

  • 2 चम्मच घी
  • 1 चम्मच सौंफ
  • 2 बड़े चम्मच पिसी हुई मूंगफली
  • 4-5 भीगी हुई लाल मिर्च 1 टमाटर का पेस्ट
  • 2 कटे टमाटर
  • 6 उबले आलू, मीडियम साइज के
  • आधा नींबू का रस
  • ताजा कटा हरा धनिया सजाने के लिए

सेलिब्रिटी शेफ अमृता रायचंद से सीखें, भंडारे वाली आलू की सब्जी बनाने का तरीका

  • एक कढ़ाई में घी डालें। गर्म होने पर, सौंफ के बीज और कुटी हुई मूंगफली डालें।
  • फिर मिर्च का पेस्ट डालें, थोड़ा पकाएं, टमाटर और नमक डालकर मिलाएं।
  • ढक्कन लगा दें और थोड़ा नरम होने तक पकाएं।
  • अब इसमें आलू डालें। अच्छी तरह से मिलाएं और फिर पानी डालकर चलाएं।
  • ग्रेवी को अच्छी तरह से पकने तक ढक दें, उसमें आधा नींबू का रस डालें।
  • अब बारीक कटा धनिया डालकर परोसें।

चलते-चलते जान लीजिए-

21 मोदक चढ़ाने की भी है परंपरा

माना जाता है कि गणपति को अगर 21 मोदक चढ़ाएं तो उनके साथ बाकी देवी-देवताओं का भी पेट भर जाता है। इसलिए उन्हें भोग के तौर पर मोदक अर्पित किया जाता है, ताकि दूसरे देवी-देवताओं का आशीर्वाद मिल सके।

आखिर गणपति को मोदक ही क्यों पसंद है…

इसके पीछे भी एक कहानी है। एक बार भगवान शिव सो रहे थे और गणेश यानी गणपति उनकी रखवाली कर रहे थे। तभी परशुराम आ गए। गणेश ने पिता से मिलने से रोक दिया। परशुराम को गुस्सा आ गया और उन्होंने गणेश का एक दांत तोड़ दिया। दांत टूटने की वजह से उन्हें खाने में परेशानी होने लगी। इस वजह से पार्वती ने खास तौर से गणेश के लिए मोदक तैयार किया। इस तरह मोदक उनका फेवरेट बन गया।

अब पधारो गणनायक गणेश सीरीज की ये 4 स्टोरीज भी पढ़ लीजिए

मास्टरशेफ की मोदक रेसिपी: बप्पा को भोग में चढ़ाने के लिए मार्केट नहीं जाना होगा; घर पर आसानी से बन जाएंगे 3 तरह के मोदक

गणपति उत्सव शुरू होने के मौके पर आज बिल्कुल प्रोफशनल शेफ जैसा मोदक बनाना हम सीखेंगे। 3 तरह के मोदक को घर पर बनाना सिखा रही हैं मास्टर शेफ की विनर और सेलिब्रिटी शेफ पंकज भदौरिया।(यहां पढ़ें पूरी स्टोरी)

2. घर पर बनाएं मिट्‌टी के गणेश: तीन अलग-अलग रूप, जिससे बच्चे बनेंगे स्मार्ट; घर में नहीं होंगे लड़ाई-झगड़े और आएगी समृद्धि

इस गणेश उत्सव में अपने घर में खुद मिट्टी के गणेश बनाएं और स्थापित करें। 4 मिनट के वीडियो में क्ले आर्टिस्ट प्रतीक्षा शर्मा 3 तरह के गणपति बनाना सिखा रही हैं। इस वीडियो में हम आपको मिट्टी के गणेश बनाने का तरीका और ऐसी ट्रिक बताएंगे, जिसके बाद आप गणेश जी का विसर्जन कर भी दें, तब भी वे आपके साथ रहेंगे। (यहां पढ़ें पूरी स्टोरी)

3. घर और ऑफिस में एक जैसे गणपति स्थापित ना करें: घर में सिद्धि विनायक, ऑफिस और दुकानों में विघ्नेश्वर तो कारखानों में हो महागणपति की स्थापना

मिट्टी के गणेश किस रूप में बनाएं और कौन सा रूप घर, दुकान, ऑफिस और फैक्ट्रियों के लिए शुभ है। इस पर हमने देश के जाने-माने विद्वानों से बात की तो पता चला कि सिद्धि विनायक रूप की मूर्ति घर में स्थापित करनी चाहिए। विघ्नेश्वर गणेश ऑफिस और दुकानों के लिए और महागणपति की स्थापना कारखानों के लिए शुभ है। ये तीनों रूप कैसे होते हैं, ये जानने के लिए (यहां पढ़ें पूरी स्टोरी)

4.गणेश चतुर्थी पर 5 राजयोग:300 साल बाद दुर्लभ संयोग में होगी पूजा और स्थापना, साथ ही खरीदारी और नई शुरुआत के लिए भी शुभ दिन

इस बार गणेश चतुर्थी पर पांच राजयोग और 300 सालों बाद ग्रहों का दुर्लभ संयोग बन रहा है। वहीं, पूरे उत्सव के 10 दिनों के दौरान खरीदारी के 7 शुभ मुहूर्त भी रहेंगे। जिसमें आप इन्वेस्टमेंट से लेकर व्हीकल खरीदी तक कई शुभ काम कर सकेंगे। कब कौन सा शुभ मुहूर्त है जानने के लिए (यहां पढ़ें पूरी खबर)

खबरें और भी हैं...