पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

ऐसे सुधारें दिनचर्या:रुटीन बनाते वक्त अपनी सुविधा का भी ध्यान रखें, छोटी चीजों से करें शुरुआत; महामारी में बिगड़े शेड्यूल को 5 तरीकों से सुधारें

एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • एक्सपर्ट्स के मुताबिक, नींद आपके दिन को तय करती है, इसलिए जागने और सोने का समय निश्चित करें
  • रुटीन लागू करने के बाद देखें कि यह काम कर रहा है या नहीं, नोटबुक में या ऑनलाइन लिखें रोज के लक्ष्य

(एलेक्जेंड्रा ई पेट्री). कोरोनावायरस के कारण सभी लोगों को लंबे समय तक घर में रहना पड़ा। बच्चों की ऑनलाइन एजुकेशन से लेकर बड़ों का वर्क फ्रॉम होम तक सब घर से ही पूरा हुआ। अब इतना वक्त घर में गुजारने के कारण कई लोगों ने महसूस किया है कि उनका रुटीन खराब हुआ है। ऐसे में जब दोबारा चीजें शुरू हो रही हैं, तो हो सकता है कि हम नए रुटीन को लेकर कुछ परेशान हों। यह काफी जरूरी भी है, क्योंकि इसका सीधा असर हमारी हेल्थ पर होता है।

कुछ टिप्स जो आपके रुटीन को फिर से बनाने, सुधारने और संभालने में मदद कर सकती हैं।

छोटी चीजों से शुरुआत करें
अपने रुटीन को किसी प्रतियोगिता की तरह न समझें। इसलिए पहले नंबर पर आने की कोशिश करने के बजाए एक व्यक्ति या परिवार के तौर पर ऐसे लक्ष्य तय करें, जिन्हें आप पा सकते हैं। न्यूयॉर्क की फिटनेस इंस्ट्रक्टर और लाइफ कोच डिलन गोमीह का कहना है, "खुद को छोटी-छोटी जीत के लिए तैयार करें।" अब मैं रोज सुबह 6 बजे उठ जाऊंगा, यह कहने के बजाए हफ्ते में थोड़ी एक्सरसाइज के बारे में सोचें और इसे बढ़ाते रहें।

अटलांटा की लाइफ प्लानर शनेल डोकुन ने कहा कि यह भी जानना जरूरी है कि आप रुटीन क्यों बनाना चाहते हैं। खुद से सवाल करें कि मैं रोज क्या महसूस करना चाहता हूं। अधिकांश लोग कामों पर फोकस करते हैं, उन चीजों पर फोकस करें, जो आपको रिचार्ज करें।

व्यवस्थित हो जाएं
अगर आप उन लोगों में से हैं जो पेन और पेपर पसंद करते हैं तो एक नोटबुक अपने साथ रखें। इसमें उन लक्ष्यों के बारे में लिखें, जिन्हें आप पाना चाहते हैं। जो लोग डिजिटल पसंद करते हैं, वे गूगल की मदद ले सकते हैं।

आप इन चीजों का कैसे इस्तेमाल करते हैं, यह इस बात पर निर्भर करता है कि आपके लिए अच्छा क्या है। कुछ लोगों के लिए इसका मतलब समय तय करना हो सकता है। जैसे- सुबह 7 बजे कसरत करना, 12:30 पर लंच के लिए ब्रेक लेना और टहलना। जबकि कुछ लोगों के लिए इसका मतलब एक ऐसी चीजों की लिस्ट तैयार करना हो सकता, जिसे वे हर हफ्ते पूरा करना चाहते हैं।

रोज की गतिविधियों की मदद से टाइम टेबल बनाएं
नींद हमारे दिन के बारे में बताती है। यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया में डेविड गैफन स्कूल ऑफ मेडिसिन में मेडिसिन की प्रोफेसर जैनिफर मार्टिन ने कहा, "हमारा दिन तब शुरू होता है, जब हम जागते हैं और खत्म हमारे सोने से होता है।" जेनिफर उठने के लिए ऐसा समय तय करने की सलाह देती हैं जो आपके काम का हो। इस रुटीन को 6 या 7 दिन के लिए बनाकर रखें। उन्होंने कहा, "इसका मतलब हो सकता है कि आपको वीकेंड्स पर भी थोड़ा जल्दी उठना पड़े, लेकिन यही चीज आपकी अगली रात के लिए अच्छी नींद का कारण भी बनेगी। रोज एक ही समय पर सोने की भी आदत डालें।"

भोजन भी आपके दिन को तय करने में मदद कर सकते हैं। न्यूट्रीशनल हैपन्स की फाउंडर मे जुहू ने कहा, "अपने खाने के शेड्यूल को समझना, दूसरी एक्टिविटीज के लिए मददगार हो सकता है। इससे पता चलता है कि हम एक्सरसाइज, सोना या काम कब कर सकते हैं।" इसके अलावा खाना बनाना भी अच्छी एक्टिविटी हो सकती है। उन्होंने कहा, "खाने से पहले खाना बनाने का समय तय करने से आप इसमें बच्चों को भी शामिल कर सकेंगे। इससे बच्चे खाने और हेल्दी चॉइस के बारे में जानेंगे।" एक्सपर्ट्स डिनर के जरिए स्क्रीन टाइम को बनाने की सलाह देते हैं।

खुद से सवाल करें- क्या यह काम कर रहा है?
भले ही आप शेड्यूल बनाने में अच्छे हैं, लेकिन यह जानना बहुत जरूरी है कि यह ठीक से काम कर रहा है या नहीं। डोकुन ने कहा, "इसकी जांच करें और अपने रुटीन में उतारें। यही एक चीज होती है, जो लोग आमतौर पर चूक जाते हैं।" अपनी लय को बनाने में तीन हफ्तों का समय लग सकता है। अगर आपको अभी भी प्रोग्रेस नजर नहीं आ रही है तो समझ जाएं कि यह वक्त कुछ सुधार का है।

याद रखें कि अगर यह वक्त पैरेंट्स के लिए तनाव का है, तो बच्चे भी इसका सामना कर रहे हैं। अमेरिकन एकेडमी ऑफ पीडियाट्रिक्स की प्रवक्ता और पीडियाट्रिशियन कोरिन क्रॉस ने कहा, "कई बार हमको लगता है कि बच्चे सामान्य स्थिति में वापस आ जाएंगे। ऐसे में डिनर या बच्चों को सुलाने से पहले दिमाग में यह शेड्यूल कर लें कि बच्चों को देखना है।"

रुटीन बनाते वक्त अपने साथ कठोर न बनें
सभी एक्सपर्ट्स इस बात पर सहमति जताते हैं कि रुटीन बनाने और लागू करने में सबसे जरूरी बात यह होती है कि आप खुद के साथ कठोर न बनें। गोमीह का कहना है, "रुटीन का मतलब यह नहीं होता कि आपको हर दिन के हर घंटे का हिसाब बनाना ही है। अगर कुछ गलत हुआ तो सब बिगड़ जाएगा।" उन्होंने कहा कि रुटीन मार्गदर्शन का काम करते हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कड़ी मेहनत और परीक्षा का समय है। परंतु आप अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में सफल रहेंगे। बुजुर्गों का स्नेह व आशीर्वाद आपके जीवन की सबसे बड़ी पूंजी रहेगी। परिवार की सुख-सुविधाओं के प्रति भी आपक...

और पढ़ें