गुजरात की फराली तरकारी:सब्जियों का संगम है ये, चावल और पापड़ के साथ बढ़ेगा इसका स्वाद; इसे बनाने पर मिलेगा इनाम

2 महीने पहले

गुजरात में फराली तरकारी काफी मशहूर है। इसे नवरात्र के वक्त खासतौर से बनाया जाता है। इसके अलावा दीवाली के वक्त यानी कार्तिक के महीने में भी ज्यादातर लोग इसे बनाना पसंद करते हैं। हेल्थ के नजरिए से देखा जाए, तो ये हेल्दी डिश है।

पुष्पेश पंत (खानपान विशेषज्ञ) से जानिए फराली तरकारी की खासियत-
गुजरात में शाकाहार साम्राज्य व्यापक है। इसलिए नवरात्र के उपवास की थाली में षडरस भोजन का आनंद दिलाने वाले व्यंजनों के चुनाव में बहुत श्रम नहीं करना पड़ता। पारंपरिक फराली तरकारी बेहद लोकप्रिय है और श्रावण से लेकर कार्तिकमास के पर्वों में इसे पकाया जाता है। इसमें अनेक सब्जियों का संगम होता है और कुछ-कुछ केरल के अवियल की याद दिलाती है, पर इसमें नारियल का दूध या तेल का इस्तेमाल नहीं होता।

शेफ ने सिंघाड़े के आटे का उपयोग कर इसे गाढ़ा और अधिक पौष्टिक बनाकर आधुनिक 'स्टू' का रूप दिया है।

तो चलिए पर्व के पकवान सीरीज में हम बताते हैं इसे बनाने का तरीका...

पर्व के पकवान सीरीज की चौथी रेसिपी हैं फराली तरकारी, जिसे बनाने का तरीका सीखा रही हैं शेफ रूशीना घिलडियाल।

4-5 लोगों के लिए बनाना है, तो चाहिए ये सामग्री:

  • घी-1 बड़ा चम्मच
  • हरी मिर्च- 1 कप बारीक कटी हुई
  • जिमीकंद (सूरन) और आलू- 1 कप छीले और छोटे टुकड़ों में कटे हुए
  • लौकी और परवल- 2 कप छीले और छोटे टुकड़ों में कटे हुए
  • बादाम पेस्ट- 1/4 कप
  • दही- 150 मिली.
  • पानी- 300 मिली
  • सिंघाड़े का आटा- 3 बड़े चम्मच
  • सेंधा नमक- स्वादानुसार

बनाने में समय लगेगा: 30-35 मिनट

बनाने का तरीका:

  • पैन में मीडियम आंच पर घी गर्म करके मिर्च तड़काएं।
  • जिमीकंद और आलू मिलाकर 5-8 मिनट तक पकाएं।
  • लौकी और परवल डालकर 3-4 मिनट तक पकाएं।
  • अब एक बाउल में बादाम, सिंघाड़े का आटा, दही, पानी और नमक मिलाएं।
  • इसे सब्जियों में मिलाकर मीडियम आंच पर उबाल आने तक पकाएं।
  • फिर धीमी आंच करके 10 मिनट तक सब्जियां पकने तक पकाएं।
  • गर्मा-गर्म फराली तरकारी चावल और पापड़ के साथ परोसें।

जीतिए रोज 3100-3100/- रु के पांच इनाम...

शेफ के बनाए व्यंजन को बनाकर आप इसका वीडियो 9190000090 पर मिस्ड कॉल के जरिए हम से शेयर कर सकते हैं। बेस्ट पांच वीडियो को रोज मिलेंगे आकर्षक इनाम

पर्व के पकवान में ऐसे ही कुछ और आर्टिकल भी पढ़ेंः

1. बंगाल की रेसिपी कोराईशुतिर कचौड़ी:आलू दम के साथ चटकारे लेकर खाएंगे घरवाले, वीडियो भेजें और जीतें ₹3100 के इनाम

आलू दम से तो आप सभी की पहचान है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि कोराईशुतिर कचौड़ी क्या है? दरअसल, ये बंगाल की फेमस डिश है, जिसे त्योहार के दौरान या ठंड के मौसम में हरी मटर की स्टफिंग के साथ बनाया जाता है। (पढ़िए पूरी खबर)

खबरें और भी हैं...