जरूरत की खबर:नींद पूरी न होने पर याद्दाश्त हो जाती है कमजोर; जानिए कितनी जरूरी अच्छी नींद, किस उम्र में कितना सोना चाहिए

11 दिन पहले

भाग दौड़ भरी जिंदगी और गड़बड़ रूटीन के कारण कई लोग रात में अच्छी नींद नहीं ले पाते। आज कल ज्यादातर लोग, खासकर युवा रात में ज्यादा देर तक जाग कर काम करते हैं और अगर काम नहीं कर रहे हैं तो मोबाइल इस्तेमाल करते हैं। इसे रिवेंज बेडटाइम प्रोक्रास्टिनेशन कहते हैं, यानी नींद को जबरन टालना, जिससे सेहत पर गलत असर पड़ता है।

हमारी दिनचर्या में नींद बहुत अहम रोल निभाती है। ये सिर्फ बॉडी को ही नहीं बल्कि ब्रेन को भी आराम देती है, जिससे हम पूरे दिन एनर्जेटिक फील करते हैं। अगर आप पूरी नींद नहीं लेते और रात में ज्यादा देर तक जागते हैं, तो ये आपकी सेहत के लिए बेहद नुकसानदेह हो सकता है। अच्छी नींद का मतलब केवल गहरी नींद से नहीं बल्कि आप कब सो रहे हैं ये भी बहुत जरूरी है।

आज जरूरत की खबर में हम आपको बताएंगे हेल्थलाइन के अनुसार नींद से जुड़ी कुछ जरूरी बातें...