जरूरत की खबर:आप भी गर्मी का इंतजार जमकर आम खाने के लिए तो नहीं करते? जानिए इसे खाने और खरीदने का सही तरीका

एक महीने पहलेलेखक: सुनीता सिंह

दुनिया में आम की 1500 से ज्यादा वैरायटी है, जिनमें 1000 तो भारत में ही हैं। सभी का अपना अलग स्वाद होता है। कई लोग गर्मियों का इंतजार मीठे और रसीले आम के लिए करते हैं। अपने स्वाद और क्वालिटी के कारण आम को फलों का राजा कहा जाता है।

आम खाने को लेकर लोगों के मन में कई जरूरी सवाल उठते हैं जैसे…

  • क्या इसको खाने से मोटापा बढ़ता है?
  • डायबिटीज के पेशेंट इसे खा सकते हैं या नहीं?
  • रात के वक्त आम खाएं या फिर नहीं?
  • ज्यादा आम खाने से कोई नुकसान होता है क्या?

तो चलिए जरूरत की खबर में डायटिशियन अंजू विश्वकर्मा से जानते हैं आम से जुड़ी कुछ जरूरी बातें जिससे आप आम के स्वाद के साथ उसका भरपूर फायदा भी ले सकें…

गर्मियों में आम खाने से पहले इन बातों का रखें ख्याल

1 . आम खाने से पहले उसे कुछ देर पानी में भिगोना न भूलें
बाजार से आम खरीदने के तुरंत बाद न खाएं। खाने से पहले कम से कम 2 से 3 घंटे के लिए पानी में भिगोकर छोड़ दें। आम में फाइटिक एसिड नाम का नेचुरल मॉलिक्यूल होता है। अगर आपने इसे ज्यादा मात्रा में खाया तो आपकी हेल्थ बिगड़ सकती है। वहीं आम को पानी में डालकर छोड़ने से पानी एक्स्ट्रा फाइटिक एसिड को सोख लेता है।

2. आम खाने के तुरंत बाद पानी न पिएं
आम खाने के तुरंत बाद पानी पीने से आपको पेट से जुड़ी समस्या हो सकती है। इससे पेट दर्द, एसिडिटी और पेट फूलने जैसी दिक्कत होती है। आम खाने के कम से कम आधे से एक घंटे बाद ही पानी पीना चाहिए।

3. इन चीजों के साथ आम खाने से बिगड़ सकती है तबीयत
ज्यादातर लोग दही और आम को एक साथ लेना पसंद करते हैं। कुछ तो दाल-चावल, सब्जी, दही और आम खाते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं…

  • आम और दही को साथ में खाने से शरीर में ठंडी और गर्मी दोनों ही एक साथ पैदा होती है।
  • इसकी वजह से स्किन में इन्फेक्शन और बॉडी में टॉक्सिन के बढ़ने की समस्या हो सकती है।

4. खाली पेट खाएं आम
खाली पेट आम का खाना सेहत के लिए अच्छा होता है। यह आपके शरीर में एनर्जी बूस्टर की तरह काम करता है। सुबह के समय हमारे शरीर को अल्कलाइन फूड्स की जरूरत होती है। इसलिए खाली पेट आम खान से आपको किसी तरह का नुकसान नहीं होता है।

5 . आमरस खाना सेहत के लिए अच्छा होता है
आम के पल्प से बने आमरस में केसर, इलाइची, चीनी, और 1 से 2 चम्मच घी मिलकर पिएं। यह आपके शरीर में ग्लाइसेमिक इंडेक्स को कम करता है और ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल रखने में फायदेमंद होता है।

सवाल: आम खाने का सही समय क्या है?
जवाब:
आम में कई न्यूट्रिएंट होते हैं, जो आपकी सेहत के लिए काफी फायदेमंद हैं। हालांकि, इसे गलत समय पर खाने से नुकसान भी हो सकता है। बहुत से लोग आम को डिनर के बाद खाना पसंद करते हैं, लेकिन ये तरीका गलत है, क्योंकि आम में फाइबर और कैलोरी की मात्रा बहुत ज्यादा होती है। इसलिए आप उसे सुबह खा सकते हैं, मिड-लंच में खा सकते हैं। इस टाइम पर एक आम खा लेने से आपका पेट भरा रहेगा।

आम खाने का सही तरीका क्या है-

  • अगर आप एक बार में ही ज्यादा आमों का सेवन करते हैं तो इसके साथ दूध भी पिएं, क्योंकि आम गर्म तासीर का होता है और दूध ठंडी तासीर का होता है। जो नुकसान होने से बचाने में मदद करता हैं।
  • खाना खाने के एक घंटे पहले या खाना खाने के एक घंटे बाद आम खाना चाहिए, क्योंकि आम में पोटैशियम, मैग्निशियम और कॉपर जैसे भरपूर तत्व होते हैं।
  • सुबह नाश्ते में आम के टुकड़े या आम का जूस लें। यह आपको दिनभर तरोताजा रखने में मदद करेगा।
  • आम का जूस बनाते समय इसे मीठा करने के लिए किसी भी प्रकार के स्वीटनर का इस्तेमाल न करें।

सवाल: क्या डायबिटीज के पेशेंट आम खा सकते हैं?
जवाब:
आम में नेचुरल शुगर लेवल काफी ज्यादा होता है, लेकिन ऐसा नहीं है कि डायबिटीज वाले लोग आम नहीं खा सकते हैं। आपको बस अपने ब्लड शुगर को कंट्रोल में रखना जरूरी है और उस पर पूरा ध्यान देना है। हाई ब्लड ग्लूकोज, ब्लड शुगर डायबिटीज का साइन होता है। इसलिए ब्लड शुगर लेवल देखकर ही आम खाएं, लेकिन बहुत ज्यादा नहीं।

सवाल: क्या आम खाने से घट सकता है वजन?
जवाब:
कुछ रिसर्च में ये बात सामने आई है कि आम फाइटोकैमिकल्स फैट सेल्स और फैट से संबंधित जीन को दबा सकता है। यानी आम वजन कम करने में मदद कर सकता है। आम इम्यून सिस्टम में भी सुधार कर सकता है।

आम खाने के फायदे

  • आम हाई कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल करने में मदद करता है।
  • आम ब्रेस्ट कैंसर, पेट के कैंसर, प्रोस्टेट कैंसर और ल्यूकेमिया से बचाता है।
  • आम त्वचा को शरीर के अंदर से साफ करता है।
  • यह पोर्स को क्लीन करने के साथ ही स्किन को ग्लोइंग बनाता है।
  • आम और आम के पत्तों को खाने से डायबिटीज कंट्रोल होती है।
  • आम में विटामिन A होता है। इसलिए यह आंखों की रोशनी बढ़ाता है और इंफेक्शन से बचाता है।

अंत में चलते चलते जानते हैं…

मीठे आम चुनने के आसान तरीके
1. मीठे आम को पहचानने का आसान तरीका ये है कि आप इसे छूकर देखें। अगर हलकी उंगली लगाने पर ये धंस जाएं तो समझ लें की आम मीठा है। इस बात का ख्याल रखें कि ये पहले से ही दबे न हों, वरना आप सड़े हुए आम चुन लेंगे।

2. आम को अपनी नाक के पास ले जाएं। अगर सूंघने से किसी कार्बाइड या केमिकल की खुशबू आए तो समझ जाएं कि इसे रसायनों की मदद से पकाया गया है और नेचुरली ग्रो नहीं किए गए हैं।

3. आम को उसकी डंडी वाली जगह के पास सूंघा जा सकता है, ऐसा करने पर अगर अच्छी खुशबू आए तो समझ जाएं कि आम मीठा और खाने लायक पक गया है।

4. कई बार ऐसा देखने को मिलता है कि आमों पर झुर्रियां या लाइन दिख रही हैं, इन्हें गलती से भी न खरीदें क्योंकि ये बेस्वाद होते हैं।

5. आमतौर पर गोल आकार के आम मीठे होते हैं, इसके उलट सपाट, पतले और पिचके हुए आम खाने लायक नहीं होते।

6. कुछ आमों की मिठास को खास तरीके से पहचाना जाता है जैसे अतोल्फो आम (Ataulfo Mangoes) अगर पूरी तरह पक जाएं तो सॉफ्ट और झुर्रीदार हो जाते हैं।

7. हेडेन आमों (Haden Mangoes) की बात करें तो पकने पर इसका छिलका पीला नजर आता है, साथ ही इस पर छोटे सफेद चकत्ते दिखने लगते हैं।

8. फ्रांसिस आम (Francis Mangoes) अगर पक जाए तो हल्के हरे रंग का दिखने लगता है और पूरी तरह बड़ा होने पर इसका कलर सुनहरा हो जाता है।