पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कितना सुरक्षित है आपका मास्क:सर्जिकल मास्क के साथ लगाएं कपड़े का मास्क, डबल मास्किंग ही कोरोना से बचने का सबसे आसान तरीका

2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

देश में कोरोना की दूसरी लहर आ चुकी है। ऐसे में लोगों में भी बीमारी को लेकर डर घर कर गया है। एक्सपर्ट्स शुरुआत से ही मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग और हैंड हाइजीन पर जोर दे रहे थे। अब हालात ऐसे हो गए हैं कि एक्सपर्ट्स दो मास्क पहनने की सलाह देने लगे हैं। यह संक्रमण से बचने का सबसे आसान तरीका है। डबल मास्किंग को लेकर लोगों के मन में कई तरह के सवाल होते हैं, उन सभी सवालों के जवाब हम आपको बता रहे हैं…..

डबल मास्किंग की क्या जरूरत है?
कोरोना वायरस के नए वैरिएंट बहुत तेजी से फैल रहे हैं। संक्रमितों में वायरस लोड भी ज्यादा है। एक वायरस भी बुरी तरह संक्रमित कर सकता है। डबल मास्किंग से मास्क के किनारों में गैप रह जाने की गुंजाइश लगभग खत्म हो जाती है और आप पूरी तरह सुरक्षित हो जाते हैं।

क्या आप एक साथ दो सर्जिकल मास्क लगा सकते हैं?
दो डिस्पोजेबल सर्जिकल मास्क एक साथ पहनना सही नहीं होता। एक स्टैंडर्ड सर्जिकल मास्क कागज जैसे मटेरियल का बना होता है। सर्जिकल मास्क नाक और मुंह को पूरी तरह से कवर नहीं करते हैं। मास्क के किनारे पर गैप रह जाता है, जिससे वायरस अंदर जा सकते हैं। सर्जिकल मास्क के ऊपर कपड़े का मास्क पहनने से गैप होने की गुंजाइश नहीं रहती।

डबल मास्किंग का सही तरीका

दो मास्क पहनने पर भी सर्जिकल मास्क में गांठ लगाकर टक करने की क्या जरूरत है?
अगर सर्जिकल मास्क पूरी तरह से फिट है तो इसकी इलास्टिक पर गांठ लगाकर इसे टक करने की जरूरत नहीं है। लेकिन सर्जिकल मास्क के पूरी तरह से फिट न होने पर इसे गांठ लगाकर टक करने से यह 20% तक ज्यादा सुरक्षित हो सकता है।

N95 और K95 के साथ भी डबल मास्किंग की जरूरत है?
N95 मास्क और चीन में बना K95 मास्क मेडिकल मास्क में सबसे बेहतर माने गए हैं। अगर इन्हें सही तरीके से पहना जाए तो आप 95% तक सुरक्षित हैं। इसलिए इनके साथ डबल मास्किंग की जरूरत नहीं है, बस ये मास्क ओरिजनल हों। क्योंकि एक बार फिर से मार्केट में इनकी शॉर्टेज हो गई है, ऐसे में सर्जिकल मास्क के साथ कपड़े का मास्क ही बेहतर ऑप्शन है। अगर चाहें तो कोरिया में बनें KF94 मास्क का उपयोग भी कर सकते हैं, इसके साथ भी डबल मास्किंग की जरूरत नहीं है।

मास्क पूरी तरह से फिट है या नहीं, ये कैसे चेक करें?
डबल मास्किंग के बाद भी मास्क पूरी तरह से फिट है या नहीं, यह जानना बेहद जरूरी है। इसके लिए मास्क के किनारे पर हाथ रख कर तेजी से सांस लें। अगर किनारों से हवा निकल रही है तो मास्क को टाइट करने की जरूरत है। अगर पूरी तरह से फिट है तो मास्क के अंदर गर्म हवा महसूस होगी।

मास्क फिट है या नहीं, ये चेक करने के लिए कैंडल टेस्ट कारगर है?
कई लोग मास्क पहनने के बाद कैंडल फूंक कर मास्क की फिटिंग चेक करते हैं, जो कि सही नहीं है। कोलंबिया यूनिवर्सिटी के केमिकल इंजीनियर प्रोफेसर वी फये मैकनील का कहना है कि जो मास्क पूरी तरह से फिट नहीं हैं, उन्हें लगाकर भी कैंडल बुझाई जा सकती है। इसलिए मास्क की फिटिंग चेक करने का यह सबसे खराब तरीका है।