पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मां का खुश रहना जरूरी:कहानी के जरिए समझिए, पुरानी परम्पराओं से बाहर आकर नई सोच के साथ मां का रोल निभाना क्यों जरूरी

16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मां की भूमिका बहुत अहम होती है। बच्चे के अपब्रिंगिंग में सबसे बड़ा रोल मां का ही होता है। आमतौर पर माओं से सैक्रिफाइस, हार्ड-वर्क और डेडिकेशन की उम्मीद की जाती है, लेकिन क्या ऐसा करने से एक महिला मां की भूमिका ठीक से निभा सकती है? हम इसे आपको एक कहानी और सायकायट्रिस्ट के जरिए बता रहे हैं।

कहानी डेन्ना लोर्च की

"मां बनने से पहले मुझे यह बताया गया था कि एक अच्छी मां बच्चे के लिए खुद की जान लगा देती है, उसके लिए खुद की चीजें प्रायोरिटी नहीं रह जातीं। सालों पहले कॉलेज के री-यूनियन में, मैं अपनी दोस्त से मिली, जो उस वक्त तीन बच्चों की मां थी। मेरी दोस्त बहुत कमजोर दिख रही थी। मैंने उससे पूछा कि तुम इतनी कमजोर कैसे हो गई? उसने कहा " ऐसा इसलिए है क्योंकि मैं खुद के लिए खाना बनाने का समय नहीं निकालती। मैं बच्चों के प्लेट में ही खा लेती हूं।"

"कुछ साल बाद, जब मैं प्रेग्नेंट ई, तो दोस्तों ने मुझसे मजाक करते हुए कहा कि अभी जितना नहा सकती हो, नहा लो, मां बनने के बाद खुद के लिए समय नहीं मिलेगा।"

"मेरे आसपास जो भी माएं थीं वे बहुत क्लियर थीं कि अगर मां के तौर पर आप खुद के लिए समय निकालती हैं तो आप एक सेल्फिश मां होंगी। मैंने भी खुद के लिए समय निकालना छोड़ दिया, वहीं मेरे पति, हर सुबह अपने टाइम पर नहाकर ऑफिस निकल जाते थे। मुझे यह अजीब लगने लगा। मैं खुद से पूछती कि क्या अच्छी मां बनने के लिए खुद को नजरअंदाज करना जरूरी है? मुझे उस वक्त जवाब नहीं मिला। मैं परंपराओं के मुताबिक चलती गई, कुछ दिन बाद मुझे लगने लगा कि मेरी लाइफ मेरे लिए है ही नहीं। मेरी आदत थी, वीकेंड पर कुछ अच्छा बनाकर खाने की, घूमना, फिल्में देखना, पढ़ना और वर्क-आउट करना मुझे बहुत पसंद था, लेकिन मैं ये सब नहीं कर रही थी। ऐसा लग रहा था कि बच्चे को पालना ही मेरी लाइफ है। अचानक एक दिन मुझे लगा कि ये सबकुछ पित्तृ सत्ता जैसा है। मैंने उस फेज से बाहर निकल कर देखा, मैं मेंटली-फिजिकली स्वस्थ रहने लगी और पहले की तुलना में ज्यादा खुश रहने लगी। मुझे लगा मैं मां के तौर पर भार महसूस कर रही थी जबकि इस भूमिका को एक जिम्मेदारी के तौर पर लेना चाहिए।"

मां के रोल में सहज रहना जरूरी

अमेरिका में सायकायट्रिस्ट डॉक्टर पूजा लक्ष्मी कहती हैं कि आप अपने आप से समझौता करके एक अच्छी मां कभी नहीं बन सकतीं। आप को खुद की ग्रोथ, मेंटल और फिजिकल हेल्थ बेहतर करनी होगी। आप मां के तौर पर जितना सहज रहेंगी, बच्चे की अपब्रिंगिंग उतनी ही बेहतर होगी।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज जीवन में कोई अप्रत्याशित बदलाव आएगा। उसे स्वीकारना आपके लिए भाग्योदय दायक रहेगा। परिवार से संबंधित किसी महत्वपूर्ण मुद्दे पर विचार विमर्श में आपकी सलाह को विशेष सहमति दी जाएगी। नेगेटिव-...

और पढ़ें