जरूरत की खबर:धूप में घर से बाहर निकलने और लौटने पर क्यों होते हैं हम बीमार, जानिए कारण और बचने के उपाय

5 दिन पहलेलेखक: सुनीता सिंह

भीषण गर्मी का कहर जारी है। हर दिन पारा चढ़ रहा है। गर्मियों में होने वाली बीमारियों का सिलसिला भी जारी है। धूप और लू के कारण अक्सर लोग डीहाइड्रेशन का शिकार हो जाते हैं। बावजूद इसके जब हम धूप में बाहर जाते हैं तो कोई-न-कोई लापरवाही जरूर करते हैं। इसी तरह जब हम तेज धूप से घर लौटते हैं, उस वक्त भी बहुत सारी गलतियां करते हैं। यही गलतियां बीमार होने का कारण बन जाती हैं।

आज जरूरत की खबर में मणिपाल टाटा मेडिकल कॉलेज के एसोसिएट स्पेशलिस्ट, डॉ. कुमार राहुल से जानते हैं गर्मी से बचे रहने के लिए कुछ आसान टिप्स।

सवाल– गर्मी में हम क्यों बीमार पड़ते हैं?

जवाब– गर्मी ही नहीं, हम हर बदलते मौसम में बीमार पड़ सकते हैं। मौसम में होने वाले बदलाव की वजह से इंसान की इम्यूनिटी घट सकती है। इस वजह से शरीर में कीटाणु और बैक्टीरिया आसानी से आ जाते हैं। यही आपको बीमार कर देते हैं। इसलिए सलाह यह है कि मौसम के बदलाव को हल्के में नहीं लेना चाहिए।

सवाल– गर्मी के मौसम में किस तरह की बीमारियां होती हैं?

जवाब– गर्मी का कनेक्शन तेज धूप, उमस, धूल भरी हवा और संक्रमण से है। इस मौसम में शरीर में पानी की कमी के साथ, टाइफाइड, फूड पॉइजनिंग जैसी बीमारियां होती हैं। इसके साथ स्किन रिलेटेड बीमारियां जैसे– घमौरी, फंगल इंफेक्शन की प्रॉब्लम भी होती है। इन सबसे बचने के लिए खाने-पीने और रहने के दौरान कई तरह की सावधानी बरती चाहिए। जैसे– इस मौसम में डिहाइड्रेशन से बचने के लिए ज्यादा से ज्यादा लिक्विड और ठंडी तासीर वाले डाइट लेना चाहिए। गन्ने के जूस में बर्फ डालकर पीना इस मौसम में खतरनाक हो सकता है। हाइजीन का ख्याल रखना चाहिए।

तेज धूप से घर लौटने के बाद कौन सी गलती नहीं करनी चाहिए?

  • ठंडा पानी पीने से बचें: अक्सर लोग तेज धूप से घर आने के तुरंत बाद ठंडा पानी पी लेते हैं। धूप से आने के बाद फौरन ठंडा पानी पीने से अचानक शरीर का टेंपरेचर बदल जाता है। जिससे सर्दी -जुकाम या बुखार होने की आशंका होती है। बाहर से आने के बाद पहले अपने बॉडी टेंपरेचर को रूम टेंपरेचर के बराबर होने दें, फिर ठंडा पानी पीने की जगह सादा पानी पिएं।
  • बाहर से आने के बाद नहाएं नहीं: गर्मी में अगर आप कहीं बाहर से चलकर आए हैं, या ड्राइव करके भी आए हैं, तो भी तुरंत आने के बाद न नहाएं। बाहर से आने के बाद शरीर की टेंपरेचर काफी बढ़ा हुआ होता है। ऐसे में शरीर पर पानी गिरने से हमारे शरीर का टेंपरेचर बिगड़ जाता है। सर्दी-जुकाम और सिरदर्द की समस्या हो सकती है।
  • फेस वॉश भी न करें: धूप से घर लौटें तो आते ही तुरंत चेहरा वॉश न करें। इससे फेस के ब्लड वेसल्स फैल जाते हैं, उन्हें सामान्य टेंपरेचर के अनुकूल होने का समय नहीं मिल पाता। बाहर से आने के बाद थोड़ी देर के लिए स्किन को कमरे के नार्मल टेंपरेचर में आने दें। उसके बाद फेस वॉश कर टोनर लगाना न भूलें।
  • धूप से आने के तुरंत बाद AC या कूलर में न बैठें: कई लोग धूप से घर में आते ही कूलर और AC चालू कर देते हैं। ऐसा बिल्कुल नहीं करना चाहिए। याद रखें कि हमारे शरीर को अलग-अलग तापमान के अनुरूप ढ़लने में वक्त लगता है। AC या कूलर चालू करें तो उसका तापमान कम रखें। वहीं कूलर व एसी से निकलकर धूप में न जाएं।

गर्मी में इन बातों का भी रखना होगा खास ख्याल

  • पानी ज्यादा पिएं – डायरिया, कॉन्स्टिपेशन और एसिडिटी की समस्याओं से बचने के लिए ज्यादा से ज्यादा पानी, नींबू पानी, जूस और नारियल पानी पिएं।
  • बाहर का तला-भुना कम खाएं– बाहर का तला-भुना और खुले में बनाया जा रहा कोई भी खाना खाने से बचें। इस मौसम में दूषित खाने या पानी से बीमारी होने का खतरा ज्यादा रहता है।
  • लिक्विड डाइट लें: जितना ज्यादा हो सके लिक्विड डाइट लें। जैसे नींबू पानी, लस्सी, मैंगो शेक, बेल का शरबत आदि। यहां भी वही रूल है, यह सब ज्यादा ठंडा न हो न ही इनमें बर्फ मिला हो।
  • एक बार में अधिक खाने से परहेज करें: गर्मी के मौसम में दिन की शुरुआत मीठे और रसीले फल से करना अच्छा रहेगा। तरबूज, खरबूजा या संतरा सुबह नाश्ते में ले सकते हैं। दोपहर के खाने में प्याज और खीरा सलाद के तौर पर जरूर खाएं। इससे पाचन संबंधी परेशानियां दूर होगी। बॉडी टेंपरेचर भी कंट्रोल में रहेगा।
  • खाने में नमक कम खाएं: नमक ज्यादा खाना हमेशा ही नुकसानदायक है। गर्मी के मौसम में नमक पर कंट्रोल करना चाहिए। सामान्य मात्रा में नमक खाने से ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने में मदद मिलती है।

सवाल– गर्मी में चक्कर आने पर क्या करें?

जवाब– धूप में रहने के कारण अगर आपको थकान या चक्कर आ रहे हैं तुरंत पानी या नींबू पानी पिएं। उस वक्त तुरंत आपको धूप से हट जाना चाहिए। किसी शेड या छायादार जगह पर आराम करें। धूप तेज लगने पर पैरों को हल्का सा ऊपर कर आधे घंटे के लिए लेट जाएं। इससे आपको शरीर को रिकवर करने का समय मिल जाएगा और बेहोशी से भी बच जाएंगे।

सवाल– इस मौसम में रैशेज और घमौरियां भी होती हैं, इससे कैसे बच सकते हैं?

जवाब– सबसे पहले टाइट कपड़े पहनने से बचें। याद रखें कि गर्मी में पसीना ज्यादा आता है। पसीने की वजह से रैशेज और घमौरियों की प्रॉब्लम बढ़ जाती हैं। इससे बचने के लिए खुले और हल्के कपड़े पहनें। समस्या ज्यादा होने पर डॉक्टर की सलाह जरूर लें।