जरूरत की खबर:वैलेंटाइन डे पर है कोरोना प्रोटोकॉल की चिंता? जानिए इसे फॉलो करते हुए कैसे कर सकते हैं सेलिब्रेट

10 महीने पहले

एक तरफ कोरोना की मार, तो दूसरी तरफ प्यार का त्योहार। दोनों को एक साथ मैनेज करना आसान नहीं है। कोरोना से बचते हुए प्यार के त्योहार को सेलिब्रेट करना होगा। इसलिए प्रोटोकॉल को फॉलो करते हुए ही पार्टी की तैयारी करें। आप सोच रहे होंगे ये कैसे मुमकिन है? हम आपको ऐसा तरीका बता रहे हैं जिससे आपका वैलेंटाइन सेलिब्रेशन भी होगा और आपको कोरोना प्रोटोकॉल तोड़ने की भी जरूरत नहीं पड़ेगी।

मैरीलैंड विश्वविद्यालय के मेडिसिन के प्रोफेसर मेगन फिट्जपैट्रिक के मुताबिक, कोरोना को इस बात की परवाह नहीं है कि 14 फरवरी को वैलेंटाइन डे है। इसलिए सलाह वही है- सावधानी जरूरी है, लेकिन आप कोरोना प्रोटोकॉल के साथ सेलिब्रेशन कर सकते हैं।

प्यार में उम्मीद खोने का समय नहीं

रिलेशनशिप एक्सपर्ट और लव, लस्ट एंड लेमन्स किताब की राइटर शाहजीन शिवदासानी के अनुसार, महामारी ने रिश्तों को बेहतर और बदतर दोनों तरह से प्रभावित किया है। इसने कुछ लोगों को अपने रिश्तों पर पूरा ध्यान देने का समय दिया है, तो वहीं बहुत से लोग रिश्तों से दूर चले गए हैं। यह महसूस करते हुए कि उन्हें जीवन से अलग चाहत की जरूरत है, या फिर अब पुराने रिश्ते की जरूरत नहीं।

ऐसे मामले भी सामने आए हैं, जिनमें अनमैरिड कपल फिजिकल रिलेशन न होने की वजह से अलग हो गए। जो लोग डेटिंग कर रहे हैं, उनके लिए सवाल "प्यार में उम्मीद खोने" के बारे में है। उन्हें लग रहा है कि महामारी की वजह से क्या वे फ्यूचर में साथ रह पाएंगे कि नहीं ? एक-दूसरे के मूल्यों को समझने की कोशिश करें। जितना हो सके, सहयोग करें। पार्टनर पर किसी भी तरह के गिफ्ट और रिश्ते का दबाव न डालें।

लिव-इन में रहते हैं तो बेस्ट है ये आइडिया

1. क्लासिक डिनर आउट

अगर आप लिव-इन में रहते हैं तो आपके पास सेलिब्रेशन के लिए काफी ऑप्शन हैं। सबसे बेस्ट ऑप्शन है- एक क्लासिक डिनर आउट। आपके शहर में नाइट कर्फ्यू का एक टाइम होगा। उस टाइम से पहले आप रेस्टोरेंट में डिनर कर सकते हैं। नाइट कर्फ्यू नहीं है तो जब चाहे तब जाएं।

2. रेस्टोरेंट ऐसे सिलेक्ट करें

• सबसे पहले अपने स्थानीय हेल्थ विभाग की वेबसाइट पर जाकर संक्रमण दर चेक करें। अगर कोरोना के मामले कम हैं तो आप बाहर डिनर डेट पर जा सकते हैं।

• ऐसे रेस्टोरेंट देखें जहां पर कोविड प्रोटोकॉल जैसे मास्क पहनना, दो गज की दूरी पर बैठना और लिमिटेड लोगों को एंट्री देने की व्यवस्था की गई हो।

• जिन रेस्टोरेंट्स में ज्यादा भीड़ हो, वहां जाने से बचें।

सोर्स- मेडिसिन की प्रोफेसर मोनिका गांधी, सैन फ्रांसिस्को

3. बाहर जाने का मूड नहीं है तो क्या करें?

अगर आप बाहर खाना खाकर थक गए हैं और शांति से घर पर डिनर करना चाहते हैं तो सोफे पर बैठकर आरामदायक तरीके से डिनर कर सकते हैं। मिनेसोटा विश्वविद्यालय के मेडिसिन विभाग के प्रोफेसर और बाल रोग विशेषज्ञ बेथ थिलेन के अनुसार, घर पर रहना एक अच्छा ऑप्शन है। फिर भी हमें उन रेस्टोरेंट्स का सपोर्ट करना होगा, जिन्हें पैसा कमाने की जरूरत है। इसलिए सेफ्टी का ख्याल रखते हुए घर पर ही कुछ ऑर्डर कर लें।

अगर आप अपने पार्टनर के साथ पहला वैलेंटाइन डे सेलिब्रेट कर रहे हैं तो क्या करें?

• आउटडोर डिनर के साथ किसी पार्क में जाकर पिकनिक मना सकते हैं।

• अगर मौसम अच्छा है तो किसी अच्छी जगह घूमने जाएं।

• बाहर घूमते या खाते वक्त कोविड गाइड लाइन सख्ती से फॉलो करें।

• घर से मास्क पहनकर निकलें। भीड़ वाली जगह पर खड़े होने से बचें।

• हाथों को सैनिटाइज करते रहें।

लॉन्ग डिस्टेंस वाले कपल हैं तो ये आइडिया बेस्ट है आपके लिए

अगर लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशनशिप शेयर करते हैं तो घबराने की जरूरत नहीं। प्रोफेसर मोनिका गांधी के अनुसार, आप वर्चुअल डेट प्लान कर सकते हैं। आप ट्रैवल करके एक-दूसरे के पास पहुंच सकते हैं। बस आपको कुछ सावधानियां रखनी होंगी। जैसे-

• मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग जरूरी है।

• ट्रैवलिंग करते वक्त सिंगल की जगह डबल मास्क का यूज करें।

• किसी भी जगह को छूने से पहले हाथों को सैनिटाइज कर लें।

• जहां जा रहे हैं, वहां कोरोना की सिचुएशन चेक करें।

अगर आपके पार्टनर को कोरोना हुआ है तो क्या करें?

इस वैलेंटाइन डे पर आपका पार्टनर अगर संक्रमित है तो आप उसके साथ वीडियो कॉल करें और अच्छी बातों से उसे स्पेशल फील कराएं। रिकवर होने के बाद सेलिब्रेशन का प्लान करना बेस्ट ऑप्शन है।