• Hindi News
  • Utility
  • Zaroorat ki khabar
  • You Are At Home, But You Have To Go Out To Get Milk And Vegetables And Ration, So How To Prevent Corona From Entering? Read The Complete Guideline ...

कोरोना की दूसरी लहर:आप घर पर हैं, लेकिन दूध-सब्जी और राशन लेने बाहर तो जाना पड़ेगा, ऐसे में कोरोना को घुसने से कैसे रोकें? पढ़िए पूरी गाइडलाइन

7 महीने पहले

कोरोना की दूसरी लहर ने सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। केंद्र और राज्य सरकारों की कोशिश है कि ज्यादातर लोग घरों में ही रहें। कई शहरों में लॉकडाउन लागू है, लेकिन चारदीवारी में बैठे लोगों को भी राशन, दूध, सब्जियां-फल और दवा लेने तो बाहर जाना ही पड़ रहा है। ऐसे में उन्हें चिंता है कि उनके या सामान के साथ कोरोना वायरस घर में न घुस जाए। अमेरिका की फ्लोरिडा यूनिवर्सिटी में हुई रिसर्च के मुताबिक कोरोना के 18% मरीज अपने घर के सदस्यों को भी संक्रमित कर रहे हैं। जबकि सार्स (SARS) में यह दर 7.5% थी और मर्स (MERS) में सिर्फ 4.7%। तो आइए जानते हैं, घर में रहने के दौरान कोरोना से बचने के लिए अमेरिका के सेंटर्स फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) की गाइडलाइन...

होम डिलीवरी

  • य़ह सुनिश्चित करें कि डिलीवरी देनै वाले ने मास्क और दस्ताने पहने हों। ऐसा न हो तो डिलीवरी न लें और संबंधित कंपनी से इसकी शिकायत करें।
  • जब खाने की चीजें या किराने का सामान घर पहुंचे तो कार्डबोर्ड या प्लास्टिक पैकेजिंग को फाड़ दें।
  • घर के बाहर रखे कचरे के डिब्बे में पैकिंग मटेरियल को फेंक दें।
  • साफ हाथों से सामान को बाहर निकालें और उन्हें घर के अंदर लाएं।
  • अपने हाथों को साबुन से अच्छी तरह धो लें या सैनिटाइज कर लें।

राशन या किराना

  • सामान की पर्ची बनाएं : दुकान पर खतरा दुकानदार को सामान बताते या बिलिंग के वक्त होता है। इसलिए जो सामान खरीदना हो उसकी पर्ची बना लें।
  • दस्ताने भी पहनें : मास्क और डिस्टेंसिंग के साथ डिस्पोजेबल दस्ताने भी पहनें, ताकि लेन-देन के दौरान अगर आपने कुछ छू लिया हो तो उससे वायरस को घर में जाने से रोका जा सके।
  • कैश या कार्ड पेमेंट से बचें : बिलिंग के बाद ऑनलाइन पेमेंट करें। ध्यान रहे कार्ड पेमेंट से भी बचें। कैश लेन-देन करना पडे़ तो नोट दस्ताने वाले हाथों से दें या लें।
  • सही समय चुनें : खरीदारी करने के लिए ऐसा समय चुनें जब दुकान पर भीड़ कम से कम हो।

सामान के साथ घर वापसी

  • घर की एंट्री के पास एक काउंटर या टेबल रख लें। कोई सामान लाकर पहले कुछ देर यहां रखें और अगर वह पैक सामान है तो यहीं उसे डिसइनफेक्ट करें।
  • अगर खाने की चीजें टिन या प्लास्टिक कंटेनर में है तो उन्हें साबुन और पानी से धो लें।
  • फल और सब्जियों को टैप चलाकर बहते पानी से अच्छी तरह धो लें।
  • फल-सब्जियों, मटन-चिकन को साबुन या ब्लीच या सैनिटाइजर से न धोएं। यह नुकसान पहुंचा सकता है।
  • मोबाइल फोन कवर को अल्कोहल बेस सोल्यूशन में रुई भिगोकर साफ कर लें।
  • अपने हाथ पैर साबुन से धो लें या सैनिटाइज करें। हो सके तो नहा लें।
  • अपने कपड़े डिटर्जेंट और पानी से धो लें। इन कपड़ों को दूसरे कपड़ों के साथ भी धो सकते हैं।
  • बेहद जरूरी सामान को छोड़कर बाकी खरीदारी टाल दें।

होम सर्विस या रिपेयर

प्लंबर, इलेक्ट्रिशियन या इंजीनियर के घर पहुंचने से पहले

  • स्थानीय प्रशासन के दिशा-निर्देश चेक कर लें कि किस तरह की सेवाओं की अनुमति है।
  • अगर घर में कोई बीमार या बुजुर्ग हों तो सर्विस प्रोवाइडर के पहुंचने से पहले उन्हें किसी एक कमरे में आइसोलेट कर दें।
  • जितना हो सके पहले ही सभी पॉइंट्स पर बातचीत कर लें, ताकि सर्विस प्रोवाइडर को घर पर कम से कम समय बिताना पड़े। जैसे- फोन या ईमेल से काम की जानकारी और तस्वीरें भेज सकते हैं।
  • फोन पर ही कोरोना को लेकर सावधानी बरतने पर बात कर लें। जैसे विजिट के दौरान मास्क पहनना, अंदर आने से पहले शरीर का तापमान लेना या घर के रेस्ट-रूम इस्तेमाल करने या न करने की इजाजत देने से जुड़ी बातें।

जब सर्विस प्रोवाइडर पहुंच जाए

  • सर्विस प्रोवाइडर को मास्क पहनकर अंदर आने को कहें।
  • यदि उसके पास मास्क नहीं है या उसने ठीक से मास्क नहीं पहना है तो उसे अपने पास से तीन लेयर का डिस्पोजेबल मास्क दें।
  • खुद मास्क पहनें और परिवार के सभी सदस्यों को मास्क पहनाएं।
  • सर्विस प्रोवाइडर से कम से 6 फीट की दूरी पर रहें।
  • परिवार के सभी सदस्य सर्विस प्रोवाइडर से कम से कम बात करें।
  • कोशिश करें कि टचलैस पेमेंट करना पड़े।
  • यदि कैश लेन-देन करना पड़े तो इसके फौरन बाद साबुन से अच्छी तरह हाथ धोएं या 60% एल्काेहल वाले सैनिटाइजर से हाथ सैनिटाइज करें।
  • काम पूरा होने के बाद सभी जरूरी सतहों को सैनिटाइज करें।

डॉक्टर को दिखाना और दवा खरीदना

दिखाने से पहले

  • डॉक्टर से ऑनलाइन, फोन पर या ई-मेल पर बात करें।
  • अगर टेली-मेडिसिन की सुविधा उपलब्ध हो तो इसका इस्तेमाल करें।
  • डॉक्टर से आपके ऐसे सभी प्रोसिजर आगे बढ़ाने को कहें जो फौरन जरूरी न हों।

अस्पताल या क्लीनिक के भीतर

  • अगर आपको कोरोना के लक्षण हैं तो डॉक्टर को पहले ही इसकी जानकारी दें।
  • सड़क पर, क्लीनिक या अस्पताल में सही ढंग से सही मास्क लगाए रहें।
  • किसी भी सतह, काउंटर, रेलिंग आदि को न छुएं।
  • अपने चेहरे, आंखों, नाक या मुंह को न छुएं।
  • कोशिश करें कि विजिट के दौरान पब्लिक वॉश-रूम या अस्पताल के वॉश-रूम का इस्तेमाल न करें।
  • सभी से छह फीट की दूरी बनाए रखें।
  • टचलैस मोड से पेमेंट करें। अगर कार्ड या कैश पेमेंट करना पड़े तो इसके फौरन बाद हाथ सैनिटाइज करें।

मेडिकल स्टोर या काउंटर पर

  • डॉक्टर की सलाह के बाद कोशिश करें कि पूरी दवा एक साथ ले लें।
  • एक ही विजिट में फर्स्ट एड बॉक्स की दवाएं और घर के दूसरे मेंबर्स की रूटीन में ली जाने वाली दवाएं भी खरीद लें। जैसे बीपी या शुगर की दवाएं।
  • ऑनलाइन मेडिसिन सप्लाई करने वाली ई कॉमर्स वेबसाइट्स का इस्तेमाल करें।
  • काउंटर से दूरी बनाए रखें। दवा खरीद रहे दूसरे लोगों से खासतौर पर दूर रहें।
खबरें और भी हैं...