Hindi News »Uttar Pradesh »Agra» Atal Bihari Vajpayee Likes Mathura Pakora

अटल बिहारी वाजपेयी को पसंद हैं यहां के पकौड़े, रोज बिकते हैं 500 क‍िलो

अटल बिहारी वाजपेयी जब भी मथुरा आते तब वह यहां चौक बाजार में जाते और मूंग की दाल से बने पकौड़े जरूर खाते थे।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Feb 08, 2018, 11:08 AM IST

  • अटल बिहारी वाजपेयी को पसंद हैं यहां के पकौड़े, रोज बिकते हैं 500 क‍िलो
    +3और स्लाइड देखें
    मथुरा के इन पकौड़ों के शौकीन थे पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी।

    मथुरा (यूपी).पकौड़े को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी के बयान और राज्यसभा में अमित शाह के पकौड़े को बिजनेस बताने की बात पर देश में बहस छिड़ गई है। विपक्ष लगाकर इसपर सरकार को घेर रहा है। DainikBhaskar.com आपको उन पकौड़ों के बारे में बता रहा है, जिनके शौकीन खुद पूर्व पीएम हैं। अटल बिहारी वाजपेयी जब भी मथुरा आते थे, तब यहां के चौक बाजार में जाते और मूंग की दाल से बने पकौड़े जरूर खाते थे। यही नहीं जब मथुरा से कोई दिल्ली जा रहा होता तो उससे भी ये पकौड़े मंगवा लेते थे।

    40 साल पुरानी है दुकान, रोज 50 क‍िलो होती है बिक्री

    - मथुरा के चौक बाजार में स्थित सुरेश पकौड़े वाले की दुकान है। 40 साल पुरानी इस दुकान पर आज भी पकौड़ों के शौकीन लोगों की भीड़ लगी रहती है।

    - शहर के कोने-कोने से यहां लोग पकौड़े खाने आते हैं।

    - दुकान माल‍िक सुरेश ने बताया, पूरे मथुरा में पकौड़े की बहुत ड‍िमांड है। मेरी दुकान से एवरेज 50 क‍िलो पकौड़े रोज बिक जाते हैं।

    - मूंग की दाल के पकौड़े 80 रुपए क‍िलो हैं, ऐसे में इन पकौड़े से डेली करीब चार हजार रुपए के पकौड़े बिक जाते हैं।

    खाने-पीने के शौकीन अटल

    - सीन‍ियर बीजेपी लीडर बांके बिहारी माहेश्वरी ने बताया, अटल जी खाने-पीने के शौकीन थे, पकौड़े मिलते थे तो बड़े प्रेम से खाते थे।

    - बीजेपी जिला मीडिया प्रभारी प्रदीप गोस्वामी के मुताबिक, पार्टी के जो पुराने नेता हैं, वो बताते है कि अटल जी का मथुरा से बहुत लगाव था।

    - जिला प्रमुख भाजपा संजय शर्मा ने कहा, अटल जी को कचौड़ी और पकोड़े से विशेष लागव था। वह जब भी मथुरा आते थे पकौड़े जरूर खाते थे।

    क्या है पकौड़ा पॉलिट‍िक्स?

    - दरअसल, पीएम मोदी ने एक न्यूज चैनल के साथ इंटरव्यू के दौरान एंकर से यह पूछा था कि आप अपने चैनल के बाहर ठेला लगाकर पकौड़े बेच रहे आदमी को इंप्लायड मानेंगे या नहीं?

    - इस बयान को लेकर भी खूब हंगामा हुआ था। व‍िपक्ष ने आरोप लगाया कि पीएम रोजगार जैसे मुद्दे को लेकर गंभीर नहीं हैं।

    - इसके बाद बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह ने राज्‍यसभा में बोलते हुए विपक्ष की 'पकौड़ा' पॉलिटिक्‍स पर जवाब देते हुए कहा है कि पकौड़ा बेचना कोई शर्म की बात नहीं है। यह कम से कम बेरोजगारी से तो अच्‍छा है।

    - अमित शाह ने कहा कि जिस तरह एक चायवाले का बेटा देश का प्रधानमंत्री बन सकता है, उसी तरह एक पकौड़े वाले की भी अगली पीढ़ी उद्योगपति बन सकती है।

    - बता दें, इस साल के यूनियन बजट 2018-19 में भी 'पकौड़ा' शब्द काफी छाया रहा।

  • अटल बिहारी वाजपेयी को पसंद हैं यहां के पकौड़े, रोज बिकते हैं 500 क‍िलो
    +3और स्लाइड देखें
    जब भी मथुरा आते थे अटल, यहां के बने पकौड़े जरूर खाते थे।
  • अटल बिहारी वाजपेयी को पसंद हैं यहां के पकौड़े, रोज बिकते हैं 500 क‍िलो
    +3और स्लाइड देखें
    एवरेज 50 क‍िलो रोज बिक जाते हैं यहां के पकौड़े।
  • अटल बिहारी वाजपेयी को पसंद हैं यहां के पकौड़े, रोज बिकते हैं 500 क‍िलो
    +3और स्लाइड देखें
    शहर के कोने-कोने से यहां पकौड़ा खाने आते हैं लोग।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Agra

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×