--Advertisement--

'पत्नी और बच्चों का रखना ख्याल'..., ये शब्द लिख बिजनेसमैन ने किया एेसा

बड़े भाजपा नेता का नाम होने के कारण पुलिस कुछ बोलने को राजी नही है।

Dainik Bhaskar

Jan 09, 2018, 09:40 PM IST
होटल परिजात पैलेस के कमरा संख्या 202 में ग्वालियर के व्यारी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। होटल परिजात पैलेस के कमरा संख्या 202 में ग्वालियर के व्यारी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

आगरा. यहां के रकाबगंज थाना क्षेत्र के होटल पारिजात में सोमवार को एक एमपी के व्यापारी ने फांसी लगाकर सुसाइड कर लिया। सुबह सफाई करने गए स्वीपर ने जब शव को देखा तो इसकी सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। वहीं, मृतक के पास से 14 पेज का सुसाइड नोट भी बरामद हुआ, जिसमें उसने अपनी मौत की वजह एक बीजेपी नेता को बताया है। साथ हीं, उसमें पत्नी और बच्चों का ख्याल रखने की बात कही है। ग्वालियर का रहने वाला था मृतक...


- जानकारी के अनुसार, ग्वालियर (एमपी) निवासी संतोष कुमार गुप्ता (45) पुत्र स्व. किशोरीलाल गुप्ता व्यापारी था।
- होटल मैनेजर ने बताया कि मृतक संतोष 1 जनवरी को आए थे और कमरा नं 202 में रुके थे। उन्होंने अपना नाम,पता, और एड्रेस के साथ निजी कारणों से आना बताया था।
- रोजना सुबह वह निकल जाते थे और देर रात में वापस आते थे। बीती रात उन्होंने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। सुबह जब स्वीपर कमरे की सफाई करने गया तो दरवाजा नहीं खुल रहा था।
- उसे शक हुआ और उसने रूम के बगल से बने खिड़की से झांककर देखा तो संतोष फांसी के फंदे पर लटका हुआ था। होटल स्टाफ ने इसकी सूचना 100 नंबर पुलिस को दी गई।
- मौके पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा तोड़कर शव को बाहर निकाला और मौके से मिले सुसाइड नोट को अपने कब्जे में ले जांच पड़ताल शुरू कर दी।

सुसाइड नोट में लिखी थी ये बातें
- पुलिस सूत्रों के मुताबिक, सुसाइड नोट के अनुसार नोटबंदी में घाटा होने पर कारोबार छूट गया था। इसके बाद नोटबंदी में नोट बदलने का काम पकड़ा। सोचा, कमीशन मिलेगा तो परेशानी दूर हो जाएगी। इसी चक्कर में कई कारोबारियों से पुराने नोट उठा लिए।
- इसेक बाद अपने दोस्त अमित के द्वारा ग्वालियर के ही परिचित एक भाजपा नेता को 40 लाख रुपए बदलने के लिए दे दिए।
- इस बीच नेता ने उसको 4 लाख रुपए तो दे दिए, लेकिन बाकी के 36 लाख रुपए नहीं दे रहा था। इस वजह से मृतक के ऊपर बहुत कर्ज हो गया था और काफी परेशान रहने लगा था।
- मृतक इस वजह से मानसिक तनाव से गुजर रहा था और इसके चलते सोमवार को सुसाइड कर लिया। सुसाइड नोट में पत्नी और बच्चों का ख्याल रखने की बात कही है।

क्या कहती है पुलिस?
- सीओ लोहामण्डी चमन सिंह छावड़ा का कहना है, ग्वालियर के एक व्यापारी ने सुसाइड कर लिया है। उसके पास सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें मौत की वजह आर्थिक तंगी बताई गई है। फिलहाल, मृतक के परिजनों को सूचना दे दी गई है और मामले की जांच की जा रही है।"

पुलिस को उसके कमरे से 14 पेज का सुसाइड नोट भी मिला है। पुलिस को उसके कमरे से 14 पेज का सुसाइड नोट भी मिला है।
सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा तोड़कर शव को बाहर निकाला। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा तोड़कर शव को बाहर निकाला।
सुसाइड नोट में व्यापारी ने अपनी मौत का जिम्मेदार एक बीजेपी नेता को बताया है। सुसाइड नोट में व्यापारी ने अपनी मौत का जिम्मेदार एक बीजेपी नेता को बताया है।
X
होटल परिजात पैलेस के कमरा संख्या 202 में ग्वालियर के व्यारी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।होटल परिजात पैलेस के कमरा संख्या 202 में ग्वालियर के व्यारी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।
पुलिस को उसके कमरे से 14 पेज का सुसाइड नोट भी मिला है।पुलिस को उसके कमरे से 14 पेज का सुसाइड नोट भी मिला है।
सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा तोड़कर शव को बाहर निकाला।सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा तोड़कर शव को बाहर निकाला।
सुसाइड नोट में व्यापारी ने अपनी मौत का जिम्मेदार एक बीजेपी नेता को बताया है।सुसाइड नोट में व्यापारी ने अपनी मौत का जिम्मेदार एक बीजेपी नेता को बताया है।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..