--Advertisement--

वो मुझसे नहीं म‍िल रही, सारी जिंदगी मेरे लिए तड़पेगी, नोट लिख पति ने किया सुसाइड

आगरा. पत्नी के तलाक का नोटिस मिलने से परेशान होकर एक सर्राफा कारोबारी ने फांसी के फंदे पर लटक कर जान दे दी।

Dainik Bhaskar

Jan 04, 2018, 12:34 PM IST
2 साल पहले हुई थी शादी, दो महीने से मायके में रह रही थी पत्नी। 2 साल पहले हुई थी शादी, दो महीने से मायके में रह रही थी पत्नी।

आगरा. पत्नी के तलाक का नोटिस मिलने से परेशान होकर एक सर्राफा कारोबारी ने फांसी के फंदे पर लटक कर जान दे दी। मरने से पहले फेसबुक और वॉट्सऐप पर दोस्तों को दुआओं में याद रखने की अपील की और चार पेज का सुसाइड नोट भी लिखा। पति की इस हरकत के बाद से पत्नी का रो-रो कर बुरा हाल है। फि‍लहाल, मामले में अभी तक कोई केस दर्ज नहीं करवाया गया है।

दो साल पहले हुई थी शादी


- बाह तहसील के जैतपुर कस्बा क्षेत्र में रहने वाले सर्राफा कारोबारी अमित जैन (32) की शादी दो साल पहले 10 जुलाई 2016 को मैनपुरी की ज्योति से हुई थी।

- अमित पत्नी ज्योति को बहुत प्यार करता था, लेकिन बीते कुछ समय से उनमे अनबन चल रही थी। दो महीने पहले झगड़ा करके ज्योति मायके मैनपुरी चली गई थी।

- अमित ने रिश्तेदारों और परिजनों के जरिए कई बार ज्योति को बुलाने की कोशिश की, लेकिन वो वापस नहीं आई। इससे अमित जैन काफी परेशान रहने लगा था।

- 27 दिसंबर 2017 को अचानक अम‍ित के पास पत्नी की ओर से वकील द्वारा तलाक का नोटिस पहुंचा तो उसके पैरों के नीचे से जमीन खि‍सक गई।

- 30 दिसंबर को उसने शमशाबाद में एक पंचायत बुलवाकर पत्नी को मनाने की कोशिश की, लेकिन ज्योति तैयार नहीं हुई।

कमरे में पहुंचे पिता, नजारा देखते ही उड़े होश

- 3 द‍िन बाद बुधवार की सुबह 11 बजे जब अमित के पिता इन्द्रसेन उसके बाहर न आने पर कमरे में गए तो उनके होश उड़ गए। अमित का शव पंखे के हुक में लगे फंदे पर झूल रहा था।

- आनन-फानन में परिजनों ने अमित को फंदे से उतारा और डॉक्टर के पास ले गए, जहां उसे मृत घोषित कर दिया।

- पुलिस ने बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए भेजा और कमरे की तलाशी ली तो वहां चार पेज का सुसाइड नोट मिला।

सुसाइड नोट में पत्नी के लिए लिखी ये बातें

- सुसाइड नोट में अमित ने परिवार में सभी लोगों से माफी मांगी और पत्नी के लिए लिखा, ''ज्योति मुझसे मिल नहीं रही है और अब मैं भी कभी ज्योति से नहीं मिलूंगा, वो सारी जिंदगी मेरे लिए तड़पेगी, लेकिन मैं कभी मिल नहीं पाऊंगा।''

- सुसाइड नोट में बिजनेस के लेनदेन की जानकारी के साथ सभी लोगों से दुआओं में याद रखने की अपील की गई।

- पुलिस ने सुसाइड नोट को सील कर दिया है। वहीं, अमित जैन के दोस्तों को अफसोस इस बात का है कि उसने फेसबुक और वॉट्सऐप पर सबसे विदा ली और लिखा कि अच्छा चलता हूं दुआओं में याद रखना।

- बता दें, अमित, इन्द्रसेन जैन का बड़ा बेटा था। उसके अलावा परिवार में तीन बहने और एक भाई पुनीत और है। बहनों की शादी हो चुकी है। घटना के बाद से अमित की मां सुधा का रो-रो कर बुरा हाल है।

- वहीं, अंतिम संस्कार के दौरान पत्नी ज्योति भी बुरी तरह रोती रही। घटना की इलाके में जबरदस्त चर्चा है और हर कोई अमित को याद कर रहा है।

27 द‍िसंबर को म‍िला पत्नी की ओर से तलाक का नोटि‍स। 27 द‍िसंबर को म‍िला पत्नी की ओर से तलाक का नोटि‍स।
30 द‍िसंबर को पति ने पंचायत बुलाकर पत्नी को मनाने की कोशि‍श की, लेकिन वो नहीं मानी। 30 द‍िसंबर को पति ने पंचायत बुलाकर पत्नी को मनाने की कोशि‍श की, लेकिन वो नहीं मानी।
3 जनवरी को अम‍ित ने अपने कमरे में फांसी के फंदे से लटककर सुसाइड कर लिया। 3 जनवरी को अम‍ित ने अपने कमरे में फांसी के फंदे से लटककर सुसाइड कर लिया।
X
2 साल पहले हुई थी शादी, दो महीने से मायके में रह रही थी पत्नी।2 साल पहले हुई थी शादी, दो महीने से मायके में रह रही थी पत्नी।
27 द‍िसंबर को म‍िला पत्नी की ओर से तलाक का नोटि‍स।27 द‍िसंबर को म‍िला पत्नी की ओर से तलाक का नोटि‍स।
30 द‍िसंबर को पति ने पंचायत बुलाकर पत्नी को मनाने की कोशि‍श की, लेकिन वो नहीं मानी।30 द‍िसंबर को पति ने पंचायत बुलाकर पत्नी को मनाने की कोशि‍श की, लेकिन वो नहीं मानी।
3 जनवरी को अम‍ित ने अपने कमरे में फांसी के फंदे से लटककर सुसाइड कर लिया।3 जनवरी को अम‍ित ने अपने कमरे में फांसी के फंदे से लटककर सुसाइड कर लिया।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..