Hindi News »Uttar Pradesh »Agra» Taj Mahal Trending On Social Media

चीन-अमेरिका से दुबई तक, ये देश कर चुके हैं ताज महल बनाने की कोशि‍श

पर्यटकों की संख्या और समय तय होने की होने की खबरों के बाद ताज महल एक बार फि‍र सुर्खियों में आ गया है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 03, 2018, 10:41 AM IST

  • चीन-अमेरिका से दुबई तक, ये देश कर चुके हैं ताज महल बनाने की कोशि‍श
    +5और स्लाइड देखें

    आगरा.पर्यटकों की संख्या और समय तय होने की होने की खबरों के बाद ताज महल एक बार फि‍र सुर्खियों में आ गया है। ट्व‍िटर पर भी ताज महल ट्रेंड हो गया है। बता दें, 7वें अजूबे ताज महल को कॉपी करने की कोशिश दुनिया के कई देश कर चुके हैं। DainikBhaskar.com आपको ऐसे देशों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो वर्ल्‍ड क्‍लास बिल्डिंग बनाने में तो माहिर हैं, लेकिन ताज को कभी कॉपी नहीं कर पाए।

    एक द‍िन में 40 हजार पर्यटक कर पाएंगे ताज का दीदार


    - दरअसल, ताज के दीदार करने में पर्यटकों की भीड़ से बचने के लिए एक तैयारी की जा रही है।
    - संस्कृति मंत्रालय में मंगलवार को हुई बैठक में हर रोज सैलानियों की संख्या तय करने पर सहमति बनी है। हालांकि, अभी इस पर कोई फैसला नहीं आया है।
    - मीडि‍या रिपोर्ट्स की मानें तो हर रोज 40 हजार पर्यटक ताजमहल का दीदार कर पाएंगे। ऑनलाइन और ऑफलाइन मीडियम में हर रोज 40 हजार टिकट बेचे जाएंगे।
    - पर्यटक तीन घंटे से ज्यादा देर तक ताज परिसर में रुक नहीं पाएंगे। 15 साल तक के बच्चों के लिए टिकट फ्री होगा।
    - ताज महल के मेन गुंबद जाने के लिए 100 रुपए खर्च करने होगा। सबसे लो वैल्यू का टिकट 40 रुपए के बजाए 50 रुपए टिकट रेट किए जाने का प्रस्ताव है।
    - 40 हजार से ज्यादा पर्यटकों की संख्या होने के बाद अगर टिकट लेना है, तब आपको एक हजार रुपए खर्च करने होंगे।

  • चीन-अमेरिका से दुबई तक, ये देश कर चुके हैं ताज महल बनाने की कोशि‍श
    +5और स्लाइड देखें
  • चीन-अमेरिका से दुबई तक, ये देश कर चुके हैं ताज महल बनाने की कोशि‍श
    +5और स्लाइड देखें
  • चीन-अमेरिका से दुबई तक, ये देश कर चुके हैं ताज महल बनाने की कोशि‍श
    +5और स्लाइड देखें
  • चीन-अमेरिका से दुबई तक, ये देश कर चुके हैं ताज महल बनाने की कोशि‍श
    +5और स्लाइड देखें
  • चीन-अमेरिका से दुबई तक, ये देश कर चुके हैं ताज महल बनाने की कोशि‍श
    +5और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Agra

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×