--Advertisement--

'मेरे रश्के कमर' पर किन्नरों ने कि‍या डांस, देखने के लिए लग गई भीड़

आगरा के खेरिया मोड़ स्थित मिलन वाटिका में इन दिनों किन्नरों का महासम्मेलन चल रहा है।

Danik Bhaskar | Feb 06, 2018, 04:48 PM IST
अागरा में चल रहा क‍िन्नरों का महासम्मेलन। अागरा में चल रहा क‍िन्नरों का महासम्मेलन।

आगरा. खेरिया मोड़ पर स्थित दरगाह कमाल खां में चादरपोशी के लिए क‍िन्नर नाचते-गाते पहुंचे। इस दौरान फ‍िल्मी गीतों पर नाचते गाते देख लोगों की भीड़ लग गई। 'मेरे रश्के कमर, तेरी पहली नजर', गोली चल जावेगी जैसे गानों पर किन्नर जोरदार ठुमके और अपनी अदाकारी दिखा रहे थे।

क‍िन्नरों का चल रहा महासम्मेलन

- बता दें, आगरा के खेरिया मोड़ स्थित मिलन वाटिका में इन दिनों किन्नरों का महासम्मेलन चल रहा है।

- रोटी नजीरन माई की पूजा करने वाली हरिया बाई और रोटी अल्लादिया माई की पूजा करने वाली इंद्रा बाई के नेतृत्व में आयोजित विशाल किन्नर समाज सम्मेलन में पूरे देश के किन्नर भाग ले रहे हैं।

- सम्मेलन के दौरान उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान, पंजाब के अलावा तमाम अन्य गैर राज्यों से आए किन्नर अपनी कलाकारी और अदाकारी दि‍खाई। यह सम्मेलन ताजनगरी में अगले 15 दिन तक चलेगा।

डांस देखने के लिए रुक गए लोगों के कदम

- मंगलवार को किन्नर महासम्मेलन में शिरकत करने वाले सभी किन्नर बाबा कमाल खां दरगाह पर चादरपोशी के लिए निकले थे।

- बैंड बाजों के साथ नाचते गाते किन्नर बाबा कमाल खां दरगाह पर चादरपोशी करने जा रहे थे।

- सोने से लदे किन्नर सभी के लिए चर्चा का विषय बने। नाचते-गाते किन्नरों के साथ कोई सेल्फी ले रहा था कोई वीडियो बना रहा था।

- जहां-जहां से किन्नरों का यह जत्था निकला, लोगों के कदम रुक गए।

- 'मेरे रश्के कमर, तेरी पहली नजर', गोली चल जावेगी जैसे गानों पर किन्नर जोरदार ठुमके और अपनी अदाकारी दिखा रहे थे।

- किन्नरों की अदा को देखकर लोग फिदा हो गए। नोटों की बरसात हो रही थी। करीब 1 घंटे के रास्ते में किन्नरों ने सड़क पर अपना जलवा बिखेरा और बाबा कमाल खां की दरगाह पर चादरपोशी कर इसकी विधिवत शुरुआत की गई।

- बताया जाता है कि किन्नर समाज के महासम्मेलन में हरिया बाई और इंदिरा बाई की गद्दी की ताजपोशी भी होनी है। यही वजह है कि किन्नर समाज में इस सम्मेलन को लेकर खासा उत्साह है। साथ ही यह भी बताना जरुरी है की इस समाज के भी अब दो पक्ष हो गए हैं और किन्नर आपस में दो धडो में बांट गए हैं। एक ही पक्ष इस सम्मेलन में शामिल हुआ है।