Hindi News »Uttar Pradesh »Agra» Mohan Bhagwat Give Message Of Harmony In Agra

गांवों में बसती है भारत की आत्मा, टूटा हुआ 'घर' कभी खड़ा नहीं हो सकता : संघ प्रमुख

संघ प्रमुख ने कहा कि मोहब्बत और जंग में सब कुछ जायज है इससे निजात नहीं मिलेगी।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Feb 24, 2018, 05:03 PM IST

  • गांवों में बसती है भारत की आत्मा, टूटा हुआ 'घर' कभी खड़ा नहीं हो सकता : संघ प्रमुख
    +1और स्लाइड देखें
    संघ प्रमुख ने कहा कि सामाजिक कुरीतियों को खत्म करना होगा।

    आगरा. संघ प्रमुख मोहन भागवत शनिवार को आगरा पहुंचे। समरसता संगम में उन्होंने कहा कि संघ का कार्य सम्पूर्ण देश में समरसता स्थापित करना है। टूटा हुआ घर खड़ा नहीं हो सकता, इसके लिए एकता की आवश्यकता होती है। व्यक्ति के शरीर में भी सभी अंगों की एकता की आवश्यकता होती है। एकरूपता लाने के लिए प्रत्येक की आवश्यकता होती है। प्रत्येक व्यक्ति को भोजन की आवश्यकता
    होती है। दुनिया में जो दिखता है अलग-अलग दिखता है। मोहब्बत और जंग में सब कुछ जायज है इससे निजात नहीं मिलेगी।

    - उन्होंने कहा कि अधिक जमा नहीं करो लोगों को बाटों। दुनिया में जीना संघर्ष है और उसमें बलवान ही विजयी होते है। सामाजिक कुरीतियों को खत्म करें। देश का बुरा हुआ तो हिन्दू को दोषी माना जायेगा। भारत माता पहले है भगवान और हमें भारत माता की जय दुनिया में करानी है।
    - संघ की ओर से आयोजित दो दिवसीय 'समरसता संगम' के उद्घाटन सत्र में आरएसएस प्रमुख ने स्वयंसेवकों से गांवों में जाने की अपील की और अधिक से अधिक युवा शक्ति को संगठन से जोड़ने को कहा।

    - आरएसएस प्रमुख ने कहा कि जिस गति से संघ शहरों में फैल रहा है वह गांवों की अपेक्षा ज्यादा है। अधिक से अधिक ग्रामीण युवा संगठन से जुड़ें, संघ इसके लिए प्रयासरत है।
    - आधुनिकीकरण के बावजूद, आज भी भारत की आत्मा गांवों में ही बसती है।

  • गांवों में बसती है भारत की आत्मा, टूटा हुआ 'घर' कभी खड़ा नहीं हो सकता : संघ प्रमुख
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Agra

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×