Hindi News »Uttar Pradesh »Agra» NCC Cadets Perform At Taj Mahotsav In Agra

गिरी, उठी और फिर ऐसे की हॉर्स राइड‍िंग...ये लड़कियां इंड‍िया को करेंगी रिप्रेजेंट

आगरा. यहां ताज महोत्सव का आगाज हो गया है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Feb 20, 2018, 05:17 PM IST

  • गिरी, उठी और फिर ऐसे की हॉर्स राइड‍िंग...ये लड़कियां इंड‍िया को करेंगी रिप्रेजेंट
    +11और स्लाइड देखें

    आगरा. यहां ताज महोत्सव का आगाज हो गया है। महोत्सव में पहली बार NCC कैडेट्स द्वारा बैंड ड‍िस्प्ले, हॉर्स राइड‍िंग शो और पैरा मोटर्स का आयोजन किया गया। 22 फरवरी तक आगरा कॉलेज ग्राउंड में घुड़सवारी के ख‍िलाड़ी अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे। शो में सबसे ज्यादा चर्चित अलीगढ़ से आए रॉयल रीडिंग क्लब की गर्ल्स टीम और 4 बार पोलो वर्ड कप खेल चुके कर्नल तरसेम सिंह वदैच रहे। हाथरस और अलीगढ की रहने वाली नंदा अग्रवाल और लबीबा शेरवानी ने अपने एक्सपीरियंस dainikbhaskar.com के साथ शेयर किए।

    सिर्फ इसलिए घरवाले नहीं करने देते थे हॉर्स राइड‍िंग

    - 11वीं क्लास की छात्रा नंदा रोज हाथरस से अलीगढ़ जाती हैं और हॉर्स राइडिंग की प्रैक्ट‍िस करती हैं। वो अपनी साथी लबीबा के साथ मार्च महीने में दुबई में होने वाली चैम्प‍ियनश‍िप में इंड‍िया की तरफ से टेंट पैग‍िंग और जम्प‍िंग में भाग लेंगी।

    - नंदा कहती हैं, यह मेरे लिए बहुत बड़ा अवसर है। क्योंकि हमारे स्पोर्ट को लोग ज्यादा तवज्जों नहीं देते।

    - एक बार मेरे स्कूल में हॉर्स राइड‍िंग का शो हुआ था। उस समय हम लोगों को भी घोड़े पर बैठाकर घुमाया गया था। मुझे घुड़सवारी करता देख वहां खड़े कोच अजीम सिद्दीकी ने मुझे हॉर्स राइड‍िंग के लिए प्रेरित किया।

    - हॉस राइड‍िंग के दौरान मुझे कई बार चोट लग चुकी है, लेकिन मैं पीछे नहीं हटी। महोत्सव में भी प्रदर्शन के दौरान मैं गिर गई थी, फिर भी मुझे अच्छे प्वाइंट्स मिले।

    - हालांकि, लड़की होने के नाते मेरे घर वाले मना करते थे। उन्हें डर लगता था कि हड्डी टूट गई या कोई गंभीर चोट लग गई तो क्या होगा। आजतक मैं 8 से 9 बार गिर चुकी हूं, 3 बार फ्रैक्चर भी हुआ। अब तो फैमिली भी मेरा साथ देती है।

    - वहीं, लबीबा ने बताया, मैं ग्रैजुएशन कर रही हूं। स्कूलिंग के दौरान ही मेरी मुलाकात रॉयल राइडिंग क्लब के कोच अजीम सिद्दीकी से हुई थी। 3 साल से हॉर्स राइड‍िंग सीख रही हूं। 30 साल बाद भारत से कोई लड़की हार्स राइडिंग में टेंट पैगिंग खेल रही है। इसके लिए मेरी फैमिली ने मुझे बहुत सपोर्ट किया।

    कहीं अगर स्वर्ग है तो घोड़े की पीठ पर है

    - पंजाब से आए कर्नल तरसेम सिंह ने बताया, ताज महोत्सव में खेलना फक्र की बात है। रॉयल राइडिंग क्लब का अभिनंदन करता हूं। घुड़सवारी तो हमारे खून में है। मेरे पिता सरदार मंजीत सिंह इंडिया के लिए पोलो खेले और मैं खुद तीन बार वर्ल्डकप खेल चुका हूं।

    - मेरा बेटा अनमोल रतन सिंह जूनियर टीम में इंडिया को रिप्रेजेंट कर रहा है। दिल्ली, बंगाल, कलकत्ता में लोग घोड़ों पर काफी काम कर रहे हैं। मुझे अफसोस है कि यूपी में घोड़े तो हैं, पर यहां इस खेल को सपोर्ट नहीं किया जाता।

    - यूपी सरकार को इसे सपोर्ट करना चाहिए। मेरे अनुसार अगर कहीं स्वर्ग है, तो घोड़े की पीठ पर है।

  • गिरी, उठी और फिर ऐसे की हॉर्स राइड‍िंग...ये लड़कियां इंड‍िया को करेंगी रिप्रेजेंट
    +11और स्लाइड देखें
  • गिरी, उठी और फिर ऐसे की हॉर्स राइड‍िंग...ये लड़कियां इंड‍िया को करेंगी रिप्रेजेंट
    +11और स्लाइड देखें
  • गिरी, उठी और फिर ऐसे की हॉर्स राइड‍िंग...ये लड़कियां इंड‍िया को करेंगी रिप्रेजेंट
    +11और स्लाइड देखें
  • गिरी, उठी और फिर ऐसे की हॉर्स राइड‍िंग...ये लड़कियां इंड‍िया को करेंगी रिप्रेजेंट
    +11और स्लाइड देखें
  • गिरी, उठी और फिर ऐसे की हॉर्स राइड‍िंग...ये लड़कियां इंड‍िया को करेंगी रिप्रेजेंट
    +11और स्लाइड देखें
  • गिरी, उठी और फिर ऐसे की हॉर्स राइड‍िंग...ये लड़कियां इंड‍िया को करेंगी रिप्रेजेंट
    +11और स्लाइड देखें
  • गिरी, उठी और फिर ऐसे की हॉर्स राइड‍िंग...ये लड़कियां इंड‍िया को करेंगी रिप्रेजेंट
    +11और स्लाइड देखें
  • गिरी, उठी और फिर ऐसे की हॉर्स राइड‍िंग...ये लड़कियां इंड‍िया को करेंगी रिप्रेजेंट
    +11और स्लाइड देखें
  • गिरी, उठी और फिर ऐसे की हॉर्स राइड‍िंग...ये लड़कियां इंड‍िया को करेंगी रिप्रेजेंट
    +11और स्लाइड देखें
  • गिरी, उठी और फिर ऐसे की हॉर्स राइड‍िंग...ये लड़कियां इंड‍िया को करेंगी रिप्रेजेंट
    +11और स्लाइड देखें
  • गिरी, उठी और फिर ऐसे की हॉर्स राइड‍िंग...ये लड़कियां इंड‍िया को करेंगी रिप्रेजेंट
    +11और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Agra

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×