Hindi News »Uttar Pradesh »Agra» Preparation For Group Marriage In Agra

यहां शादी कराने के लिए नहीं मिल रही लड़कियां, प्रशासन परेशान

28 जनवरी 2018 को आगरा में सामूहिक विवाह का आयोजन किया गया है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 25, 2018, 01:31 PM IST

  • यहां शादी कराने के लिए नहीं मिल रही लड़कियां, प्रशासन परेशान
    +1और स्लाइड देखें

    आगरा (यूपी). यहां मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के लिए प्रशासन को लड़कियां नहीं मिल पा रही हैं। अभी तक 476 के लक्ष्य में मात्र 15 लड़कियों का ही रजिस्ट्रेशन हो पाया है। जबकि सामूहिक विवाह का प्रोग्राम 28 जनवरी को रखा गया है। ये है पूरा मामला...

    - बता दें कि समाज कल्याण विभाग को मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत 476 लड़कियों की शादी करवाने की योजना का काम मिला है। जिलाधिकारी की अध्यक्षता में चल रही योजना में बीपीएल स्तर की आय वाले परिवारों की लड़कियों का सामूहिक विवाह सरकार द्वारा कराया जाना है।
    - जिसमें कन्या को 20 हजार रुपए और 10 हजार का गृहस्थी का सामान भी दिया जाना है। इस व्यवस्था के बावजूद भी प्रशासन को लड़कियां ढूंढे नहीं मिल रही है। हालात यह है कि 476 के लक्ष्य पर मात्र 15 लड़कियों का 28 जनवरी को माथुर वैश्य भवन में विवाह कराया जाएगा।
    - यह हाल तब है जब नगर निगम को 50 और 15 ब्लाक के बीडीओ को प्रति बीडीओ 15 लड़कियों का लक्ष्य रखा गया था।

    अधिकारी ने क्या कहा
    - समाज कल्याण अधिकारी संजीव ने कहा, ''इस योजना में पात्रता के लिए 18 साल से अधिक की उम्र की लड़की होनी चाहिए। परिवार की आय बीपीएल श्रेणी में होनी चाहिए।''
    - ''इस बार 15 के रजिस्ट्रेशन हुए हैं, जिनको 28 को माथुर वैश्य भवन में सामूहिक विवाह कराया जाएगा। सरकार ने यह योजना पहली बार शुरू की है।''

  • यहां शादी कराने के लिए नहीं मिल रही लड़कियां, प्रशासन परेशान
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Agra News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Preparation For Group Marriage In Agra
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Agra

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×