Hindi News »Uttar Pradesh »Agra» Woman Alleges Molestation By Brother In Law

बेड पर सो जाता जेठ..पति कहता-उसकी पत्नी बनकर रहा, महिला ने सुनाई आपबीती

आगरा. यहां एक दलित महिला ने अपने जेठ पर तीन बार रेप करने का आरोप लगाया है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 13, 2018, 12:24 PM IST

बेड पर सो जाता जेठ..पति कहता-उसकी पत्नी बनकर रहा, महिला ने सुनाई आपबीती

आगरा.यहां एक दलित महिला ने अपने जेठ पर तीन बार रेप करने का आरोप लगाया है। महिला का कहना है कि जेठ ने अपनी पत्नी को भगा दिया है और अब वो उसके साथ जबरदस्ती रिलेशन बना रहा है। आरोप है कि इस काम में उसका पति और सास भी उसका साथ दे रहे हैं। इस मामले में सीओ सदर उदय राज का कहना है कि फि‍लहाल मामला संज्ञान में नहीं है। पीड़ित पक्ष को बुलाकर जांच की जाएगी। अगर कोई दोषी है तो उसे सजा जरूर मिलेगी।

क्या है पूरा मामला ?

- पीड़ि‍ता नेहा (काल्पनिक नाम) ने बताया, ''मेरी शादी 6 मई 2017 को आगरा के रहने वाले आकाश से हुई थी। शादी के बाद से ही जेठ कमल गलत नजर से देखता था।''

- ''कमल शादीशुदा है और दो साल पहले पत्नी को घर से मारपीट कर निकाल दिया था।''

- ''एक दिन मैं घर पर अकेली थी, कमल आया और उसने मेरा रेप कर दिया। मैंने पति को बताया तो उसने कहा कि भाई ही तो है, क्या दिक्कत है। उसके पत्नी बनकर रहो।''

- ''मैंने सास को बताया तो उन्होंने कहा, ''बेटे की पत्नी बनकर आई हो, बड़े के साथ भी पत्नी बनकर रहो।''

बेड पर सो जाता था जेठ, तबेले में गुजारनी पड़ती रात

- ''मैंने जब अपने साथ हो रही हरकतों का विरोध किया तो बुरी तरह मारा-पीटा गया। इसके बाद घर में बंधक बनाकर रखा गया।''

- ''मुझसे भैंस का चारा-पानी से लेकर सारे काम कराए जाते थे। खाने को बांसी रोटी दी जाती थी और रात को जब सोने जाती थी तो उसके बेड पर पहले से जेठ लेता रहता था। मजबूरन तबेले में ही रात गुजारनी पड़ती थी।''

- ''कई दिन बचने के बाद बीते 4 जनवरी को जेठ से तीसरी बार रेप किया और विरोध करने पर मुंह में कपड़ा भर कर पीटा और बंधक बना दिया।''

- ''किसी तरह जान बचाकर अपनी बहन के पास पहुंची और आपबीती सुनाई।''

ससुराल वाले बोले- रहना है तो जेठ की पत्नी बनकर रहो

- पीड़िता के परिवार ने नेहा के ससुराल में शि‍कायत की तो उन्होंने कहा कि अगर रहना है तो कमल की पत्नी बनकर रहना पड़ेगा।

- शुक्रवार को पीड़ित परिवार सदर थाने पहुंचा और शिकायत की। आरोप है कि पुलिसवालों ने आरोपी के खिलाफ मेडिकल के आधार पर खानापूर्ती कर मारपीट में चालान कर दिया। वहीं, मेड‍िकल करवाए जाने की गुहार लगाई तो कोई सुनवाई नहीं हुई।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Agra

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×