--Advertisement--

6 महीने से घर में कैद है ये महिला, मदद मांगने का वीडि‍यो हुआ वायरल

आगरा (यूपी). दो दिन से सोशल साइट्स पर वायरल हो रहे एक महिला के विडियो ने लोगों को झकझोर रखा था।

Danik Bhaskar | Feb 16, 2018, 11:05 AM IST
महिला ने वीड‍ियो के जर‍िए एसएस महिला ने वीड‍ियो के जर‍िए एसएस

आगरा (यूपी). यहां एक महिला ने वीडि‍यो के जरिए एसएसपी से न्याय की गुहार लगाई है। इस वीडि‍यो में महिला खुद के कैद होने, ससुरालवालों के अत्याचार और अपनी मासूम बीमार बच्ची के ल‍िए मदद की बात कह रही है।

4 साल पहले हुई थी शादी, बेटी को जन्म देते ही उनका मूड चेंज हो गया

- वीड‍ियो में दिख रही महिला का नाम सीमा है। उसके पिता राजवीर फिरोजाबाद पुलिस विभाग में दारोगा के पद पर तैनात हैं।

- महिला की शादी 5 मार्च 2014 को आगरा के विपिन चौधरी से हुई थी।

- 15 अप्रैल 2015 में उसने एक बेटी को जन्म दिया। बेटी को बचपन से एक बीमारी है। उसका इलाज एम्स में चल रहा है।

- महिला के मुताबिक, बेटी होने के बाद पति और ससुराल के लोग परेशान करते थे।

- 2016 में मामला कोर्ट तक पहुंचा, फिर सुलह हो गई। इसके बाद फिर झगड़ा शुरू हो गया।

- जेठ छेड़छाड़ करते थे। जुलाई 2017 में जबरदस्ती भी की। सास ने भी उनका साथ दिया।

- 13 जुलाई 2017 को उनके खिलाफ रेप जैसी धाराओं में मुकदमा लिखाया, लेकिन शाहगंज थाना पुलिस ने उसे महज मारपीट का मुकदमा बना दिया।

मुझपर ही दर्ज करवा दिया गया चोरी का केस

- पिता के पैसों से ससुराल में एक रूम बनवाया, जिसमें मैं रह रही हूं।

- पारिवारिक झगड़े को देखते हुए पिता ने भी दूरी बना ली है, और अब ससुरालवाले उस हिस्से पर भी कब्जा चाहते हैं।

- आलम ये है कि पुलिस से सेटिंग कर मुझ पर ही अपने ही घर में चोरी का मुकदमा दर्ज करा दिया गया है।

- तहरीर सितंबर की है। घटना अगस्त की और पुलिस अक्टूबर में चोरी का मुकदमा लिख रही है।

एम्स में चल रहा इलाज, मैं घर में कैद

- ''मेरी बेटी के एम्स में इलाज के कागज ससुरालियों ने गायब कर दिए। मैंने दोबारा जैसे-तैसे इलाज शुरू करवाया।''

- ''कई बार एसएसपी कार्यालय जाकर गुहार लगा दी, पर कुछ नहीं हुआ। अब आए दिन ससुरालीजन गाली-गलौच करते हैं। घर में पत्थरबाजी करते हैं।''

- ''दरवाजा खुला मिल जाए तो अंदर घुस आते हैं और घर से निकाल देते हैं।''

- ''बेटी अस्पताल में है और मैं यहां कैद हूं। कैद से बचने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया है।''

- ''वीडियो बना कर मदद मांगी है। मैं लड़ना नहीं चाहती, बस अपनी बेटी का इलाज चाहती हूं, लेकिन सुनवाई नहीं हो रही है।''

- एसपी सिटी कुंवर अनुपम सिंह ने मामला संज्ञान में न होने और शिकायत मिलने पर तत्काल कार्यवाही की बात कही है।