--Advertisement--

शोध छात्रा हत्‍याकांड: सीबीआई जांच की सिफारिश पर उठे सवाल

शोध छात्रा नेहा हत्‍याकांड की सीबीआई जांच की सिफारिश की यूपी सरकार ने कर दी।

Dainik Bhaskar

Jul 25, 2013, 02:54 PM IST
CBI probe in Research student murder case
आगरा. दयालबाग एजुकेशनल इंस्‍टीट्यूट (डीईआई) में 15 मार्च को शोध छात्रा नेहा हत्‍याकांड की सीबीआई जांच की सिफारिश की यूपी सरकार ने कर दी। हालांकि इसके बाद भी कई सवाल उठ खड़े हुए हैं। आगरा पुलिस इस मामले में चार्जशीट भी दाखिल कर चुकी थी। पुलिस एक चश्‍मदीद गवाह को भी सामने ला चुकी है। नृशंस हत्‍या के आरोपी उदय स्वरूप और यशवीर जेल में बंद हैं।
मामला सुलझने के करीब होने के बावजूद मामले की जांच सीबीआई को दिया गया है। हालांकि इसकी मांग भी नेहा के पिता रक्षपाल शर्मा ने ही की थी। यूपी सरकार की सिफारिश पर उन्‍होंने पत्रकारों को अपने वकील से ही बात करने को कहा। उनके वकील दुर्गविजय सिंह ने बताया कि उम्‍मीद है कि सीबीआई इस हत्‍याकांड के सारे राज को खोल देगी।
नेहा की हत्‍या के बाद मार्च और अप्रैल महीने में पूरा आगरा सड़कों पर आ गया था। खूब प्रदर्शन और आंदोलन हुए थे। नेहा को इंसाफ दिलाने के लिए संघर्ष कर रहे गांधी स्‍मारक समिति के नेता तेजेंद्र राजौरा ने सीबीआई जांच पर संतोष जताया है। उनका कहना है कि हत्‍याकांड के सारे रहस्‍यों को सुलझाना पुलिस केवश में नहीं था।
तस्वीरों के जरिए जानिए पूरा मामला...
CBI probe in Research student murder case

ब्राह्मण एकता समिति के अध्‍यक्ष ओम शर्मा का कहना है कि पुलिस ने दबाव में आकर जांच का काम ठप कर दिया था। हालांकि डीईआई के एक प्रोफेसर कहते हैं कि कहीं दयालबाग के लालगढ़ी विवाद की जांच की तरह ही लंबे समय तक नेहा हत्‍याकांड का मामला भी ठंडे बस्‍ते में न चला जाए।

CBI probe in Research student murder case

गौरतलब है कि 15 मार्च को डीईआई के नैनो बायोटैक्‍नोलॉजी लैब में नेहा शर्मा की हत्‍या सर्जिकल ब्‍लेड से कर दी गई थी। उस शाम करीब चार बजे अपराधी लैब में घुसे थे। पहले क्‍लोरोफॉम सुंघाने की कोशिश की, लेकिन छात्रा ने प्रतिरोध किया। वह भाग कर दूसरे कमरे में गई। लेकिन दोनों हाथ उसी के दुपट्टे से पीठ ओर से बांध दिए।

CBI probe in Research student murder case

इसके बाद छात्रा का आधा कपड़ा उतार दिया था। इस दौरान छात्रा ने खुद को बचाने में पूरी ताकत लगा दी। तब हत्‍यारे ने सर्जिकल ब्‍लेड से लगातार पेट पर वार कर दिया। दोधारी ब्‍लेड से हर वार से पेट की अंतडि़यां बाहर निकलती चली गई। अपराधी ने गले और बांह पर भी चाकू मारा। लैब के वॉशबेसिन में हाथ धोया। शाम करीब पांच बजे अपराधी ने छात्रा चाबी से लैब का ताला बाहर से बंद कर दिया। वे छात्रा की कार से वहां से चुप-चाप चले गए थे। हत्‍यारे ने नेहा की कार में हत्‍या के सीन का स्‍केच तैयार किया था।

CBI probe in Research student murder case
पुलिस ने इस मामले में अप्रैल में ही उदयवीर को और यशवीर को पकड़ा था। उदयवीर राधास्‍वामी सत्‍संग सभा के अध्‍यक्ष का नाती है। सभा के अध्‍यक्ष सेवानिवृत आईएएस अधिकारी हैं। हत्‍या के बाद ही 16 मार्च को कॉलेज के छात्र-छात्राएं सड़क पर आंदोलन करने को उतर आए। दो दिन तक पूरे शहर में हंगामा होता रहा। 17 मार्च को कई पुलिस टीमों ने जांच पड़ताल के बाद छात्रा के गायब लैपटॉप को लैब के पीछे झाड़ियों से बरामद किया। 18 मार्च को  कॉलेज परिसर में ही नेहा का मोबाइल भी पुलिस ने ढूंढ निकाला। 
 
CBI probe in Research student murder case

पुलिस ने लैब में कार्यालय खोलकर हत्याकांड के खुलासे के लिए पूछताछ शुरू कर दी। पुलिस ने दर्जनों छात्र-छात्राओं के साथ कॉलेज के शिक्षक, नेहा की गाइड समेत सैकड़ों लोगों से पूछताछ की। 31 मार्च को निठारी कांड के फोरेंसिक वैज्ञानिकों की टीम लैब में हत्याकांड के सुराग तलाशने आई। टीम ने यहां रहकर दो दिन तक लैब से साक्ष्य एकत्रित किए। दो अप्रैल को नेहा हत्याकांड की गूंज जम्मू-कश्मीर विधानसभा तक पहुंची। वहां के सांसद ने हत्याकांड का मुद्दा सदन में उठाया। 

CBI probe in Research student murder case

22 अप्रैल को नेहा हत्याकांड में पुलिस ने शिक्षण संस्थान के अधिकारी के रिश्तेदार उदय स्वरूप और यशवीर संधू को हिरासत में लिया। इसके बाद दोनों को जेल भेजा गया। 15 जुलाई को जमानत पर सुनवाई में चश्मदीद गवाह का बयान सामने आया। तब अदालत ने जमानत खारिज कर दी। अब सीबीआई जांच शुरू हुई है।

X
CBI probe in Research student murder case
CBI probe in Research student murder case
CBI probe in Research student murder case
CBI probe in Research student murder case
CBI probe in Research student murder case
CBI probe in Research student murder case
CBI probe in Research student murder case
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..