--Advertisement--

आगरा / परिनिर्वाण दिवस कार्यक्रम से एससीएसटी आयोग के अध्यक्ष प्रो. कठेरिया को वापस लौटाया



विरोध देखकर राम शंकर कठेरिया को हाथ जोड़कर मौके से वापस होना पड़ा। विरोध देखकर राम शंकर कठेरिया को हाथ जोड़कर मौके से वापस होना पड़ा।
X
विरोध देखकर राम शंकर कठेरिया को हाथ जोड़कर मौके से वापस होना पड़ा।विरोध देखकर राम शंकर कठेरिया को हाथ जोड़कर मौके से वापस होना पड़ा।

  • राजनगर लोहामंडी में दलित समाज के कार्यक्रम में ढोल लेकर पहुंचे थे रामशंकर कठेरिया
  • लोगों ने जताई नाराजगी, कहा- श्रद्धांजलि सभा में ढोल बजाना गलत, आगरा के सांसद भी हैं कठेरिया

Dainik Bhaskar

Dec 07, 2018, 11:09 AM IST

आगरा. बाबा साहब भीमराव अंबेडकर के परिनिर्वाण दिवस के मौके पर गुरुवार को राजनगर लोहामंडी में आयोजित कार्यक्रम से दलितों ने एससीएसटी आयोग के चेयरमैन राम शंकर कठेरिया को उल्टे पांव लौटा दिया। कठेरिया यहां ढोल-नगाड़ों के साथ पहुंचे थे। दलितों ने कहा, यह शोक का दिन है और आप खुशी मना रहे हैं। विरोध को देखते हुए कठेरिया को हाथ जोड़ते हुए वहां से निकल गए। कठेरिया आगरा के सांसद भी हैं।

 

 

दरअसल, दलित समाज की तरफ से गुरुवार को राजनगर लोहामंडी में बाबा साहब का परिनिर्वाण दिवस मनाया जा रहा था। लोग डॉक्टर अंबेडकर के चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दे रहे थे। तभी अपने समर्थकों के साथ एससीएसटी आयोग के चेयरमैन राम शंकर कठेरिया ढोल नगाड़े के साथ वहां पहुंच गए। उन्होंने कार्यक्रम में शामिल होने की इच्छा जताई। लेकिन, लोगों ने कठेरिया का विरोध शुरू कर दिया। दलित समाज के लोगों के गुस्से को देख हाथ जोड़कर प्रोफेसर रामशंकर कठेरिया उल्टे पांव लौट गए। दलित समाज ने कहा यह बाबा साहब का परिनिर्वाण दिवस है ढोल नगाड़े बजाकर जन्मदिन ना मनाएं।  रामशंकर कठेरिया की यहां कोई जरूरत नहीं है।

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..