अलीगढ़ / इतिहासकार इरफान हबीब को भाजपा सांसद के वकील ने नोटिस भेजा; मोदी को अनपढ़ कहा था

इतिहासकार इरफान हबीब एएमयू में प्रोफेसर हैं। -फाइल इतिहासकार इरफान हबीब एएमयू में प्रोफेसर हैं। -फाइल
X
इतिहासकार इरफान हबीब एएमयू में प्रोफेसर हैं। -फाइलइतिहासकार इरफान हबीब एएमयू में प्रोफेसर हैं। -फाइल

  • रविवार को एएमयू में इरफान हबीब ने गृहमंत्री को नाम से शाह हटाने का दिया था सुझाव
  • अधिवक्ता ने इतिहासकार के बयान को बताया देश की एकता व अखंडता के लिए खतरा
  • इरफान बोले- ऐसे तमाम पत्र मिलते हैं, यह अभी मिला नहीं, देखूंगा पढ़ने लायक है या नहीं

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2020, 03:28 PM IST

अलीगढ़. इतिहासकार इरफान हबीब द्वारा अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) में रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व गृहमंत्री अमित शाह पर विवादित टिप्पणी दी थी। मंगलवार को अधिवक्ता संदीप चाणक्य ने इरफान हबीब को नोटिस भेजा है। उन्हें सात दिनों के भीतर जवाब देने की बात कहते हुए न्यायालय में वाद दायर करने की चेतावनी भी दी है। इरफान ने कहा कि ऐसे पत्र मिलते रहते हैं, पत्र मिलने के बाद तय करूंगा कि जवाब देना है या नहीं।

रविवार को एएमयू में हबीब ने कहा था- आरएसएस की स्थापना मुसलमानों पर हमला करने के लिए की गई थी। उन्होंने सावरकर को भारत के विभाजन का जिम्मेदार बताया। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अनपढ़ कहा था वहीं, गृहमंत्री अमित शाह को अपने नाम में से शाह हटाने की सलाह दी थी। अधिवक्ता संदीप चाणक्य जो अलीगढ़ सांसद सतीश गौतम के प्रतिनिधि हैं ने हबीब को नोटिस भेजते हुए कहा- इतिहासकार हबीब का बयान देश की एकता, अखंडता और संप्रभुता को बिगाड़ने की कोशिश की है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना