पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जिंदा गायों को दफन देख भड़के लोग, हाईवे जामकर किया प्रदर्शन, सीएम के खिलाफ लगाए नारे

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • नाराज लोगों ने अलीगढ़-मथुरा हाईवे जामकर किया प्रदर्शन
  • एसपी ग्रामीण बोले- उपद्रवियों पर होगी कठोर कार्रवाई

अलीगढ़. इगलास थाना इलाके में मथुरा रोड पर अज्ञात लोगों ने नहर किनारे एक गड्ढे में जिंदा गायों को दफन कर दिया। सुबह खेत पहुंचे ग्रामीणों ने जब गायों को गड्ढे से निकलने की जद्दोजहद करते हुए देखा तो सैकड़ों लोग मौके पर आ गए। सभी जिला प्रशासन व योगी सरकार के खिलाफ नारेबाजी करने लगे। नाराज लोगों ने अलीगढ़-मथुरा मार्ग जामकर दिया। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने लोगों को शांत कराया है। 

 

1) ग्रामीण बोले- पुलिस की मौजूदगी में दफन हुई गायें

इस मामले पर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण मणिलाल पाटीदार का कहना है कि, हो सकता है यह गोवंश पूर्व में नहर किनारे दफन कर दी गई हों, जो आज कुछ लोगों को दिखाई दे गई हैं। लोगों ने इसे बढ़ाचढ़ाकर पेश किया और उपद्रव किया है। उपद्रवियों पर कठोर कार्रवाई की जाएगी। 

इगलास थाना क्षेत्र के गांव टीकापुर के पास नहर किनारे बुधवार रात कई गायों को मृत समझकर दफनाया गया था। सुबह आसपास खेतों में जब काम करने के लिए किसान पहुंचे तो लोगों ने गायों को गड्ढे से निकलने की कोशिश करते हुए देखा गया। यह देख सैकड़ो किसान मौके पर आ गए। लोगों ने गायों को निकालना शुरू किया तो पांच गायें जिंदा निकलीं। इससे ग्रामीणों का गुस्सा बढ़ गया। गुस्साए किसानों ने सड़क पर कबाड़ डालकर आग भी लगा दी। हालांकि, ये गायें कहां से लाकर यहां दफन की गईं, इसका अभी कुछ पता नहीं चल पाया है। 

 

 

एक किसान ने बताया कि बुधवार रात में कुछ पुलिस वाले वहां मौजूद थे और एक ट्रक भी था। पुलिस की मौजूदगी में गायों को गड्ढे में दफन किया गया है। उधर, राष्ट्रीय गौरक्षा वाहिनी की भावना शर्मा का कहना है कि जिंदा गायों को दफन किया गया, ये हिन्दुओं की भावना पर चोट है। 

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपका कोई भी काम प्लानिंग से करना तथा सकारात्मक सोच आपको नई दिशा प्रदान करेंगे। आध्यात्मिक कार्यों के प्रति भी आपका रुझान रहेगा। युवा वर्ग अपने भविष्य को लेकर गंभीर रहेंगे। दूसरों की अपेक्षा अ...

और पढ़ें