Hindi News »Uttar Pradesh »Agra» Attack On Gallantry Award Holder Nazia Khan At Tajganj In Agra

वीरता अवॉर्ड सम्मानित नाजिया खान पर दबंगों ने किया हमला, परिवार के साथ देखने गईं थी जमीन

इस हमले के बाद नाजिया और उसका परिवार दहशत में है।

Dainikbhaskar.com | Last Modified - Apr 20, 2018, 06:01 PM IST

  • वीरता अवॉर्ड सम्मानित नाजिया खान पर दबंगों ने किया हमला, परिवार के साथ देखने गईं थी जमीन
    +1और स्लाइड देखें
    पुलिस के अनुसार ताजगंज क्षेत्र में नाजिया का एक वकील से जमीनी विवाद है।

    आगरा. वीरता पुरस्कार से सम्मानित नाजिया खान के साथ थाना ताजगंज में शुक्रवार को कुछ दबंगों ने मारपीट की है। मामला ताजगंज क्षेत्र का है। ताजगंज क्षेत्र में एक जमीन को लेकर नाजिया का विवाद चल रहा है। नाजिया खान शुक्रवार को प्रशासनिक अधिकारियों के आश्वासन के बाद परिवार सहित ताजगंज पहुंची थी। यहां पहले से मौजूद दबंगों ने उस पर हमला बोल दिया। फिलहाल पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।


    दहशत में परिवार
    - इस हमले के बाद नाजिया और उसका परिवार दहशत में है।
    - थाना ताजगंज प्रभारी ने बताया कि ताजगंज क्षेत्र में जमीनी विवाद में दोनों पक्षों में झगड़ा हुआ है। नाजिया खान और एक एडवोकेट के बीच जमीनी विवाद चल रहा है। दोनों पक्षों को मेडिकल के लिए भेजा गया है। मेडिकल रिपोर्ट के बाद कुछ स्पष्ट हो सकेगा।

    क्या कहना है नाजिया का

    - नाजिया ने बताया कि मेरा मेडिकल करने के बाद मुझे घर जाने को कहा गया है, जबकि दूसरे पक्ष को कोई चोट नहीं है उसे भर्ती किया गया है। दूसरा पक्ष मेरी मेडिकल रिपोर्ट बदलवाने के लिए दबाव बना रहा है।


    डीजीपी ने बनाया है स्पेशल पुलिस अधिकारी
    -राष्ट्रपति, राज्यपाल, मुख्यमंत्री से बहादुरी पुरस्कार पाने वाली नाजिया खान को डीजीपी ओपी सिंह ने स्पेशल पुलिस अधिकारी बनाया है।
    - नाजिया को इस वर्ष का राष्ट्रीय वीरता पुरस्कार दिया गया था। गणतंत्र दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों यह पुरस्कार दिया गया था।

    दबंगों से अकेले भि‍ड़कर छह साल की बच्ची को बचाया

    - नाजिया ने मंटोला थाना क्षेत्र में 7 अगस्त, 2015 को एक छह साल की बच्ची का अपहरण होने से रोका। अकेले ही बदमाशों से भिड़ गए और उन्हें बाइक से गिरा दिया था। लोगों की भीड़ आने पर बदमाश नाजिया को घायल कर भाग गए, लेकिन बच्ची का अपहरण होने से बच गया था। इस मामले में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने नाजिया को 'रानी लक्ष्मीबाई पुरस्कार' से नवाजा था।

    जुए और सट्टे का कारोबार कराया बंद

    - नाजिया की बहादुरी के चर्चे होने के बाद उसने दोबारा पड़ोस के मकान में चल रहे सट्टे और जुए के कारोबार का विरोध किया।
    - यहां लोग शराब पीकर आते थे और महिलाओं से बदतमीजी करते थे। नाजिया के विरोध के बाद सट्टे का काम बंद हो गया। इसके बाद कई बार पड़ोसियों से झगड़ा हुआ।

  • वीरता अवॉर्ड सम्मानित नाजिया खान पर दबंगों ने किया हमला, परिवार के साथ देखने गईं थी जमीन
    +1और स्लाइड देखें
    26 जनवरी को पीएम मोदी ने नाजिया को वीरता अवॉर्ड से सम्मानित किया था।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Agra

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×