हमला / पाक गोलाबारी में एटा का जवान शहीद, उपेक्षा से नाराज ग्रामीणों ने रोड जामकर किया प्रदर्शन

Dainik Bhaskar

Dec 07, 2018, 06:56 PM IST



जवान राजेश कुमार (फाइल फोटो) जवान राजेश कुमार (फाइल फोटो)
X
जवान राजेश कुमार (फाइल फोटो)जवान राजेश कुमार (फाइल फोटो)

  • शहीद के घर नहीं आया कोई प्रशासनिक अधिकारी व जनप्रतिनिधि
  • नाराज लोगों ने जलेसर-रेजुआ मार्ग जामकर किया प्रदर्शन, रोडवेज पर किया पथराव
  • कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंची, अफसरों ने लोगों को कराया शांत

एटा. जम्मू कश्मीर में गुरुवार को एलओसी पर पाकिस्तानी गोलाबारी में एटा का जवान शहीद हो गया। जवान की तैनाती कुपवाड़ा जिले के 57 आर-आर रेजीमेंट थी। शुक्रवार देर रात तक शव गांव लाए जाने की उम्मीद है। लेकिन दिन भर कोई भी प्रशासनिक अधिकारी या जनप्रतिनिधि शहीद के परिवार को ढांढस बंधाने नहीं पहुंचा। नाराज होकर लोगों ने जलेसर-रेजुआ मार्ग जामकर रोडवेज बस पर पथराव कर दिया। मौके पर पहुंची कई थानों की फोर्स ने भीड़ को तितर बितर किया है।

 

थाना जलेसर के रेजुआ गांव निवासी राजेश की ड्यूटी गुरुवार रात एलओसी पर माछिल सेक्टर में थी। जहां देर रात पाकिस्तान ने संघर्ष उल्लंघन करते हुए फायरिंग कर दी, जिसमें राजेश गोली लगने से शहीद हो गए। सुबह जब बेटे की शहादत की खबर परिजनों को हुई तो लोगों का रो-रोकर बुरा हाल है। 


चार बहनों में इकलौता था राजेश
नेम सिंह यादव के पुत्र राजेश अपनी चार बहनों के इकलौते भाई थे। दो बहनों का विवाह होना अभी बाकी है। राजेश की शादी बागवाला क्षेत्र के गांव परसोन निवासी श्वेता के साथ दो वर्ष पहले हुई थी। पत्नी गर्भवती हैं। घर पर संवेदना देने के लिए के लिए लोग पहुंचे हैं। लेकिन कोई प्रशासनिक अधिकारी या जनप्रतिनिधि शहीद के घर नहीं पहुंचा। इससे गुस्साए लोगों ने मार्ग जामकर करते हुए प्रदर्शन शुरू कर दिया। लोग सीएम योगी को बुलाने की मांग करने लगे। सूचना पर पहुंचे अधिकारियों ने लोगों को शांत कराकर जाम खुलवाया है। 

COMMENT