--Advertisement--

कासगंज में ट्रिपल मर्डर, पुलिस ने खुलासे के लिए गठित की 6 टीमें; तीन की हालत गंभीर

भीड़ ने पुलिस पर पथराव शुरु किया जवाबी कार्रवाई करते हुए पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे।

Dainik Bhaskar

May 12, 2018, 12:00 PM IST
हत्या के विरोध में लोगों ने पुलिस पर पथराव किया। हत्या के विरोध में लोगों ने पुलिस पर पथराव किया।

कासगंज. जिले के सहवर थाना क्षेत्र के अवंतीबाई नगर में गुरुवार रात तीन लोगों की हत्या के बाद इलाके में तनाव का माहौल है। शुक्रवार को घटना के विरोध में लोगों ने रोड जाम कर दिया वहीं, भीड़ ने पुलिस पर पथराव शुरु किया जवाबी कार्रवाई करते हुए पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे। मौके पर तनाव को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

- बता दें कि कासगंज के कस्बा सहावर में बदमाशों ने वीभत्स घटना को अंजाम देते हुए एक मकान में डाका डाला। बदमाशों ने परिवार के तीन लोगों की हत्या कर दी। जबकि 3 लोगों की हालत गंभीर है। सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंची। लेकिन लोगों ने शव को उठाने से रोक दिया। पुलिस के मुताबिक ऐसा प्रतीत होता है कि लूट-पाट की घटना को अंजाम देने के लिए हत्या की गई है।

डीजीपी ने लिया संज्ञान
- कासगंज में हुए ट्रिपल मर्डर का संज्ञान लेते हुए यूपी पुलिस के डीजीपी ओपी सिंह ने मामले की जानकारी एडीजी लॉ एंड आर्डर आनंद कुमार से मांगी है और मामले के जल्द खुलासे के लिए एसटीएफ को जांच सौंपी गई है।

एडीजी अजय आनंद ने बताया कि डकैती की इस घटना के खुलासे और आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए 6 टीमें गठित की गईं हैं। जरूरत होगी तो और टीमों का गठन किया जाएगा। इस केश की मोडस ऑपरेंडी देखकर लगता है कि इसमें घुमंतू जाति के क्रिमिनल शामिल हैं। यूपी एसटीएफ को भी इस घटना के खुलासे में लगाया गया है और पूरे जोन के अनुभवी अधिकारियों और पुलिसकर्मियों को इस घटना के खुलासे और सुरागकसी में लगाया गया है।
- कासगंज के जिला अधिकारि आरपी सिंह ने मृतकों के अंतिम संस्कार के लिए 50 हजार रुपये दिए और दो मृतकों के परिजनों को अलग अलग 5 लाख 30 हजार रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा की जिसमें 5 लाख रुपये कृषक बीमा योजना और 30 हजार रुपये पारिवारिक लाभ योजना से दिए जाएंगे।


लूट के बाद हत्या
- सहावर कस्बे में डकैती के दौरान विरोध करने पर दो महिलाओं सहित तीन लोगों को पीटपीट कर हत्या कर दी गई। हत्या और डकैती की घटना से आक्रोशित लोगों ने पुलिस प्रशाशन के खिलाफ नारेबाजी की थी।

पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए आसू गैस के गोले दागे। पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए आसू गैस के गोले दागे।
X
हत्या के विरोध में लोगों ने पुलिस पर पथराव किया।हत्या के विरोध में लोगों ने पुलिस पर पथराव किया।
पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए आसू गैस के गोले दागे।पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए आसू गैस के गोले दागे।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..