एटा / पति का एनकाउंटर करने की धमकी देकर दो दरोगाओं ने महिला के साथ की ज्यादती



प्रतीकात्मक। प्रतीकात्मक।
X
प्रतीकात्मक।प्रतीकात्मक।

  • दिल्ली से लौटा पति तो गर्भवती मिली महिला, इससे हुआ खुलासा
  • पति के साथ महिला ने एएसपी से मुलाकात कर लिखाई रिपोर्ट
  • एसपी ने आरोपी पुलिसकर्मियों को किया लाइन हाजिर

Dainik Bhaskar

Jul 12, 2019, 01:55 PM IST

एटा. यहां अवागढ़ थाने में तैनात दो दरोगाओं को महिला के साथ ज्यादती के आरोप में लाइन हाजिर कर दिया है। पीड़िता का आरोप है कि, आरोपी पुलिसवालों ने उसके पति का एनकाउंटर करने की धमकी देकर ज्यादती की और वीडियो बना लिया। वीडियो वायरल करने चेतावनी देते हुए दोनों पुलिस कर्मियों ने एक माह तक जुर्म किया। जब महिला गर्भवती हो गई तो उसने अपर पुलिस अधीक्षक से मुलाकात कर दोनों पर केस दर्ज कराया है। 

 

गैर जमानती वारंट जारी होने पर दिल्ली फरार हुआ था युवक

एटा जिले में अवागढ़ थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी एक युवक के खिलाफ कोर्ट ने गैर जमानती वारंट जारी किया था। युवक भागकर दिल्ली चला गया। इस बीच अवागढ़ थाने में तैनात दरोगा योगेश कुमार तिवारी युवक की गिरफ्तारी के लिए उसके घर दबिश देने लगे। पूछताछ के बहाने दरोगा योगेश कुमार तिवारी ने युवक की पत्नी का मोबाइल नंबर हासिल कर लिया। आरोप है कि, दरोगा ने अपने आवास पर बुलाकर महिला के साथ कई बार संबंध बनाए और अश्लील वीडियो भी बना लिया। किसी से यह बात बताने पर पति का एनकाउंटर करने व वीडियो वायरल करने की धमकी दी।  

 

कचेहरी बुलाकर महिला व उसके पति को धमकाया

आरोप है कि, दरोगा योगेश कुमार तिवारी के मकान में ही रहने वाले उसके साथी दरोगा प्रेम कुमार गौतम ने महिला के साथ ज्यादती की। करीब पांच माह बाद बीते दिनों जब युवक अपने घर लौटा तो पत्नी तीन माह के गर्भ से मिली। युवक ने तहरीर में लिखा है कि, हत्या की धमकी से घबराई पत्नी दरोगाओं का जुर्म सहती रही। यह भी आरोप है कि, 8 जुलाई को दोनों दरोगाओं ने पीड़ित युवक और उसकी पत्नी को कचेहरी पर बुलाया जानमाल की धमकी देते हुए सादे स्टांप पेपर हस्ताक्षर कराए हैं।

 

सीओ की जांच के बाद आरोपियों पर दर्ज किया केस

अपर पुलिस अधीक्षक संजय कुमार ने मामले की जांच जलेसर के सीओ गुरमीत सिंह को सौंपी। जांच के बाद अवागढ़ थाने में पीड़ित महिला के पति की तहरीर पर दोनों आरोपी दरोगाओं के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया गया है। साथ ही वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक स्वप्निल ममगाई ने दोनों को लाइन हाजिर कर दिया।

COMMENT