पुलिस ने नहीं सुनी फरियाद; दंपती ने कोतवाली में खुद को किया आग के हवाले, सीएम ने मांगी रिपोर्ट

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • आईजी रेंज ने थाना प्रभारी समेत तीन दरोगा को निलंबित किया
  • मुख्यमंत्री ने डीजीपी से रिपोर्ट मांगी, दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश

मथुरा. दबंगों के उत्पीड़न से आहत एक दंपती ने बुधवार की सुबह सुरीर कोतवाली में पेट्रोल डालकर खुद को आग के हवाले कर दिया। यह देख पुलिस के होश फाख्ता हो गए। सिपाहियों ने तत्काल कपड़ों से आग पर काबू किया। इस मामले में आईजी ने कोतवाल के खिलाफ जांच शुरू के आदेश दिए हैं। साथ ही, थाना प्रभारी अनूप सरोज, दरोगा सुनील कुमार, आरोपी दरोगा दीपक नागर को निलंबित कर दिया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी मामले को संज्ञान मेंं लिया है। 
 

ये भी पढ़ें
पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद पर छात्रा के अपहरण का केस, प्रियंका बोलीं- लड़की लापता, या गायब कर दी?
जानकारी के मुताबिक, सुरीर निवासी जुगेंद्र का आरोप है कि गांव के ही दबंग सत्यपाल ओर उसके साथी आए दिन उससे मारपीट करते हैं। एक दिन घर में घुसकर पत्नी के साथ भी मारपीट और अभद्रता की। उसने पुलिस से शिकायत की। लेकिन, आरोपियों की मिलीभगत के चलते पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। 
 

अस्पताल में कराया भर्ती
दंपती के आग लगा लेने के बाद पुलिस ने एंबुलेंस को बुलाया। पीड़ित दंपति की हालत गंभीर है। डॉक्टरों ने उन्हें दिल्ली के सफदरगंज के लिए रेफर कर दिया। 
 

मुख्यमंत्री ने डीजीपी से मांगी रिपोर्ट
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मामले में डीजीपी से रिपोर्ट तलब की। मुख्यमंत्री ने दोषी पुलिस वालों पर तत्काल कारवाई के आदेश दिए हैं। घटना के बाद आईजी रेंज आईजी ए सतीश गणेश ने घटनास्थल का निरीक्षण किया। अब पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है। 
 


 

खबरें और भी हैं...