--Advertisement--

माघ मेले में रौबदार खाकी का दिखेगा हटके रूप, IG ने अफसरों को दिया ऐसा लेसन

इस बार माघ मेले में स्नानार्थी और कल्पवासियों को खाकी में भी परिवार जैसा रूप दिखाई देगा।

Dainik Bhaskar

Dec 29, 2017, 11:53 AM IST
आईजी रमित शर्मा ने कहा- माघ मेले में आने वाले सभी स्नानार्थी और कल्पवासियों को माता-पिता व रिश्तेदार जैसा ही समझना है। आईजी रमित शर्मा ने कहा- माघ मेले में आने वाले सभी स्नानार्थी और कल्पवासियों को माता-पिता व रिश्तेदार जैसा ही समझना है।

इलाहाबाद(यूपी). यहां माघ मेले में तैनात पुलिस कर्मी इस बार पूरी तरह से बदले नजर आएंगे। स्नानार्थी और कल्पवासियों को खाकी में भी परिवार जैसा रूप गी दिखाई देगा। आईजी रमित शर्मा ने कुछ इसी तरह की सेवा का पाठ गुरुवार को पढ़ाया। उन्होंने कहा- ''माघ मेले में आने वाले सभी स्नानार्थी और कल्पवासियों को माता-पिता व रिश्तेदार जैसा ही समझना है। उनकी परेशानियों को खुद से जोड़कर निराकरण कराना है, ताकि यूपी पुलिस की छवि निखर सके।'' स्नान के लिए तैयार 16 घाट, पुख्ता हो सुरक्षा...

- गुरुवार को आईजी रमित शर्मा संगम नोज के पास माघ मेले में तैनात थानेदार, चौकी प्रभारी व अन्य पुलिस कर्मियों को सेवा, सुरक्षा और स्वच्छता की शपथ दिलाई।
- पुलिसकर्मियों ने श्रद्धालुओं की सेवा करने का संकल्प लिया। इससे पहले आईजी ने जवानों से बातचीत की और उनकी समस्या जानी।
- थाने और चौकी में आवास और खानपान व्यवस्था बेहतर बनाने के निर्देश दिए। कहा गया कि सुरक्षा और स्वच्छता पर विशेष ध्यान दिया जाए।
- ड्यूटी बेहतर ढंग से करना है, लेकिन इसमें किसी भी श्रद्धालु से दुर्व्यवहार नहीं होना चाहिए। दूसरी ओर मेला में इस बार स्नान के लिए करीब 16 घाट बनाए जा रहे हैं।
- सभी पर जल पुलिस और पीएसी के जवानों के साथ गोताखोर तैनात किए जाएंगे। आईजी ने जल पुलिस प्रभारी कड़ेदीन यादव से भी तैयारियों के बारे में जानकारी ली।

स्टेशनों के लिए GRP ने भी की तैयारी
- माघ मेले के दौरान जीआरपी और आरपीएफ के बीच बेहतर समन्वय बनाने के लिए एसपी जीआरपी ने अपने कार्यालय पर एक महत्वपूर्ण बैठक की।
- एसपी ने मेले में चाक-चौबंद व्यवस्था के लिए निर्देश दिए। 31 दिसंबर से माघ मेले के पहले स्नान के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ आनी शुरू हो जाएगी।
- इलाहाबाद जंक्शन, प्रयाग जंक्शन, इलाहाबाद सिटी स्टेशन, नैनी, झूंसी स्टेशनों पर भीड़ बढ़ना लगभग तय माना जा रहा है।
- संगम आने वाले श्रद्धालु बिना किसी परेशानी के आए, स्नान करके ट्रेनों से रवाना हों। कोई चोरी का शिकार न हो। किसी यात्री के साथ अभद्रता न होए इसको लेकर चर्चा हुई।

आईजी रमित शर्मा ने कहा- उनकी परेशानियों को खुद से जोड़कर निराकरण कराना है, ताकि यूपी पुलिस की छवि निखर सके। आईजी रमित शर्मा ने कहा- उनकी परेशानियों को खुद से जोड़कर निराकरण कराना है, ताकि यूपी पुलिस की छवि निखर सके।
कल्पवासियों के लिए करीब 16 घाट बनाए जा रहे हैं। कल्पवासियों के लिए करीब 16 घाट बनाए जा रहे हैं।
मेले में चाक-चौबंद व्यवस्था के लिए निर्देश दिए। मेले में चाक-चौबंद व्यवस्था के लिए निर्देश दिए।
X
आईजी रमित शर्मा ने कहा- माघ मेले में आने वाले सभी स्नानार्थी और कल्पवासियों को माता-पिता व रिश्तेदार जैसा ही समझना है।आईजी रमित शर्मा ने कहा- माघ मेले में आने वाले सभी स्नानार्थी और कल्पवासियों को माता-पिता व रिश्तेदार जैसा ही समझना है।
आईजी रमित शर्मा ने कहा- उनकी परेशानियों को खुद से जोड़कर निराकरण कराना है, ताकि यूपी पुलिस की छवि निखर सके।आईजी रमित शर्मा ने कहा- उनकी परेशानियों को खुद से जोड़कर निराकरण कराना है, ताकि यूपी पुलिस की छवि निखर सके।
कल्पवासियों के लिए करीब 16 घाट बनाए जा रहे हैं।कल्पवासियों के लिए करीब 16 घाट बनाए जा रहे हैं।
मेले में चाक-चौबंद व्यवस्था के लिए निर्देश दिए।मेले में चाक-चौबंद व्यवस्था के लिए निर्देश दिए।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..