--Advertisement--

5000 प्राइमरी स्कूलों को इंग्लिश मीडियम में अपग्रेड करेगा शासन, ये होगा प्रोसीजर

इलाहाबाद. शासन अगले शैक्षिक सत्र 2018-19 से प्रत्येक ब्लाक के 5 प्राथमिक विद्यालयों को इंग्लिश मीडियम अपग्रेड करेगा।

Dainik Bhaskar

Jan 07, 2018, 01:22 PM IST
शैक्षिक सत्र 2018-19 से प्रत्येक ब्लाक के 5 प्राथमिक विद्यालयों को अंग्रेजी माध्यम से संचालित किया जाएगा।(फाइल) शैक्षिक सत्र 2018-19 से प्रत्येक ब्लाक के 5 प्राथमिक विद्यालयों को अंग्रेजी माध्यम से संचालित किया जाएगा।(फाइल)

इलाहाबाद(यूपी). शासन ने अगले शैक्षिक सत्र 2018-19 से प्रत्येक ब्लाक के 5 प्राथमिक विद्यालयों को अंग्रेजी माध्यम से संचालित करने का निर्णय लिया है। इन स्कूलों के लिए प्रधानाध्यापकों और सहायक अध्यापकों का चयन लिखित और व्यक्तित्व परीक्षा के माध्यम से किया जाएगा। इस तरह से सूबे के करीब 5000 प्राइमरी स्कूलो को अंग्रेजी माध्यम मे अपग्रेड किया जाएगा। डिस्ट्रिक्ट लेवल पर बनेगी चयन कमेटी...

- बेसिक शिक्षा परिषद के सचिव की ओर से प्रदेश के मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशक (एडी बेसिक) और सभी बीएसए को आदेश भेजा गया है।

- आदेश में कहा गया है कि प्रधानाध्यापकों और सहायक अध्यापकों के चयन के लिए जिला स्तर पर कमेटी गठित की जाएगी।

- डायट के प्राचार्य इसके अध्यक्ष होंगे, जबकि राजकीय इंटर कॉलेज के अंग्रेजी प्रवक्ता और अंग्रेजी विषय के विशेषज्ञ इसके सदस्य तथा बीएसए सदस्य सचिव होंगे।

50 -50 अंक के होंगे लिखित और व्यक्तित्व एग्जाम
- अंग्रेजी स्कूलों के प्रधानाध्यापक और सहायक अध्यापक के लिए इच्छुक शिक्षकों से आवेदन पत्र लिए जाएंगे।
- इन्हें 50 अंकों की लिखित परीक्षा देनी होगी, जबकि व्यक्तित्व परीक्षा भी 50 अंकों की होगी।
- इसका उद्देश्य शिक्षक-शिक्षिकाओं के प्राथमिक स्तरीय पाठ्यक्रम की जानकारी एवं अंग्रेजी माध्यम में अभिव्यक्ति का परीक्षण करना होगा।


15 मार्च तक पूरी कर लेनी है प्रक्रिया
- लिखित और व्यक्तित्व परीक्षा के जरिए चयनित प्रधानाध्यापकों और सहायक अध्यापकों को डायट में प्रशिक्षित किया जाएगा।
- सचिव ने प्रधानाध्यापकों और सहायक अध्यापकों की चयन प्रक्रिया 15 मार्च तक पूरी करने के निर्देश दिए हैं।


क्या कहते हैं बीएसए ?
- बीएसए संजय कुमार कुशवाहा ने बताया कि प्रदेश सरकार ने अगले शैक्षिक सत्र से सूबे के पांच हजार प्राथमिक विद्यालयों को अंग्रेजी माध्यम से संचालित करने का फैसला लिया है।
- उसी के तहत यह प्रक्रिया शुरू की गई है जिसमें विद्यालयों को इंग्लिश मीडियम में अपग्रेड किया जाएगा

स्कूलों के लिए प्रधानाध्यापकों और सहायक अध्यापकों का चयन लिखित और व्यक्तित्व परीक्षा के माध्यम से किया जाएगा। स्कूलों के लिए प्रधानाध्यापकों और सहायक अध्यापकों का चयन लिखित और व्यक्तित्व परीक्षा के माध्यम से किया जाएगा।
X
शैक्षिक सत्र 2018-19 से प्रत्येक ब्लाक के 5 प्राथमिक विद्यालयों को अंग्रेजी माध्यम से संचालित किया जाएगा।(फाइल)शैक्षिक सत्र 2018-19 से प्रत्येक ब्लाक के 5 प्राथमिक विद्यालयों को अंग्रेजी माध्यम से संचालित किया जाएगा।(फाइल)
स्कूलों के लिए प्रधानाध्यापकों और सहायक अध्यापकों का चयन लिखित और व्यक्तित्व परीक्षा के माध्यम से किया जाएगा।स्कूलों के लिए प्रधानाध्यापकों और सहायक अध्यापकों का चयन लिखित और व्यक्तित्व परीक्षा के माध्यम से किया जाएगा।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..