--Advertisement--

डिप्टी सीएम की मौजूदगी में हुई 204 जोड़ों की शादी, बोले-बेटियों का खर्चा देगी प्रदेश सरकार

इलहाबाद मंडल के चारों जिलों से आई 204 लड़कियों का सामूहिक विवाह कराया गया।

Danik Bhaskar | Dec 09, 2017, 07:11 PM IST
जिले के परेड ग्राउंड में सामूहिक विवाह कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिले के परेड ग्राउंड में सामूहिक विवाह कार्यक्रम आयोजित किया गया।

इलाहाबाद. उत्तर प्रदेश के श्रम एवं सेवायोजन मंत्रालय द्वारा यहां के परेड ग्राउंड में शनिवार को सामूहिक विवाह कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें इलाहाबाद मंडल के चारों जिलों से आई 204 बेटियों का विवाह संपन्न कराया गया। कार्यक्रम में डिप्टी सीएम सहित प्रदेश सरकार के 5 मंत्री और स्थानीय बड़े नेताओं ने भाग लिया। विधि विधान से पूरी की गई शादी की रस्म...



- इलहाबाद मंडल के चारों जिलों से आई 204 लड़कियों का सामूहिक विवाह कराया गया। जिसमें इलाहाबाद की 126, कौशाम्बी की 40, प्रतापगढ़ की 11 और फतेहपुर जिले की 27 लड़कियां आई थी।
- सुबह 11:00 बजे परेड ग्राउंड में गाजे बाजे के साथ दुल्हों की बारात निकाली गई। इसके बाद विधि विधान से शादी की रस्म पूरी की गई।
- इस दौरान सन्तोषधर द्विवेदी ने बताया, "साल 2000 से सामूहिक विवाह करवाते आ रहे हैं। लेकिन अब तक का यह सबसे बड़ा सामूहिक विवाह संपन्न हुआ है। इसके पहले संगम क्षेत्र में ही 101 कन्याओं का सामूहिक विवाह संपन्न करवाया था। यह कार्यक्रम पूरी तरह से वैदिक परंपरा के साथ ग्यारह आचार्य द्वारा वैदिक मंत्रों के साथ संपन्न कराया गया।"
- वहीं, कार्यक्रम में डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा समेत श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद, श्रम राज्य मंत्री मन्नू कोर, उड्डयन एवं स्टांप मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी और जिले के प्रभारी चिकित्सा मंत्री आशुतोष टंडन शिरकत करने पहुंचे। उनके साथ बीजेपी के कई विधायक और स्थानीय बड़े नेताओं ने भी कार्यक्रम में भाग लिया।

"बेटियों की शादी का खर्चा देगी प्रदेश सरकार"
- कार्यक्रम में पहुंचे डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा कि योगी सरकार ने 86 लाख किसानों को ऋण मोचन देकर उनके देयता शुल्क को समाप्त किया।
- प्रदेश सरकार और केंद्र सरकार बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ को बढ़ावा दे रही है। बेटी पैदा होने पर और बेटी की पढ़ाई पर पैसा देने का फैसला लिया गया है। साथ ही, बेटियों के शादी की खर्चा भी प्रदेश सरकार उठाएगी।
- दिनेश शर्मा ने कहा कि अब प्राइवेट स्कूल हर साल एडमिशन फीस नहीं ले सकेंगे। इसके लिए अध्यादेश लाया गया है। अब स्कूलों से ही ड्रेस, जूते या स्कूल की बस लेना अनिवार्य नहीं होगा और ना ही स्कूल इसके नाम से पैसा ले सकेंगे। बोर्ड के एग्जाम सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में होंगे और उसको मॉनिटर करने के लिए भी सेंटर बनाए जाएंगे।

- बता दें, श्रम विभाग में पंजीकृत निर्माण क्षेत्र के श्रमिकों के बेटे-बेटियों के लिए आयोजित इस सामूहिक विवाह कार्यक्रम के अंतर्गत बेटी के माता या पिता के खाते में 55,000 रुपये डाले जाएंगे। जिससे कि वे अपनी बेटी को दैनिक जरूरत की चीजें खरीदकर उन्हें उपहार स्वरूप दे सकें।



कार्यक्रम में डिप्टी सीएम सहित प्रदेश सरकार के 5 मंत्री और स्थानीय बड़े नेताओं ने भाग लिया। कार्यक्रम में डिप्टी सीएम सहित प्रदेश सरकार के 5 मंत्री और स्थानीय बड़े नेताओं ने भाग लिया।
जिसमें इलाहाबाद की 126, कौशाम्बी की 40, प्रतापगढ़ की 11 और फतेहपुर जिले की 27 लड़कियां आई थी। जिसमें इलाहाबाद की 126, कौशाम्बी की 40, प्रतापगढ़ की 11 और फतेहपुर जिले की 27 लड़कियां आई थी।
Titleसुबह 11:00 बजे परेड ग्राउंड में  गाजे बाजे के साथ दुल्हों की बारात निकाली गई। इसके बाद विधि विधान से शादी की रस्म पूरी की गई। Titleसुबह 11:00 बजे परेड ग्राउंड में गाजे बाजे के साथ दुल्हों की बारात निकाली गई। इसके बाद विधि विधान से शादी की रस्म पूरी की गई।
इलाहाबाद मंडल के चारो जिलों से आई 204 लड़कियों का सामूहिक विवाह कराया गया। इलाहाबाद मंडल के चारो जिलों से आई 204 लड़कियों का सामूहिक विवाह कराया गया।
उत्तर प्रदेश के श्रम एवं सेवायोजन मंत्रालय द्वारा ये कार्यक्रम आयोजित किया गया। उत्तर प्रदेश के श्रम एवं सेवायोजन मंत्रालय द्वारा ये कार्यक्रम आयोजित किया गया।