--Advertisement--

सफेद साड़ी में दिखती है औरत...देश के वो रेलवे स्‍टेशन, जहां जाने से डरते हैं लोग

इलाहाबाद. 1 फरवरी 2018 को मोदी सरकार आम और रेलवे बजट पेश करेगी।

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 01:12 AM IST
नैनी रेलवे स्टेशन, इलाहाबाद नैनी रेलवे स्टेशन, इलाहाबाद

इलाहाबाद. 1 फरवरी 2018 को मोदी सरकार आम और रेलवे बजट पेश करेगी। DainikBhaskar.com आपको देश के कुछ ऐसे रेलवे और मेट्रो स्टेशन के बारे में बताने जा रहा है, जहां लोग भूत का साया मानते हैं। लोग इन स्टेशनों पर जाने से भी कतराते हैं।


नैनी स्‍टेशन, यूपी

यूपी के इलाहाबाद के पास स्थित नैनी रेलवे स्टेशन नैनी जेल से कुछ दूरी पर ही है। ऐसा कहा जाता है कि नैनी जेल में कुछ स्‍वतंत्रता सेनानियों की मौत दुर्भाग्‍यपूर्ण तरीके से हो गई थी। उन सेनानियों की आत्‍माएं स्‍टेशन पर घूमती हैं। हालांकि, इनको आजतक किसी ने नहीं देखा। लेकिन स्‍थानीय लोगों की मानें तो आत्‍माओं की उपस्थिति महसूस की जा सकती है।

बेगुनकोदर स्टेशन, कोलकाता बेगुनकोदर स्टेशन, कोलकाता

बेगुनकोदर स्टेशन, कोलकाता

- कोलकाता से 260 किमी दूर बेगुनकोदर स्टेशन है। इस स्टेशन को 1962 में बनाया गया था। कुछ समय तक सब कुछ ठीक रहा, लेकिन 1967 में यहां के लोगों ने भूत देखे जाने का दावा किया, जिसके बाद यह स्टेशन सुनसान रहने लगा।
- 1967 में यहां के स्टेशन मास्टर ने पुरुलिया इलाके में रेलवे लाइन के पास सफेद साड़ी पहने एक भूत देखने का दावा किया था। कुछ दिन बाद उस स्टेशन मास्टर की मौत हो गई। अफवाह फैली कि उस चुड़ैल ने ही स्टेशन मास्टर को मार दिया।
- दावा किया जाता है कि यह उसी महिला का भूत है, जिसकी ट्रेन से कटकर मौत हो गई थी। कोई कहता कि उसने यहां से गुजरते वक्त सफेद साड़ी में एक महिला को प्लेटफॉर्म पर नाचते देखा, तो किसी ने उसे पटरियों के आसपास देखने की बातें कहीं।

बड़ोग रेलवे स्टेशन, शि‍मला बड़ोग रेलवे स्टेशन, शि‍मला

बड़ोग रेलवे स्टेशन, शि‍मला
- कालका से 41 किमी दूर बड़ोग स्टेशन के पास बड़ोग सुरंग है। इसे सुरंग नंबर 33 भी कहते हैं।
- 1143.61 मीटर लंबी यह सुरंग हॉन्टेड प्लेसेस में शुमार है। यह दुनिया की सबसे सीधी सुरंग है, जिसे पार करने में ट्रेन ढाई मिनट लेती है।
- इस सुरंग को बनाने की जिम्मेदारी ब्रिटिश इंजीनियर कर्नल बड़ोग को दी गई थी।
- सुरंग को बनाने कर्नल ने सबसे पहले पहाड़ का इंस्पेक्शन कर दो छोर पर मार्क लगाए और मजदूरों को दोनों छोर से सुरंग खोदने के ऑर्डर दिए।
- उनका अंदाजा था कि खुदाई करते-करते दोनों सुरंगें बीच में आकर मिल जाएंगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ।
- कर्नल बड़ोग की गलती ब्रिटिश सरकार को ठीक नहीं लगी। उन पर सरकार ने पैसे की बर्बादी करने पर 1 रुपए का जुर्माना लगा दिया।
- बड़ोग इस बात को लेकर बेहद परेशान हो गए और एक दिन अपने कुत्ते को लेकर सुबह टहलने निकला और सुरंग के नजदीक ही खुद को गोली मार ली।
- कहा जाता है कि इंजीनियर की मौत के बाद यहां अप्रिय घटनाएं होने लगी थीं। कई लोगों को इंजीनियर की आत्मा दिखाई देने लगी।
- लोगों ने बाद में यहां मंदिर और पूजा अर्चना करवाई मगर इसके बावजूद कई लोग ऐसे हैं जो यहां इंजीनियर के चिल्लाने की आवाजें सुन चुके हैं।

रवींद्र सरोबर मेट्रो स्टेशन, कोलकाता रवींद्र सरोबर मेट्रो स्टेशन, कोलकाता

रवींद्र सरोबर मेट्रो स्टेशन, कोलकाता
- रवींद्र सरोबर मेट्रो स्टेशन को कोलकाता का डरावना स्टेशन माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि रेलवे ट्रैक पर एक लड़की ने सुसाइड कर लिया था। जिसके बाद से उसकी आत्मा इधर-उधर भटकती रहती है।
- इस स्टेशन से गुजरने वाले लोगों का मानना है कि जब इंसान अकेले पड़ जाता है, तो यहां पर उसे कई तरह की अजीब सी आवाजें सुनाई देती है।

द्वारिका सेक्टर 9 मेट्रो स्टेशन, दिल्ली द्वारिका सेक्टर 9 मेट्रो स्टेशन, दिल्ली

द्वारिका सेक्टर 9 मेट्रो स्टेशन, दिल्ली
- दिल्ली के द्वारिका सेक्टर 9 मेट्रो स्टेशन से जुड़ी भी एक कहानी है। यहां से गुजरने वाले लोगों का मानना है कि यहां एक भूतनी का डेरा है।
- लोगों का कहना है कि यहां एक सफेद साड़ी में भूतनी अक्सर दिखती है। कुछ लोग तो ये भी कहते हैं कि कभी-कभी यह भूतनी कारों का पीछा भी करती है।
- ये भी कहा जाता है कि इस भूतनी ने एक स्कूल जाने वाली लड़की को मार दिया था।

X
नैनी रेलवे स्टेशन, इलाहाबादनैनी रेलवे स्टेशन, इलाहाबाद
बेगुनकोदर स्टेशन, कोलकाताबेगुनकोदर स्टेशन, कोलकाता
बड़ोग रेलवे स्टेशन, शि‍मलाबड़ोग रेलवे स्टेशन, शि‍मला
रवींद्र सरोबर मेट्रो स्टेशन, कोलकातारवींद्र सरोबर मेट्रो स्टेशन, कोलकाता
द्वारिका सेक्टर 9 मेट्रो स्टेशन, दिल्लीद्वारिका सेक्टर 9 मेट्रो स्टेशन, दिल्ली
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..