--Advertisement--

बॉस एरोगेंट है-बात नहीं करता..क्या करेंगीं? UPSC में पूछे गए थे ऐसे सवाल

UPSC मेंस 2017 का रिजल्ट आने वाला है। DainikBhaskar.com आपको 2016 की टॉपर से पूछे गए सवालों के जवाब बता रहा है।

Danik Bhaskar | Jan 13, 2018, 09:00 PM IST

इलाहाबाद(यूपी). UPSC मेंस 2017 का रिजल्ट आ चुका है। 2739 कैंडिडेट्स ने रिटेन एग्जाम क्लियर कर अगले पड़ाव 19 फरवरी को होने वाले इंटरव्यू तक पहुंच गए हैं। DainikBhaskar.com ऐसे में इलाहाबाद की सौम्या पांडेय के बारे में बता रहा है, जिसने यूपीएससी 2016 एग्जाम में ऑल ओवर इंडि‍या 4th पोजिशन हासिल की थी। सौम्या 15 दिसंबर 2017 से मसूरी में आईएएस की ट्रेनिंग पर हैं। ट्रेनिंग के दौरान भारत दर्शन यात्रा पर टीम के साथ अंडमान निकोबार में हैं। इन्होंने इंटरव्यू में पूछे गए सवालों को शेयर किया, जिनके जवाब देकर इन्हें चौथी पोजिशन मिली थी।

(आगे की स्लाइड में इन्फो में पढ़ें, किन सवालों के जवाब देकर हासिल की UPSC में 4th रैंक...)


Q. चाइना-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरीडोर में भारत का स्टैंड क्या होना चाहिए ?
A. इंडिया को उसका बायकॉट करना चाहिए।


बचपन से ही टॉपर रही हैं सौम्या

- सौम्या ने केंद्रीय विद्यालय से हाईस्कूल पास कि‍या, जिसमें उनके 98 फीसदी मार्क्स आए। इलाहाबाद पब्लिक स्कूल से इंटरमीडि‍एट का एग्जाम दिया, जिसमें उनके 97.6 फीसदी नंबर थे।
- इसके बाद उन्होंने मोतीलाल नेहरू इंजीनियरिंग कॉलेज से 2015 में बीटेक किया, जिसमें वह गोल्ड मेडलिस्ट रहीं।
- इलेक्ट्रिकल मेकैनिकल से इंजीनियर बनी सौम्या फिलहाल MNNIT से ही एमटेक फाइनल ईयर की पढ़ाई कर रही हैं।
- अपनी सफलता का श्रेय मां साधना को देने वाली सौम्या कहती हैं, ''पिता का दुलार और मां की धैर्यता ने मुझे बहुत प्रेरित किया। इसी वजह से मैं आज इस स्थान पर पहुंच पाई।''

25 म‍िनट तक चला था इंटरव्यू
- सौम्या ने बताया, ''उनका इंटरव्यू करीब 25 मिनट तक चला था। उनसे करीब 9 सवाल पूछे गए थे।''
- ''बचपन से ही मेरा पढ़ाई में काफी इंटरेस्ट था। रोज 7 से 8 घंटे की फोकस्ड पढ़ाई किसी भी स्टूडेंट को उसके मकसद तक पहुंचा सकती है।''
- सौम्या वूमेन पावर को और सशक्त करना चाहती हैं। सौम्या को खेल में बास्केटबॉल और इसके अलावा कथक डांस बहुत पसंद है।

क्या कहना है पिता का?
- पिता डॉ. आरके पांडेय कहते हैं, ''आज प्रधानमंत्री का बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का नारा सौम्या ने सफल कर दिया। मैं चाहता हूं कि जैसे सौम्या ने फर्स्ट अटेम्प्ट में आईएएस एग्जाम क्वालीफाई किया, उसी लगन से वह देश की सेवा करके हमारा नाम रोशन करे।''