Home | Uttar Pradesh | Allahabad | notorious exam centres in up board exam under STF security

UP बोर्ड एग्जाम: नकल माफियाओं पर STF रखेगी नजर, CCTV से लैस होगा सेंटर

यूपी बोर्ड के हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट के बोर्ड एग्जाम 6 फरवरी से शुरू होंगे। प्रैक्टिकल एग्जाम चल चुके हैं।

DainikBhaskar.com| Last Modified - Jan 08, 2018, 12:19 PM IST

1 of
notorious exam centres in up board exam under STF security
यूपी बोर्ड के हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट के बोर्ड एग्जाम 6 फरवरी से शुरू होंगे।

इलाहाबाद(यूपी). यूपी बोर्ड के हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट के बोर्ड एग्जाम 6 फरवरी से शुरू होंगे। प्रैक्टिकल एग्जाम चल चुके हैं। बोर्ड के एग्जाम में नकल माफियाओं पर अंकुश लगाने के लिए माध्यमिक शिक्षा परिषद पहली बार यूपी एसटीएफ की मदद लेगा। इसके लिए सारी तैयारी हो चुकी है एसटीएफ को भी इस बारे में बता दिया गया है। कोडिंग वाली आंसर सीट-CCTV तक की हो चुकी है तैयारी...

 

- ब्लैक लिस्टेड डिस्ट्रिक्ट वाले एग्जाम सेंटरों पर कोडिंग वाली आंसर शीट पर एग्जाम कराने की प्रक्रिया शुरू कराई जाएगी।

- पिछले साल यह डिस्ट्रिक्ट 30 थे, जो इस बार बढ़कर 50 हो गए हैं। एग्जाम सेंटरों के क्लासरूम और बाहर सीसीटीवी कैमरे लगाने की तैयारी है।

- नकल माफियाओं पर रोक लगाने के लिए माध्यमिक शिक्षा परिषद की ओर से इसके लिए एसटीएफ से मदद मांगी गई है। उन्होंने ने भी हामी भर दी है।

- इससे यह तय हो गया है कि यूपी बोर्ड एग्जाम के दौरान एसटीएफ के लोग पेपर आउट कराने वालों से लेकर नकल का ठेका लेने वालों तक पर नजर रखेगी।

 

25 जनवरी के अंदर सभी डिस्ट्रिक्ट में पहुंच जाएंगे आंसर शीट
- यूपी बोर्ड एग्जाम की तैयारियां जोरों पर शुरू है विभाग से मिली जानकारी के अनुसार 6 जनवरी तक प्रदेश के 50% डिस्ट्रिक्ट मे आंसर शीट भेजी जा चुकी है।
- बाकी जिलों में भी यह प्रक्रिया 25 जनवरी के अंदर पूरी कर ली जाएगी।

 

15 जनवरी से क्वेश्चन पेपर भेजने की शुरू होगी प्रक्रिया
- यूपी के डिस्ट्रिक्ट में हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट एग्जाम के क्वेश्चन पेपर भेजने की प्रक्रिया 15 जनवरी से शुरु होगी और 25 जनवरी के अंदर इसे पूरा कर लिया जाएगा।
- क्वेश्चन पेपर को हर डिस्ट्रिक्ट के विभिन्न कोषागारों में डबल लाख के अंदर रखा जाएगा और एग्जाम के 1 दिन पहले या सेम डे एग्जाम सेंटर की दूरी के मुताबिक उसे सेंटर तक पहुंचाया जाएगा।


प्रैक्टिकल एग्जाम में बंक मारने वाले टीचरों पर होगी कार्रवाई
- हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट बोर्ड के प्रैक्टिकल एग्जाम इन दिनों शुरू है।
- प्रैक्टिकल एग्जाम में सैकड़ों ऐसे टीचर से जो बंक मार रहे हैं ड्यूटी लगने के बावजूद ड्यूटी नहीं कर रहे हैं ऐसे टीचरों के खिलाफ विभाग की ओर से वैधानिक कार्यवाही की तैयारी हो रही है।


क्या कहती है एसटीएफ ?
- एसटीएफ इलाहाबाद के एएसपी प्रवीण सिंह चौहान ने बताया, ''बोर्ड एग्जाम में पेपर आउट कराने वालों और नकल कराने वालों पर हमारी टीम नजर रखेगी।''

- ''एग्जाम सेंटरों से संबंधित सूचनाएं एकत्र की जाएगी और जरुरत पड़ने पर हम वहां रेकी भी कराएंगे। एग्जाम सेंटरों पर एसटीएफ टीम के मेंबर भी लगाए जाएंगे।''

 

क्या कहते हैं यूपी बोर्ड सचिव ?

- माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की सचिव नीना श्रीवास्तव  का कहना है, '' नकलविहीन एग्जाम कराना विभाग और शासन  दोनों  की मंशा है। इसके लिए शासन स्तर पर इसकी रूपरेखा तैयार हो चुकी है।''

- ''प्रदेश के सभी निर्धारित 8540 एग्जाम सेंटरों के व्यवस्थापकों को सभी तैयारी तत्काल पूरी करने की हिदायत से संबंधित लेटर जारी किया जा चुका है।''

notorious exam centres in up board exam under STF security
15 जनवरी से क्वेश्चन पेपर भेजने की शुरू होगी प्रक्रिया।
prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now