--Advertisement--

वनअधिकारियों की मौजूदगी में ग्रामीणों ने तेंदुए को जिंदा जलाया

तेंदुए ने चार लोगों को जख्मी कर दिया था।

Danik Bhaskar | Dec 23, 2017, 10:05 AM IST
तेंदुए के हमले में चार लोग जख्मी हो गए। तेंदुए के हमले में चार लोग जख्मी हो गए।

प्रतापगढ़. प्रतापगढ़. जिले के बाघराय कोतवाली क्षेत्र बूढ़ेपुर गांव में शुक्रवार ग्रामीणों ने एक तेंदुए को जिंदा जला दिया। तेंदुए के हमले में 4 लोग गंभीर रूप से घायल हो गये। घायल ग्रामीणों ने हास्पिटल में भर्ती कराया गया है। पुलिस और वन विभाग के लोग दिन में उसे पकड़ने के लिए कोशिस करते रहे। लेकिन तेंदुए के एक कुएं में फंस जाने के बाद ग्रामीणों ने उसमें पुआल डालकर उसे जिंदा जला दिया।

-बाघराय थाना क्षेत्र के बूढ़ेपुर गांव निवासी चंदन यादव का बेटा सुबह 10 बजे अपना खेत में आलू देखने गया था। इस दौरान उसे वहां एक तेंदुआ दिखाआ दिया। तेंदुए ने पंजा मारकर उसे जख्मी कर दिया। इस पर वह शोर मचाते हुए गांव की तरफ भागा। तेंदुए की सूचना मिलते ही ग्रामीण लाठी, डंडे सहित अन्य हथियारों के साथ खेत में पहुंच गए।
--इसी दौरान झाड़ियों में छिपा तेंदुआ भागते हुए एक कुएं में जा गिरा। जब ग्रामीणों को तेंदुए के कुएं में गिरने की जानकारी हुई, तो वहां पहुंचे लोगों ने पहले कुएं में पुआल डालकर उसमें आग लगा दी। इस बीच मौके पर वन विभाग के अधिकारी भी मौजूद थे।

मौके पर पहुंची वन विभाग की टीम


-सूचना पर वनकर्मी और पुलिस भी पहुंच गई। वनकर्मी लोगों को समझाने का प्रयास कर रहे थे। ग्रामीणों ने कुएं में ढेर सारा पुआल डाला और आग लगा दी। हालांकि वन विभाग ने अभी तक तेंदुए के मौत की पुष्टि नहीं की है।