--Advertisement--

मेजर सरकार को दी गई श्रद्धांजलि, द्वितीय विश्वयुद्ध, 1947-48 और 1962 की जंग में लिया था भाग

मेजर साहब ने द्वितीय विश्वयुद्ध, 1947-48 और 1962 भारत-चीन युद्ध में भाग लिया था।

Danik Bhaskar | Jan 23, 2018, 02:56 PM IST
रविवार को मेजर का निधन हो गया थ रविवार को मेजर का निधन हो गया थ

इलाहाबाद. मेजर (रिटायर्ड) एफकेके सरकार का 101 साल की उम्र में निधन हो गया। उन्हें इलाहबाद में श्रद्धांजलि देने के बाद राजपुर के ग्रेवयार्ड में दफनाया गया। उन्हें सैन्य अफसरों ने आखरी सलामी दी। आपको बता दें कि रविवार को उनका निधन हो गया था।

-द्वितीय विश्वयुद्ध, 1947-48 और 1962 भारत-चीन युद्ध में भाग लिया था। मेजर सरकार का जन्म अविभाजित बांग्लादेश में हुआ था। वे 101 साल की उम्र में भी अपना काम खुद करने पर भरोसा रखते थे। परिवार के अनुसार, उनकी तंदुरुस्ती का राज योग था। वह प्रतिदिन योगा करते थे।
-उन्होंने 95 की उम्र में अपने जीवन पर आधारित एक किताब लिखी थी। सेना से रिटायर होने के बाद वह इलाहाबाद में डायमंड जुबली छात्रावास के पास रहते थे. उन्हें दो बेटे और एक बेटी हैं।
-उन्होंने अपने कैरियर की शुरुआत असम रेजीमेंट की द्वितीय बटालियन से शुरू की थी। वह देश भर में नेशनल कैडेट कोर की स्थापना करने वाले अफसरों में से एक थे।

95 साल की उम्र में लिखी किताब

- मेजर साहब ने 95 साल की उम्र में अपने जीवन पर आधारित एक किताब लिखा थी। इस किताब का नाम 'द मेमोरियस ऑफ ए सोल्जर' लिखी थी।
-मेजर साहब के दो बेटे व एक बेटी है। मेजर साहब का बड़ा बेटा राजीव सरकार कनाडा में इंजीनियर हैं।